बलात्कार के दोषी चाचा-भतीजा को आठ-आठ साल की कैद

Varanasi Bureau Updated Fri, 08 Dec 2017 12:22 AM IST
सोनभद्र। अपर सत्र न्यायाधीश एफटीसी संतराम की अदालत ने गुरुवार को नाबालिग बालिका के साथ बलात्कार के मामले में दोष सिद्ध पाकर चाचा-भतीजा को आठ-आठ साल का सश्रम कारावास एवं 17-17 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई।
एडीजीसी क्रिमिनल कुंवर वीर प्रताप सिंह के मुताबिक कोतवाली के एक गांव निवासी व्यक्ति ने 16 फरवरी 2011 को दी गई तहरीर में आरोप लगाया था कि 14 फरवरी 2011 को सायं सात बजे उसकी तेरह वर्षीय नाबालिग बेटी शौच के लिए गई थी। लेकिन वह वापस नहीं लौटी। खोजबीन पर भी उसका पता नहीं चला। छोटई, उसके भाई रामकरन एवं उसका भतीजा राजेश ने हैंडपंप रिबोर होने को लेकर हुए विवाद के दौरान यह धमकी दी थी कि तुम्हारी बेटी को उठा ले जाएंगे। इसी बीच बेटी लापता हो गई। शक होने पर जब छोटई से बेटी के लापता होने के बारे में पूछा तो गाली देने लगा। कहा कि तुम्हारी बेटी कभी वापस नहीं आएगी। इस मामले में कोतवाली पुलिस ने अपहरण एवं बलात्कार का केस दर्ज किया। विवेचना के दौरान 17 फरवरी 2011 को पुलिस ने लड़की को दो लोगों के साथ बरामद किया। उसके बाद पर्याप्त सबूत पाए जाने पर न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किया। इसी बीच रामकरन की मौत हो गई। मामले की सुनवाई के दौरान अदालत ने दोष सिद्ध पाए जाने पर चाचा छोटई एवं भतीजा राजेश को सजा सुनाई।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

तेज धमाके के बाद खुला दिल्ली की 150 फुट लंबी सुरंग का राज, ये थी बनाए जाने की वजह

राजधानी दिल्ली के द्वारका में 150 फुट लंबी सुरंग मिलने से सनसनी मच गई है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: राब‌र्ट्सगंज में निकली शोभायात्रा, जमकर थिरके श्रद्धालु

सोनभद्र जिले के राब‌र्ट्सगंज अंबेडकर नगर स्थित कड़े शीतला माता के 7वें स्थापना दिवस पर शोभ यात्रा निकाली गई। ये शोभा यात्रा सुबह 10.30 बजे मंदिर से निकलकर अंबेडकर नगर, सिनेमा हाल रोड, पन्नूगंज रोड और पकरी नहर से होते हुए वापस मंदिर जा पहुंची।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls