बिजली विभाग की जानलेवा लापरवाही

Allahabad Updated Fri, 06 Jul 2012 12:00 PM IST
भूमिगत केबिल कटने से पेयजल पाइप लाइन में आया करेंट
क्षतिग्रस्त पाइप को दुरुस्त करने को गड्ढा खोद रहा कर्मी आया चपेट में
बिजली की लाइन ट्रिप होने से बनी जान, कर्मचारी बदहवास
इलाहाबाद। बिजली विभाग की लापरवाही से बृहस्पतिवार को सोहबतियाबाग में जलकल विभाग का एक कर्मचारी बड़े हादसे का शिकार हो जाता। भूमिगत केबिल कटने से पेयजल लाइन में करेंट आ गया। इससे वहां काम कर रहा कर्मचारी करेंट की चपेट में आ गया। गनीमत रही कि तत्काल बिजली की लाइन ट्रिप हो गई वरना कर्मचारी की जान भी जा सकती थी। बिजली विभाग सोहबतियाबाग में जमीन के नीचे केबिल बिछा रहा है। इसके लिए सड़क को ड्रिल किया जा रहा है। मशीन से सड़क में ड्रिल करने के कारण उधर से गुजर रही पेयजल की मुख्य लाइन कई जगह से क्षतिग्रस्त हो गई। इससे सोहबतियाबाग में पेयजल संकट खड़ा हो गया। निवर्तमान पार्षद कमलेश सिंह सहित स्थानीय लोगों की शिकायत के बाद बृहस्पतिवार को जलकल विभाग का कर्मचारी लल्ला क्षतिग्रस्त पाइप को दुरुस्त करने के लिए मौके पर पहुंचा। लीकेज वाली जगह पर गड्ढा खोदने के लिए लल्ला ने जैसे ही फावड़ा चलाया, वह करेंट की चपेट में आ गया। इससे वहां हड़कंप मच गया। गनीमत रही कि उसी वक्त बिजली की लाइन ट्रिप कर गई। साथ गए कर्मचारियों ने बदहवास लल्ला को बाहर निकाला। इसके बाद अधिशासी अभियंता बीबी सिंह को मामले की जानकारी दी। श्री सिंह भी मौके पर पहुंचे।सड़क पर ड्रिल करने से पहले से बिछा केबिल भी क्षतिग्रस्त हो गया है जिसकी वजह से पाइप में करेंट उतर आया। उन्होंने बताया कि क्षतिग्रस्त केबिल तत्काल हटाने के लिए शुक्रवार को बिजली विभाग को पत्र लिखा जाएगा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

इलाहाबाद में चल रहे माघ मेले में लगी आग, कई टेंट जलकर हुए खाक

इलाहाबाद में चल रहे माघ मेले में रविवार दोपहर आग लगने से दहशत फैल गयी। माना जा रहा है कि आग दीये से लगी। फायर बिग्रेड की टीम ने किसी तरह आग पर काबू पाया। आग से कई टेंट जलकर खाक हो गए वहीं इस हादसे में कोई व्यक्ति हताहत नहीं हुआ।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls