अधिक पैदावार से मालामाल होंगे अमरूद के बागवान

अमर उजाला ब्यूरो कौशाम्बी Updated Thu, 09 Nov 2017 01:20 AM IST

मंझनपुर। अमरूद की बागवानी करने वाले दोआबा के बागवान इस साल अधिक पैदावार से मालामाल होंगे। पिछले साल की तुलना में इस वर्ष प्रति हेक्टेयर डेढ़ से दो मीट्रिक टन उत्पादन बढ़ने की उम्मीद है। पेड़ों में अच्छे व स्वस्थ फलों को देख बेहतर कमाई की उम्मीद को लेकर बागवान गदगद हैं।
अपने स्वाद और खुशबू के दम पर दोआबा का अमरूद हमेशा से सुर्खियों में रहा है। जायके से भरपूर दोआबा का सुरखा कश्मीर के सेब को मात देने में पीछे नहीं रहता है।

दूसरे नंबर पर प्रमुख अमरूद सफेदा के नाम से जाना जाता है। जिले में इस साल लगभग 12 सौ हेक्टेयर भूमि पर अमरूद की बागवानी की गई है। इस वक्त यहां का अमरूद देश की मंडियों में अपने जायके से लोगों को लुभाने के लिये तैयार है। बागवानों ने अमरूद की सप्लाई प्रदेश के अलावा देश के  विभिन्न प्रांतों की प्रमुख मंडियों में करना शुरू करा दिया है।

बागवानों की मानें तो इस साल फल अच्छे आने से उनकी कमाई में इजाफा होना तय है। मिर्दहन का पूरा निवासी बागवान आमिर का कहना है कि पिछले साल की तुलना में इस बार डेढ़ से दो मीट्रिक टन प्रति हेक्टेयर पैदावार अधिक होने के आसार हैं। बढ़ी पैदावार से किसानों को अमरूद से भारी मुनाफा होना तय है। इसे लेकर बागवानों के चेहरे खिले हुए हैं।

Spotlight

Most Read

National

पश्चिम बंगाल में निर्भया कांड, दो सर्जरी के बाद बची पीड़िता की जान

पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर में एक निर्भया कांड जैसा मामला सामने आया है।

20 फरवरी 2018

Related Videos

कौशलेंद्र और मनीष ने भरा पर्चा, माफिया अतीक ने भी ठोकी ताल

इलाहाबाद की फूलपुर सीट के लिए हो रहे लोकसभा उपचुनाव को लेकर कलक्ट्रेट में मंगलवार को काफी गहमागहमी रही। बीजेपी के कौशलेंद्र सिंह पटेल और कांग्रेस के मनीष मिश्र ने दावेदारी ठोकी। दोनों प्रत्याशी पार्टी के दिग्गज नेताओं के साथ नामांकन करने पहुंचे।

20 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen