लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Meerut ›   Meerut: Barrier collided with Nauchandi Express, loco pilot prevented accident, negligence of railways

Meerut : रेलवे ट्रैक पर रखा था बैरियर, अचानक आ गई नौचंदी एक्सप्रेस, लोको पायलट की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा

अमर उजाला नेटवर्क, मेरठ Published by: Dimple Sirohi Updated Sat, 25 Jun 2022 12:36 PM IST
सार

मेरठ में दौराला रेलवे स्टेशन के गेट नंबर 35 पर बैरियर बदलने का कार्य चल रहा था। सहारनपुर की ओर से आ रही नौचंदी एक्सप्रेस से बैरियर टकरा गया। ट्रेन की गति धीमी होने के कारण हादसा होने से बच गया।

रेलवे ट्रैक
रेलवे ट्रैक - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

सहारनपुर से चलकर वाया मेरठ, प्रयागराज जाने वाली नौचंदी एक्सप्रेस शुक्रवार को दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बच गई। शाम करीब सात बजे दौराला स्टेशन के गेट नंबर 35 पर बैरियर बदलने का कार्य चल रहा था। बैरियर का एक हिस्सा ट्रैक पर रखा था। सहारनपुर की ओर से आ रही नौचंदी एक्सप्रेस से बैरियर टकरा गया। गनीमत रही कि ट्रेन की गति धीमी थी।



हालांकि, लोको पायलट की सूझबूझ से हादसा टल गया। लोको पायलट ने नाराजगी जताते हुए रेलवे अधिकारियों को इस बारे में जानकारी दी। 
 
यह भी पढ़ें : संकट का सोचें हल: पाताल पहुंचा पानी, मेरठ के नौचंदी और शास्त्रीनगर में 26 मीटर नीचे भूजल


रेलवे अधिकारी यह बोले
जानकारी के अनुसार दिल्ली की ओर फाटक का बैरियर काफी दिनों से खराब था। रेलवे अधिकारियों ने इसे बदलने की बात कही थी। इसी को लेकर प्रक्रिया की जा रही थी।

रेलवे अधिकारियों का कहना है कि गेटमैन सत्यम ने बताया कि वहां से गुजरने वाले किसी आम आदमी ने बैरियर को छेड़कर ट्रैक पर रख दिया। उन्होंने बताया कि गेट पर कार्य होने के चलते ट्रेनों को कम गति और सावधानी से गुजारने का अलर्ट पहले ही जारी किया हुआ था। हालांकि, इतनी बड़ी लापरवाही पर बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं। इस मामले में रेलवे अधिकारियों ने गंभीरता से संज्ञान ले लिया है। 

कई स्थानों पर कार्य के दौरान लापरवाही
इससे पहले भी कई स्थानों पर लापरवाही बरती गई है। गैंगमेन आदि इंजीनियरिंग स्टॉफ ट्रैक पर कार्य करते समय कुछ उपकरण को रखकर लापरवाह हो जाता है। ऐसे में बड़ा हादसा हो सकता है।

कई हादसे होने के बाद भी रेलवे कर्मचारी सुध नहीं ले रहे हैं। दौराला स्टेशन पर भी जनता को आगे आकर खुद का बचाव करना पड़ रहा है। कार्य करते समय अगर बैरियर ट्रैक पर रखा है तो रेलवे कर्मचारी ध्यान नहीं दे रहे हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00