लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Himachal Pradesh ›   Sandeep kumar and manoj upreti lobbying for post of director himachal electricity board

Himachal News: संदीप शर्मा और मनोज उप्रेती के बीच बिजली बोर्ड के नए प्रबंध निदेशक पद की दौड़

अमर उजाला ब्यूरो, शिमला Published by: अरविन्द ठाकुर Updated Sun, 02 Apr 2023 11:57 AM IST
सार

संदीप कुमार शर्मा को बिजली बोर्ड और मनोज कुमार उप्रेती को ट्रांसमिशन कारपोरेशन में प्रबंध निदेशक बनाकर सरकार संतुलन बैठा सकती है।

Sandeep kumar and manoj upreti lobbying for post of director himachal electricity board
मनोज कुमार उप्रेती - फोटो : अमर उजाला

विस्तार

राज्य बिजली बोर्ड का नया प्रबंध निदेशक बनने के लिए संदीप कुमार शर्मा और मनोज कुमार उप्रेती के बीच दौड़ शुरू हो गई है। वर्तमान प्रबंध निदेशक पंकज डढवाल का 12 अप्रैल को कार्यकाल पूरा हो रहा है। वरिष्ठता के अनुसार निदेशक तकनीकी संदीप कुमार शर्मा पहले और निदेशक ऑपरेशन मनोज कुमार उप्रेती दूसरे नंबर पर हैं। प्रबंध निदेशक पंकज डढवाल को एक साल का सेवा विस्तार दिए जाने की चर्चा भी जोरों पर है। सत्ता नहीं व्यवस्था परिवर्तन का नारा देने वाली सुक्खू सरकार घाटे में चल रहे बिजली बोर्ड की नैया पार लगाने के लिए अब किस अफसर को अधिमान देती है, इस पर सभी की नजरें टिकी हैं।



राज्य ट्रांसमिशन कारपोरेशन में भी प्रबंध निदेशक का पद रिक्त है। ऐसे में संभावित है कि संदीप कुमार शर्मा को बिजली बोर्ड और मनोज कुमार उप्रेती को ट्रांसमिशन कारपोरेशन में प्रबंध निदेशक बनाकर सरकार संतुलन बैठा सकती है। ट्रांसमिशन कारपोरेशन में निदेशक के पद पर नियुक्त राजीव सूद भी प्रबंध निदेशक पद की दौड़ में हैं। बिजली बोर्ड के वर्तमान प्रबंध निदेशक पंकज डढवाल एक तेजतर्रार इंजीनियर के तौर पर जाने जाते हैं।


बिजली बोर्ड में अभी तक सेवाएं देते हुए पंकज अधिकांश सरकारों के करीबियों में ही शुमार रहे हैं। कांग्रेस के कई नेता पंकज डढवाल को सेवाविस्तार दिए जाने की वकालत करने में जुटे हैं। उधर, पावर इंजीनियर एसोसिएशन ने बोर्ड में किसी भी अधिकारी को सेवाविस्तार नहीं दिए जाने को लेकर अपने मत से भी सरकार को अवगत करवा दिया है। एसोसिएशन के पदाधिकारियों का तर्क है कि उच्च पदों पर सेवाविस्तार देने से नीचे के अधिकारियों की पदोन्नति प्रक्रिया प्रभावित होती है। अब सरकार आने वाले दिनों में इस बाबत क्या फैसला लेती है, यह देखना दिलचस्प होगा।

बोर्ड के चेयरमैन रामसुभग सिंह जुलाई में होंगे सेवानिवृत्त
राज्य बिजली बोर्ड के चेयरमैन और पूर्व मुख्य सचिव रामसुभग सिंह जुलाई 2023 को अपने पद से सेवानिवृत्त होंगे। राम सुभग सिंह को मुख्य सचिव पद से हटाने के बाद पूर्व की भाजपा सरकार ने प्रधान सलाहकार नियुक्त किया था। सत्ता बदलने के बाद सुक्खू सरकार ने इन्हें मुख्यमंत्री का प्रधान सलाहकार नियुक्त किया और बिजली बोर्ड के चेयरमैन पद से भी नवाजा।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

फॉन्ट साइज चुनने की सुविधा केवल
एप पर उपलब्ध है

बेहतर अनुभव के लिए
4.3
ब्राउज़र में ही
एप में पढ़ें

क्षमा करें यह सर्विस उपलब्ध नहीं है कृपया किसी और माध्यम से लॉगिन करने की कोशिश करें

Followed