बैली ब्रिज हो रहा अनदेखी का शिकार

Hamirpur Updated Tue, 08 May 2012 12:00 PM IST
जाहू (हमीरपुर)। हमीरपुर और मंडी जिला को जोड़ने वाला बैली ब्रिज हमेशा अनदेखी का शिकार होता रहा है। पुल के उद्घाटन के बाद न तो विभाग ने पुल की सुध ली। इससे राहगीरों को भारी परेेशानी का सामना करना पड़ता है।
पुल के सिंगल होने से यहां वाहनों को जमाबड़ा लगा रहता है। पुल के दोनाें और 19 टन तक के वाहनों को ही निकलने के निर्देश बोर्ड लगा रखे हैं। लेकिन वाहन चालक भारी भरकम वाहनों ओवर लोडिड वाहनों को यहां से निकाल रहे हैं। इससे कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। यहां तक कि सड़क निर्माण कार्य में लगे ठेकेदारों के वाहन भी नियमों को दरकिनार कर पुल से गुजरते हैं। प्रशासन और संबंधित विभाग ने इन्हें आज दिन तक रोकने का प्रयास नहीं किया है।
मेवा कांग्रेस नेता सुरेश कुमार, हिमाचल यूनियन के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र ठाकुर, जाहू पंचायत के उप प्रधान बिहारी लाल, पूर्व उप प्रधान बलदेव ठाकुर, पूर्व प्रधान प्रकाश चंद, सुलपुर पंचायत के प्रधान अर्जुन सिंह, भोरंज भाजयुमो के सचिव अलोक सागर, पूर्व डीसी प्रीतम चंद, भोरंज भाजपा सचिव अजीत सिंह ने लोक निर्माण मंत्री ठाकुर गुलाब सिंह से मांग की है कि सरकार इस पुल की सुध ले। बड़ी दुर्घटना को होने से पहले ही रोका जा सके गा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: हमीरपुर में इस वजह से एक साथ 30 से ज्यादा बच्चे बीमार

हमीरपुर के थाना कुरारी में एक सरकारी स्कूल के तीस से ज्यादा बच्चों की हालत बिगड़ने के बाद उन्हें सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

18 जनवरी 2018