विवाहिता की निर्मम हत्या

ब्यूरो/अमर उजाला, सहारनपुर Updated Thu, 01 Dec 2016 12:32 AM IST
Married assassination
मृतक - फोटो : ब्यूरो
सहारनपुर के नकुड़ के गांव सढ़ौली में दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर ससुरालियों ने विवाहिता की पीट-पीटकर निर्मम हत्या कर दी। मृतका के पिता ने पति, सास और ससुर सहित पांच लोगों को नामजद करते हुए दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। 
कोतवाली बेहट के गांव जसमौर निवासी शंकर ने कोतवाली में दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि उसकी 25 वर्षीय पुत्री मिथलेश की शादी करीब तीन वर्ष पूर्व गांव सढ़ौली निवासी देशराज के पुत्र विपिन के साथ हुई थी।

शादी के बाद से ही ससुराल वाले दहेज की मांग करते आ रहे थे। आए दिन उसकी पुत्री की पिटाई करते थे। 29 नवंबर मंगलवार की शाम भी मिथलेश की पिटाई की गई।

शंकर ने बताया कि इसकी सूचना उसकी बेटी ने मोबाइल से उसे दी थी। सूचना मिलते ही उसने अपनी दोनों बेटियां सुनीता, ममता तथा उनके पतियों को मिथलेश को लेने रात में ही सढ़ौली भेज दिया था, लेकिन ससुरालियों ने बुधवार की सुबह उनकी मौजूदगी में फिर झगड़ा शुरू कर दिया।

साथ ही मिथलेश के सिर पर लाठियों से कई वार किए। गंभीर रूप से घायल विवाहिता ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। मृतका के पिता शंकर ने पति, दो देवर तथा सास-ससुर को नामजद कर दहेज हत्या की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई है। 

कोतवाली प्रभारी ने बताया कि नामजद फरार हो गए हैं उनकी तलाश में दबिश दी जा रही है। मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है।

Spotlight

Most Read

Dehradun

ढ़ाबे पर हो रहा था गलत काम, अब ये भुगतेंगे अंजाम

एक ढ़ाबे पर लंबे समय से गलत काम हो रहा था। सूचना पर पुलिस ने छापा मारा तो वहां गलत काम होता मिला।

25 फरवरी 2018

Related Videos

सहारनपुर की इस लड़की ने 8वीं में छोड़ा स्कूल, क्रिप्टो एप बना मनवाया लोहा

आईओस प्लेटफॉर्म पर क्रिप्टो एप के जरिए पहचान बनाने वाली हर्षिता अरोड़ा को पूरी दुनिया लोहा मान रही है। शनिवार को अमर उजाला संवाददाता शशांक ने हर्षिता से बातचीत की। इस बातचीत में हर्षिता ने अपनी कामयाबी को सांझा किया।

24 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen