‘शादी में जरूर आना’ में कहानी ने नहीं कलाकारों ने दिखाया है दम

ब्यूरो,अमर उजाला,वाराणसी Updated Fri, 10 Nov 2017 11:49 PM IST
varanasi public review of shaadi me zaroor aana
shaadi mein zaroor aana
विनोद बच्चन की फिल्म ‘शादी में जरूर आना’ तनू वेड्स मनु जैसा जादू नहीं चला पाई। हालांकि कलाकारों ने पूरा दम दिखाया। राजकुमार राव, कृति खरबंदा और गोविंद नामदेव की फिल्म ‘शादी में जरूर आना’ शुक्रवार को रिलीज हुई। पहले दिन का रिस्पांस सामान्य रहा।

दर्शकों का कहना था कि कहानी थोड़ी बोरिंग है लेकिन कलाकारों का अभिनय शानदार रहा। उनका कहना है कि दहेज प्रथा और लिंग असमानता पर बनी इस फिल्म की कहानी कोई नई नहीं है। फिल्म की शुरुआत तो अच्छी थी लेकिन बाद में वो दर्शकों को बांधे नहीं रह सकी।

सिगरा निवासी साकेत कुमार ने अपने दोस्तों के साथ ये फिल्म देखी। उनका कहना था कि विनोद बच्चन तनु वेड्स मनु इससे ज्यादा बेहतर थी। कहानी नई थी लेकिन इस फिल्म का थीम बहुत पुराना है।

हां, ये जरूर है कि इस फिल्म से आईएएस की जिंदगी को जानने का मौका जरूर मिला। आईपी सिनेमा के मैनेजर अर्पित यादव का कहना है कि पहले दिन का रिस्पांस इस फिल्म का सामान्य ही रहा।
 

Spotlight

Most Read

Meerut

दो सगी बहनों से साढ़े चार साल तक गैंगरेप, घर लौट आई एक बेटी ने सुनाई आपबीती

दो बहनों का अपहरण कर तीन लोगों ने साढ़े चार वर्ष तक उनके साथ गैंगरेप किया। एक पीड़िता आरोपियों की चंगुल से निकल कर घर लौट आई। उसने परिवार को आपबीती सुनाई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी के इस दरोगा ने दी पूरी कानून व्यवस्था को चुनौती

वाराणसी के चौक थाने में तैनात इंस्पेक्टर अशोक सिंह का यह वीडियो पूरे पुलिस महकमें पर सवाल खड़ा कर रहा है। पूरा मामला दालमंडी में अवैध बेसमेंट निर्माण के खुलासे से जुड़ा है। जहां अशोक सिंह पूरी कानून व्यवस्था को ही चुनौती देते दिख रहे है।

21 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper