पटना से आगरा तक दहशत में रही मासूम

विज्ञापन
Updated Wed, 19 Jul 2017 12:03 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
मथुरा। पटना से आगरा तक दरिंदे की दहशत में रही है यह मासूम। मुंह खोलने पर चलती ट्रेन से फेंकने की धमकी देता रहा। घबराई किशोरी किसी से मदद भी नहीं मांग पा रही थी। टॉयलेट में किशोरी से दुष्कर्म करने के बाद वह दरिंदा ट्रेन में किशोरी के पास जाकर ही बैठ गया।
विज्ञापन


जैसे ही वह निगाह ऊपर करती धमका देता। जब ट्रेन आगरा पहुंची तो वहां उसे उतारने की कोशिश की लेकिन प्लेटफार्म पर कुछ पुलिस वालों को देखकर वह वहां से भाग निकला।


मां से अनबन के बाद तेरह साल की यह मासूम भूखी प्यासी घर से निकल गई थी। जेब में एक पैसा नहीं था। पटना के रेलवे स्टेशन पर जाकर किसी ठेले वाले से पूछा और मथुरा तक आने वाली ट्रेन में सवार हो गई।

बिहार के झबुआ जिला की रहने वाली इस किशोरी की मौसी वृंदावन की किसी गोशाला में काम करती है। लेकिन कौन सी गोशाला है वह यह नहीं जानती। जिस दरिंदे ने उसके साथ ट्रेन के टॉयलेट में दरिंदगी की थी वह भी इसी ट्रेन में था और माना जा रहा है कि पटना से ही सवार हुआ होगा।

किशोरी ने जो पुलिस को बताया उसके मुताबिक वह शाम को ट्रेन में सवार हुई थी। करीब दो घंटे बाद जब वह टॉयलेट में गई तो पीछे से वह आ गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। उसे खूब पीटा गया। गला घोंटने की कोशिश की। दुराचारी ने किशोरी को धमकाया कि अगर किसी से कहा तो वह उसे ट्रेन से फेंक देगा।

पटना से आगरा तक वह किशोरी के पास ही बैठा रहा। इतना डरा दिया था कि मासूम किसी से कुछ कह नहीं पा रही थी। जब ट्रेन आगरा पहुंची तो दुराचारी ने किशोरी को भी उतारने की कोशिश की। वह उसे बोगी के गेट तक ले भी आया था लेकिन प्लेटफार्म पर पुलिस वालों को देख वह वहां से किशोरी को छोड़कर भाग गया। डरी सहमी मासूम फिर भी किसी से अपने साथ हुई दरिंदगी को बता नहीं पाई। मथुरा आने पर ट्रेन से उतरी और मौसी को तलाशते हुए वृंदावन पहुंच गई। लेकिन मौसी का पता नहीं चल सका है। जीआरपी ने आज उसका मेडिकल परीक्षण कराया है।


अंकल अंकल पुकारती रही पर दरिंदे का दिल नहीं पसीजा

किशोरी बस इतना बता पा रही है कि उसने नीले रंग की जींस पहन रखी थी और काले रंग की टीशर्ट। जब इस दरिंदे के किशोरी को पकड़ा तो वह बार बार अंकल अंकल पुकारकर छोड़ने की गुहार लगाती रही। लेकिन उस वहशी ने उसे पीटना शुरू कर दिया। इतना मारा कि वह कुछ बोल भी नहीं पा रही थी।

पटना जीआरपी को ट्रांसफर होगा मुकदमा

मथुरा। जीआरपी में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया है। जीआरपी इंस्पेक्टर विजय सिंह का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मेडिकल रिपोर्ट के साथ इस मुकदमे को पटना जीआरपी को ट्रांसफर कर दिया जाएगा। पटना पुलिस ही केस की विवेचना करेगी। क्योंकि किशोरी जिस तरह से बता रही है उसके मुताबिक घटना पटना की ही है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X