सड़क पर ‘कब्जा’

Ghaziabad Updated Wed, 02 May 2012 12:00 PM IST
दिल्ली-सहारनपुर मार्ग पर दूसरे दिन भी डटे रहे पंचवटी कालोनी के लोग
रात साढ़े दस बजे खोला जाम
बगैर नोटिस काटा था बिजली कनेक्शन

लोनी। दिल्ली से बिजली आपूर्ति की मांग को लेकर मंगलवार को भी दिल्ली-सहारनपुर मार्ग सारा दिन पंचवटी कालोनी के लोगों के कब्जे में रहा। पुलिस ने सुबह से वाहनों का रूट डायवर्ट कर दिया, जबकि स्टूडेंट्स और बॉर्डर क्षेत्र की कालोनियों के हजारों लोग पैदल ही आवागमन करते दिखे। रात करीब साढ़े दस बजे लोगों ने जाम खोला।
समस्या के समाधान के लिए कालोनी के प्रतिनिधिमंडल और दिल्ली के एसडीएम, एसीपी एवं बीएसईएस अफसरों के साथ वार्ता चली जो बेनतीजा रही। दिल्ली के अधिकारी कालोनी को यूपी के अंतर्गत बता रहे हैं, जबकि कालोनी के लोग दिल्ली सीमा में होने का दावा कर रहे हैं। बता दें कि दिल्ली-यूपी सीमा पर बसी पंचवटी कालोनी में करीब दो हजार विद्युत उपभोक्ताओं को आठ वर्षों से दिल्ली की विद्युत आपूर्ति की जा रही थी। जिसे सोमवार को बिना किसी नोटिस के काट दिया गया था। इसके विरोध में कालोनी के हजारों लोगों ने सोमवार शाम से रात तक मार्ग पर जाम लगाए रखा।

वार्ता बेनतीजा
दोपहर 2.30 बजे पंचवटी कालोनी निवासी राजकुमार फौजी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल सीमा पुरी के एसडीएम कमलदीप गुप्ता से वार्ता करने उनके नंदनगरी ऑफिस पहुंचा। वहां गोकुलपुरी के एसीपी रामसिंह, बीएसईएस के डीजीएम प्रेमसिंह और पूर्व पार्षद ईश्वर सिंह बागड़ी के समक्ष वार्ता शुरू हुई। प्रतिनिधि मंडल ने कहा कि उनकी कालोनी दिल्ली में आती है। उनके वोटर आईडी, राशन कार्ड आदि दिल्ली के हैं और आठ वर्षों से उनके विद्युत कनेक्शन भी दिल्ली से जुडे़ हैं। एसडीएम ने कहा कि कॉलोनी की डिमार्केशन करने के बाद सीमा विवाद का निस्तारण होगा। बीएसईएस के डीजीएम प्रेमसिंह ने उच्चाधिकारियाें के आदेश के बिना विद्युत सप्लाई जोड़ने से इंकार कर दिया। इसके बाद प्रतिनिधि मंडल ने देर शाम तक डीसी केएल गर्ग से वार्ता की। डीसी ने मामला अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर का बताते हुए पल्ला झाड़ लिया। हालांकि उन्होंने कालोनी में पेयजल आपूर्ति के लिए टैंकर भेजकर बुधवार को दोबारा वार्ता का आश्वासन दिया है।

डाक्यूमेंट बताए फर्जी
दिल्ली में विद्युत आपूर्ति करने वाली कंपनी बीएसईएस के प्रवक्ता ने बताया कि वर्ष 2008 में दिल्ली में विधान सभा चुनाव के बाद, हारेे उम्मीदवारों ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका डाली थी। जिसमें पंचवटी कालोनी को यूपी की बताते हुए उनके द्वारा बनवाएं वोटर आईडी कार्ड आदि को फर्जी बताया था। जांच के बाद डाक्यूमेंट फर्जी निकले तो पंचवटी कालोनी के हजारों वोटर आईडी कार्ड निरस्त कर दिए गए थे। इसी के चलते कालोनी की िबजली काटी गई है।

रूट किया डायवर्ट
थाना प्रभारी ब्रजमोहन यादव ने बताया कि मंगलवार सुबह जाम के बाद दिल्ली जाने वाले वाहनों को गाजियाबाद मार्ग से भौपुरा की ओर डायवर्ट किया गया। कुछ ट्रैफिक सोनिया विहार और खजूरी पुस्ता की ओर से भी निकाला गया।
...तो जारी रहेगा आंदोलन
पंचवटी कालोनीवासियों के प्रतिनिधि मंडल का नेतृत्व कर रहे राजकुमार फौजी का कहना है कि जब तक समस्या का समाधान नहीं होगा जाम जारी रहेगा।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: जब पुलिस की ‘दबंगई’ पर भारी पड़ी युवती की बहादुरी

गाजियाबाद के थाना मसूरी क्षेत्र में पुलिस की दबंगई का एक युवती ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls