वाराणसी में मामला गरमः कैंट सीट पर सपा-कांग्रेस प्रत्याशी आमने-सामने

ब्यूरो,अमर उजाला,वाराणसी Updated Fri, 17 Feb 2017 01:57 PM IST
sp and cogress candidate fight election from varanasi cantt assembly seat
रीबू ने दावा किया, सीएम अखिलेश यादव के निर्देश पर किया नामांकन - फोटो : अमर उजाला
वाराणसी में सपा-कांग्रेस गठबंधन को झटका लगा है। सपा नेत्री रीबू श्रीवास्तव ने गुरुवार को पार्टी के सिंबल के साथ कैंट सीट से नामांकन कर राजनीतिक हलचल बढ़ा दी है। बदले समीकरण से सपा और कांग्रेस के पदाधिकारी सकते में हैं।
अहम बात यह है कि सपा और कांग्रेस जिलाध्यक्ष को रीबू के नामांकन करने के बाद इस बारे में पता चला। रीबू को सपा ने किन परिस्थितियों में टिकट दिया, यह चर्चा का विषय बना हुआ है।
सपा की जिला इकाई प्रदेश नेतृत्व के निर्देश का इंतजार कर रही है। निर्देश के बाद पार्टी रीबू के  चुनाव प्रचार उतरेगी। रीबू अगर मैदान में डटी रहीं तो सपा के दो फाड़ होने की आशंका भी है। 
सपा-कांग्रेस गठबंधन के तहत वाराणसी में पिंडरा, कैंट, उत्तरी और दक्षिणी सीट कांग्रेस और अन्य चार सीटें सपा को दी गई थीं। सभी प्रत्याशियों ने नामांकन भी कर दिया है। कैं ट सीट से कांग्रेस के अनिल श्रीवास्तव ने नामांकन किया है। गठबंधन के पूर्व कैंट सीट से सपा ने रीबू को टिकट दिया था।

बाद में उनका टिकट काट दिया गया। रीबू गुरुवार दोपहर करीब दो बजे अपने समर्थकों के साथ नामांकन करने पहुंचीं। नामांकन के दौरान उन्होंने पार्टी का सिंबल भी लगाया।

नामांकन के बाद उन्होंने कहा कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर उन्होंने नामांकन किया है। उन्होंने कहा- सपा-कांग्रेस गठबंधन में कई सीटों पर दोनों दलों के प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। 
आगे पढ़ें

आजम खान व अहमद हसन ने दिलाई टिकट

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Lucknow

गोरखपुर उपचुनाव के लिए सपा ने घोषित किया उम्मीदवार, पीएनबी घोटाले पर अखिलेश का तंज

11 मार्च को होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए गोरखपुर से प्रवीण निषाद सपा के उम्म्दीवाद होंगे।

18 फरवरी 2018

Related Videos

यूपी के इस जिले में पकड़ा गया 15 हजार में 10वीं पास करा देनेवाला गिरोह

सीएम आदित्यनाथ योगी चाहे जितनी भी कोशिश कर लें पर लगता है कि यूपी में नकल माफिया सुधरनेवाला नहीं। वाराणसी से सटे चंदौली में पुलिस ने ऐसे ही नकल माफिया का भंडाफोड़ किया है जो 15 हजार रुपये में यूपी बोर्ड के पेपर सॉल्व करने का ठेका लिया करता था।

18 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen