बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

बिजली चोरी रोकने को रात में गश्त करेंगे अफसर

Updated Sun, 04 Jun 2017 12:08 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
बिजली चोरी रोकने को रात में गश्त करेंगे अफसर
विज्ञापन

- पुलिस की तरह रात में गश्त कर बिजली चोरी रोकने की विद्युत विभाग बना रहा प्लानिंग
अमर उजाला ब्यूरो
फिरोजाबाद। अब बिजली चोरी रोकने के लिए विद्युत विभाग के अधिकारी रात में गली-मोहल्लों में गश्त करेंगे। कटिया डालकर अथवा बिना कनेक्शन बिजली का प्रयोग करने वालों की वीडियोग्राफी करा एफआईआर दर्ज कराई जाएंगी।
प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद जनता को रोस्टरिंग के मुताबिक बिजली देने और चोरी रोकने के लिए रणनीति बनाई जा रही है। प्रथम चरण में शासन द्वारा सर्वदा योजना लागू की गई। इसमें बिजली चोरी करने वालों को अंतिम मौका दिया गया। योजना 15 जून को समाप्त होगी। वहीं दूसरी ओर शासन ने प्रदेश में बिजली थाने खुलवाने की कवायद शुरू की है। प्रत्येक जनपद में विद्युत विभाग को अपना अलग थाना होगा। इसमें बिजली चोरी एवं बकायेदारों के सीधे एफआईआर दर्ज होंगी। वहीं अब विद्युत विभाग बिजली चोरी रोकने को पुलिस विभाग की तरह रात में गश्त करने की योजना बनाई जा रही है। गश्त की जिम्मेदारी विभाग के एक्सईएन, एसडीओ, अवर अभियंताओं की होगी। रात में ऐसे क्षेत्रों में गश्त होगी जहां, लाइन लॉस अधिक है।


बाक्स--
रात में गश्त के दौरान सुरक्षा को लेकर अफसर चिंतित
विद्युत विभाग द्वारा एक ओर बिजली चोरी रोकने के लिए रात में गश्त करने की योजना बनाई जा रही है। वहीं दूसरी ओर विभाग के अफसर सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। उनका कहना है कि दिन में चेकिंग के समय आए दिन टीमों के साथ अभद्रता और मारपीट होती है। थानों में रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद भी दोषियों पर कोई कार्रवाई नहीं होती है।

जनपद में बिजली चोरी रोकने को लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इसके बावजूद बिजली चोरी पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। अत: विद्युत विभाग द्वारा बिजली चोरी रोकने को टीमों द्वारा रात में गश्त की जाएगी। गश्त के दौरान बिजली चोरी करने वालों की वीडियोग्राफी करा एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।
वाई.पी. सिंह
अधीक्षण अभियंता

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us