अमनमणि के करीबियों पर टिकीं सीबीआई की निगाहें

अमर उजाला ब्यूरो, गोरखपुर। Updated Sat, 14 Jan 2017 12:50 AM IST
CBI reached Gorakhpur for the enquiry of Sara murder case
अमनमणि - फोटो : amar ujala
पूर्व मंत्री सजायाफ्ता अमरमणि त्रिपाठी के बेटे अमन मणि त्रिपाठी की पत्नी सारा की मौत की गुत्थी सुलझाने के लिए सीबीआई ने जिले में डेरा डाल दिया है। तीन सदस्यीय टीम गोरखपुर से लेकर महराजगंज तक अमन के जानने वालों से पूछताछ कर रही है। जांच के दायरे में कई पुलिस वाले भी आ गए हैं, जो अमन के मददगार बने थे।
नौ जुलाई 2015 को दिल्ली जाते समय सारा की कथित सड़क हादसे में मौत हो गई थी। सारा की मां ने हत्या का आरोप लगाया था। पुलिस ने अमन मणि त्रिपाठी को इस मामले में गिरफ्तार किया था। अमन इस समय जेल में हैं। इस प्रकरण की जांच सीबीआई कर रही है। जांच के दौरान ही सीबीआई को पता चला कि सारा की मौत से पांच दिन पहले उसके मोबाइल की कॉल डिटेल गोरखपुर से ही निकाली गई थी। इसके बाद ही सीबीआई ने गोरखपुर पहुंचकर जांच शुरू कर दी। अब तक की जांच में सामने आया है कि सर्विलांस सेल के पुलिसकर्मी ने अमन को कॉल डिटेल उपलब्ध कराई थी। उसने इसके लिए राजघाट के थानेदार के फर्जी हस्ताक्षर का भी इस्तेमाल किया था।

आरोपी पुलिसकर्मी से भी पूछताछ की गई है। इसके साथ ही अमन के मददगार दोस्त, रिश्तेदार और उसके करीबियों से पूछताछ की जा रही है। अमन को जानने वाले दोस्तों के नौकरों तक से सीबीआई पूछताछ कर सकती है ताकि सारा की मौत का सच सामने आ सके। सीबीआई की टीम 20 जनवरी तक गोरखपुर, महराजगंज में रहेगी। पुलिस लाइंस से उन्हें तीन गाड़ियां उपलब्ध कराई गई है।

Spotlight

Most Read

Meerut

महिला टीचर की अश्लील फोटो फेसबुक पर वायरल, हिरासत में आरोपी

कोतवाली क्षेत्र की रहने वाली शिक्षिका के अश्लील फोटो एक युवक ने फेसबुक पर वायरल कर दिया। मामला दो समुदाय का होने के कारण क्षेत्र में तनावपूर्ण स्थिति बनी गई।

17 फरवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बस्ती के बेहिल मेले में हुआ ब्लास्ट, बच्ची के उड़े चिथड़े

बस्ती के बेहिल धाम मेले में महाशिवरात्रि के दिन एक भयानक हादसा हुआ।

13 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen