एप्पल का सबसे पतला और हल्का आइपैड

sachin yadavसचिन यादव Updated Wed, 23 Oct 2013 11:46 AM IST
विज्ञापन
apple launched  ipad air

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
एप्पल ने आइपैड का अब तक का सबसे 'पतला और हल्का' संस्करण आइपैड एयर लॉन्च किया है। कंपनी का दावा है कि ये फुल साइज टैबलेट्स की श्रेणी में सबसे हल्का डिवाइस है।
विज्ञापन

करीब साढ़े नौ इंच (9.7) का ये टैबलेट सिर्फ 0.3 इंच मोटा है और इसका वज़न 0.45 किलोग्राम है।
कंपनी ने आइपैड एयर में ए7 चिप लगाया है जो आइफ़ोन 5एस में भी इस्तेमाल होता है।
आइपैड एयर के अलावा ऐपल ने अपने सात इंच के टैबलेट आइपैड मिनी का भी नया संस्करण लॉन्च किया है। नए आइपैड मिनी में रेटिना डिसप्ले दिया गया है।

ऐपल ने ये उत्पाद बाज़ार में ऐसे समय उतारा है, जब विशेषज्ञ यह कहने लगे थे कि गूगल एंड्रॉयड टैबलेट केटेगरी में ऐपल के आईओएस को पछाड़ने के क़रीब है।

करीब आठ इंच (7।9 इंच) के नए आइपैड मिनी का डिस्पले रेज़ॉल्यूशन बढ़ाकर 2048 x 1536 पिक्सेल कर दिया गया है जिसे रेटिना डिसप्ले कहा जा रहा है।
 
एप्पल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टिम कुक ने कहा है कि इस वक्त 4,75,000 ऐप्स बाजार में हैं, जो आइपैड में चलाए जा सकते हैं।

कीमतें
अमेरिकी बाजार में आइपैड एयर की कीमत 499 डॉलर से शुरू होगी, जबकि न्यू आइपैड मिनी का सबसे सस्ता संस्करण 399 डॉलर में उपलब्ध होगा।

आइपैड एयर एक नवंबर से ही अमेरिकी बाजार में उपलब्ध हो जाएगा जबकि न्यू आइपैड मिनी नवंबर महीने के अंत तक बाज़ार में उतारा जाएगा। हालांकि भारत में ये दोनों डिवाइसेस उपलब्ध होने में कुछ दिन और लग सकते हैं।

समारोह में एप्पल ने ये भी घोषणा की है कि मैक ओपरेटिंग सिस्टम के नए वर्ज़न का अपग्रेड वो यूज़र्स को मुफ्त में उपलब्ध कराएगा।

एप्पल की रणनीति के विपरीत विंडोज़ अपना अपग्रेडेड ऑपरेटिंग सिस्टम 8.1 के फ़ुल वर्ज़न के लिए यूज़र्स से सौ पाउंड वसूल रहा है। उधर लिनक्स भी अपना ऑपरेटिंग सिस्टम उबुंटू मुफ्त में उपलब्ध करा रहा है।

एप्पल ने इस समारोह में नए लैपटॉप समेत कई उपयोगी और मनोरंजक ऐप भी लॉन्च किए। हालांकि कंपनी ने विश्लेषकों के पूर्वानुमान के अनुसार बहुचर्चित टेलिविज़न सेट टॉप बॉक्स नहीं लॉन्च किया।

कंपनी की तरफ से जारी आखिरी वित्तीय सूचना के अनुसार आइपैड ने पिछली तीन तिमाहियों में 25.8 अरब डॉलर का व्यापार किया जो कुल कारोबार का 19 प्रतिशत है

टैबलेट का कारोबार
हालांकि एप्पल ने कबूल किया है कि टैबलेट कारोबार से कंपनी को होने वाली कमाई, टैबलेट की बिक्री की संख्या के अनुपात में नहीं बढ़ रही है। कंपनी का मानना है कि अधिकतर उपभोक्ता आइपैड के महंगे संस्करण खरीदने की जगह आइपैड मिनी और आइपैड 2 जैसे सस्ते संस्करण खरीद रहे हैं।

रिसर्च कंपनी गार्टनर के अनुसार 2012 में निर्यात किए गए कुल टैबलेट्स में 53.9 फीसदी हिस्सा एप्पल के आइओएस ऑपरेटिंग सिस्टम का था।

लेकिन अनुमान लगाए जा रहे हैं कि मौजूदा वर्ष में गूगल का एंड्रॉयड सिस्टम बाज़ार पर 49.6 फीसदी के हिस्से के साथ पहले पायदान पर पहुंच जाएगा।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all Tech News in Hindi related to live news update of latest gadgets News apps, tablets etc. Stay updated with us for all breaking news from Tech and more Hindi News.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us