बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

कानपुर में हाई अलर्ट, जाजमऊ इलाके का रहने वाला था मारा गया आतंकी सैफुल्ला

टीम डिजिटल, अमर उजाला, कानपुर Updated Wed, 08 Mar 2017 02:45 PM IST
विज्ञापन
डेमो पिक
डेमो पिक
ख़बर सुनें
राजनधानी लखनऊ के बाहरी इलाके ठाकुरगंज में मारा गया आईएसआईएस आतंकी सैफुल्ला कानपुर का रहने वाला था। इससे पहले कानपुर से दो और लड़कों को गिरफ्तार किया जा चुका है। सैफुल्ला के जाजमऊ इलाके में बने घर में पुलिस की टीमें दबिश देने पहुंच चुकी हैं। यहां से दहशत फैलाने से जुड़े कई और खुलासे होने की आशंका जताई जा रही है।  यूपी एटीएस के मुताबिक आतंकी सैफुल्ला आईएसआईएस के खुरासन माड्यूल का सदस्य था। कानपुर शहर में हाई अलर्ट कर दिया गया है। कानपुर में पकड़े गए इमरान और फैजल खां के पास से आईएसआईएस से जुड़े होने के कई सुबूत मिले हैं।
विज्ञापन
एटीएस ने दो लैपटॉप बरामद क‌िए हैं। इसमें बम बनाने के वीडियो के अलावा आईएसआईएस का लिट्रेचर भी मिला है। पुलिस का दावा है कि ये आतंकी लखनऊ के आसपास 27 मार्च के बाद बड़े धमाके के प्लान में थे। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर दलजीत चौधरी ने बताया कि कई और स्थानों पर आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली है।एटीएस के साथ एसटीएफ की टीम को भी इस ऑपरेशन में लगा दिया गया है। अजहर नाम का संदिग्ध कानपुर में पुलिस की दबिश से पहले फरार हो गया, उसके लिए अलर्ट जारी किया गया है। लखनऊ का आतंकी और उन्नाव के बंथरा से पकड़े गए इमरान काफी करीबी हैं। इमरान सोमवार को भोपाल और मंगलवार सुबह लखनऊ से शहर लौटा था। सूत्रों की मानें तो एटीएस, पुलिस और खुफिया से पूछताछ में इमरान और उसके भाई फैसल ने सिमी और आईएसआईएस से जुड़े लोगों से रिश्ते होने की बात कबूली है।
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X