बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
जानें बुध का मिथुन राशि में गोचर किन राशियों को देगा शुभ संकेत
Myjyotish

जानें बुध का मिथुन राशि में गोचर किन राशियों को देगा शुभ संकेत

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

होशियारपुर: खेत में मिला महिला का शव, सिर से सटाकर मारी गई आठ गोली, पति से चल रहा था तलाक का केस

होशियारपुर के टांडा रोड पर अड्डा सीकरी के करीब गांव बूरे राजपूतां के खेतों में गांव खडियाला सैनियां निवासी एक महिला का शव मिलने से सनसनी फैल गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को  पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भिजवाया और जांच शुरू कर दी। मामले में पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

पुलिस के अनुसार महिला के सिर में 8 गोलियां मारकर उसकी हत्या की गई है। बताया जाता है कि मृतका मनप्रीत कौर दो बच्चों की मां थी और उसका पति राशपाल कुवैत में रहता है, जिसके साथ उसका तलाक का केस चल रहा था। सूत्रों के मुताबिक करीब 2 माह पहले मनप्रीत ने एसएसपी को एक शिकायती पत्र दिया था जिसमें उसने एक हेड कांस्टेबल पर शादी का झांसा देकर 3 साल से शारीरिक शोषण करने का आरोप भी लगाया था जिसकी जांच अभी चल रही है। 


घटनास्थल पर मौजूद डीएसपी गुरप्रीत सिंह ने बताया कि अज्ञात लोगों ने महिला के सिर में 8 गोलियां मारकर उसकी हत्या कर दी है। उन्होंने बताया कि महिला का तलाक का केस चल रहा था और किसी के साथ लिव-इन-रिलेशन में रह रही थी और उसके साथ भी इसकी अनबन चल रही थी। उन्होंने बताया कि मामले के सभी पहलुओं की जांच की जा रही है और इसके बाद ही हत्या के कारणों का पता चल पाएगा। फिलहाल शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल पहुंचा दिया गया है। 

एसपी आरपीएस संधू ने बताया कि मौका-ए-वारदात से पुलिस को .32 बोर के 4 खोल भी मिले हैं जबकि मृतका के सिर में गोलियों के 8 घाव हैं। उन्होंने बताया कि मनप्रीत कौर की ओर से पुलिसकर्मी के विरुद्ध की गई शिकायत की जांच भी जारी है। उन्होंने कहा कि उसे बिल्कुल करीब से गोली मारी गई है और पुलिस सभी पहलुओं पर गंभीरता से जांच कर रही है।
... और पढ़ें

नेता-नशे का गठजोड़: पंजाब में महिला अकाली नेता हेरोइन के साथ गिरफ्तार, तरनतारन पुलिस ने की कार्रवाई 

पंजाब के तरनतारन में एसटीएफ ने शिरोमणि अकाली दल की महिला विंग की जिला महासचिव जसविंदर कौर जस्सी सहित पांच लोगों को हेरोइन तस्करों के आरोप में गिरफ्तार किया है। उनके पास से एक किलो 20 ग्राम हेरोइन और 70 हजार रुपये बरामद किए गए हैं। सभी पर मोहाली एसटीएफ थाने में एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। 

एसटीएफ लुधियाना रेंज की टीम ने खुफिया सूचना के आधार पर तरनतारन के गांव दिलावरपुर में नाकाबंदी के एक कार को रोका। उसमें पांच लोग सवार थे। तलाशी के दौरान कार से एक किलो 10 ग्राम हेरोइन बरामद की गई। आरोपियों की पहचान शिरोमणि अकाली दल की महिला विंग की जिला महासचिव जसविंदर कौर जस्सी, गांव भैल ढाई निवासी मंजीत सिंह उर्फ मीता (60) उसके बेटे जगवीर सिंह उर्फ जज्गा, गुरप्रीत सिंह गोपी और उसकी पत्नी मंदीप कौर के रूप में हुई। 


एसटीएफ के एआईजी स्नेहदीप शर्मा के मुताबिक, पुलिस पूछताछ में मीता ने बताया कि वह हेरोइन जसविंदर कौर जस्सी से लाए थे। इसके बाद तरनतारन में जस्सी की कोठी पर छापा मारा तो वहां से दस ग्राम हेरोइन और 70 हजार रुपये बरामद किए गए। पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश किया और दो दिन के रिमांड पर ले लिया है। जसविंदर कौर के खिलाफ पहले भी जाली करेंसी व एनडीपीएस एक्ट के तहत कई मामले दर्ज हैं।
... और पढ़ें

पंजाब में वारदात : दो माह पहले हुई थी शादी, मायके में ही फंदे पर झूल गई विवाहिता

पंजाब के बटाला में एक युवती ने शादी के दो माह बाद ही फंदा लगाकर जान दे दी। विवाहिता अपने मायके में रह रही थी। मृतका की पहचान 28 वर्षीय गगनदीप कौर के तौर पर हुई  है। विवाहिता ने बुधवार को कमरे के पंखे से फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। फिलहाल गगनदीप द्वारा ऐसा करने का कारण स्पष्ट रूप से सामने नहीं आया है। गगनदीप की शादी दो महीने पहले ही हुई थी और शादी के बाद वह सिर्फ 10 दिन ही अपने ससुराल में रही थी। उसके बाद वह अपने मायके में ही रह रही थी। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में पोस्टमार्टम के लिए बटाला के सिविल अस्पताल भेज दिया है। 

बटाला के अलीवाल रोड पर गगनदीप कौर अपने मां के पास ही रह रही थी। गगनदीप कौर की अन्य बहनें शादीशुदा हैं और भाई कनाडा में है। बुधवार को मां ने देखा तो गगनदीप कौर फंदे पर लटक रही है। जब तक उसे नीचे उतारा गया तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। 


जांच अधिकारी और थाना सिविल लाइन बटाला के एएसआई हरपाल सिंह ने बताया कि अभी तक विवाहिता ने ऐसा क्यों किया, इस बात का पता नहीं चल सका है। मृतका की मां ने अभी बयान दर्ज नहीं करवाए हैं। उसकी मां का कहना है कि वह अभी सदमे है और गुरुवार को उसका बेटा कनाडा से बटाला आएगा, तभी वह अपने बयान दर्ज करवाएगी। एएसआई हरपाल सिंह ने बताया कि पुलिस पीड़ित पक्ष के बयान के आधार पर ही आगे की कार्रवाई करेगी।  
... और पढ़ें

अमृतसर में खौफनाक वारदात: ब्यूटी पार्लर संचालिका की बेरहमी से हत्या, शव पर पिस्तौल रख भागे हत्यारे

पंजाब के अमृतसर जिले में हत्यारों ने गुरुवार तड़के एक युवती की हत्या कर शव पंडोरी गांव के खेत में फेंक गए। हत्यारों ने शव के ऊपर पिस्तौल भी रख दी थी। इसके बाद गांव के लोगों ने शव देखा तो पुलिस को सूचित किया। वारदातस्थल पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। डीएसपी बलदेव सिंह ने बताया कि जांच की जा रही है। जल्द ही हत्यारों का पता लगाया जाएगा।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक मजीठा रोड पर स्थित गंडा सिंह वाला की अमनप्रीत कौर (25) पंडोरी गांव में ब्यूटी पार्लर चलाती थी। बुधवार को वह घर से अपने ब्यूटी पार्लर के लिए निकली लेकिन रात को घर नहीं लौटी। प्राथमिक जांच में मामला प्रेम संबंधों का लग रहा है। क्योंकि हत्यारों ने बर्बरता से युवती की छाती पर गोली मारी और और शव को पंडोरी गांव की सड़क के पास खेत में फेंक गए। 

आरोपी भागने से पहले वारदात में इस्तेमाल पिस्तौल मृतक की छाती पर रख गए और युवती का मोबाइल फोन साथ ले गए हैं। वारदात में हत्यारों की यह हरकत संशय पैदा करती है।

मृतका की मां सुखविंदर कौर ने बताया कि बुधवार को देर शाम तक उनकी बेटी घर नहीं लौटी तो उन्होंने उसकी तलाश शुरू कर दी। काफी छानबीन के बाद भी उसका कुछ पता नहीं चला। वे अपनी बेटी के मोबाइल फोन पर लगातार कॉल करते रहीं लेकिन पूरी रात फोन स्विच ऑफ था। गुरुवार को जब वे बेटी की तलाश में पंडोरी गांव पहुंचे तो देखा कि अमनप्रीत का शव खेत में पड़ा था।

मामले की जांच कर रहे डीएसपी बलदेव सिंह ने बताया कि युवती के मोबाइल फोन की डिटेल निकलवा ली है। इसके आधार पर कुछ नंबरों पर संपर्क किया जा रहा है। युवती के मोबाइल फोन से मिले नंबरों से हत्यारों की जानकारी मिली है। जिसके बाद अलग-अलग पुलिस टीमें कार्रवाई में जुटी हैं। डीएसपी ने दावा किया कि जल्द हत्यारों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया युवती को गुरुवार तड़के गोली मारी गई है।
... और पढ़ें
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

पंजाब: जलालाबाद में बैंक कर्मचारियों से 45 लाख की लूट, फायरिंग कर आंखों में डाली मिर्ची 

पंजाब के जलालाबाद में कोटक महिंद्रा बैंक के कर्मचारियों से दो लुटेरे फायरिंग करके 45 लाख रुपये लूटकर फरार हो गए। वारदात गांव चक सैदोके के निकट हुई। कोटक महिंद्रा बैंक के दो कर्मचारी मुक्तसर से कार में बुधवार सुबह साढ़े ग्यारह बजे कैश लेकर जलालाबाद स्थित बैंक आ रहे थे।

गांव सैदोका के पास बाइक सवार दो नकाबपोशों ने उनकी कार पर फायरिंग कर दी। जैसे ही कार रुकी, लुटेरों ने मुलाजिमों की आंखों में मिर्च पाउडर डाल दिया और कार की पिछली सीट पर पड़ा रुपयों से भरा बैग उठाकर भाग गए। बैग में 45 लाख रुपये की नकदी थी। वारदात जलालाबाद-मुक्तसर रोड स्थित गांव सैदोका के सेमनाले के पुल पर हुई। सूचना मिलते ही डीएसपी पलविंदर सिंह पुलिस पार्टी के साथ वारदात वाली जगह पहुंचे और पूरे इलाके में नाकाबंदी करवाई। लुटेरों का कोई सुराग नहीं मिला है।


कोटक महिंद्र बैंक के डिप्टी मैनेजर गुरप्रताप सिंह ने बताया कि वह और सहायक मैनेजर लवप्रीत सिंह बुधवार सुबह अपनी कार से मुक्तसर स्थित बैंक की ब्रांच से कैश लेकर जलालाबाद स्थित बैंक आ रहे थे। गांव सैदोका के पुल के पास पहुंचे तो बाइक सवार नकाबपोश दो लुटेरों ने उनकी कार पर फायरिंग करना शुरू कर दिया। वे घबरा गए और लुटेरों ने उनकी कार के आगे बाइक लगा दी। जैसे ही वे कार से नीचे उतरे तो लुटेरों ने उनकी आंखों में मिर्च पाउडर डाल दिया और कार की पिछली सीट पर नकदी से भरा पड़ा बैग लेकर फरार हो गए। लुटेरे उनका मोबाइल फोन भी ले गए। लुटेरे जलालाबाद की तरफ भागे। उनका पता नहीं चला है।

डीएसपी पलविंदर सिंह ने बताया कि बैंक की तरफ से मंगलवार को मुक्तसर से कैश लेने संबंधी मेल डाली गई थी और बुधवार को बैंक कर्मचारी कार में कैश लेकर जलालाबाद आ रहे थे। वारदात कर जिस रास्ते से लुटेरे भागे हैं, वहां जहां भी सीसीटीवी कैमरे लगे हैं उनकी फुटेज इकट्ठी की जा रही है। फुटेज के जरिये लुटेरों का सुराग लगाया जाएगा। डीएसपी ने कहा कि जल्द ही लुटेरों को काबू कर लिया जाएगा। 
... और पढ़ें

पंजाब: शराब से भरे ट्रक से टकराई कार, आम आदमी पार्टी के नेता समेत तीन की जान गई 

पंजाब में कार और ट्रक की टक्कर में आम आदमी पार्टी के नेता समेत तीन लोगों की मौत हो गई। हादसा लुधियाना-चंडीगढ़ हाईवे पर खमाणो के गांव राणवां में सोमवार रात हुआ। मृतकों की पहचान आम आदमी पार्टी के नेता संदीप सिंगला (30) निवासी धूरी, मनदीप सिंह ढींढसा निवासी बिरड़वाल धूरी (26) और कांग्रेस नेता विजय अग्निहोत्री (45) निवासी धूरी के रूप में हुई है। थाना खमाणो पुलिस ने आरोपी ट्रक चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 

थाना खमाणो के एसएचओ हरमिंदर सिंह ने बताया कि तीनों युवक टोयोटा कार में लुधियाना से चंडीगढ़ की तरफ जा रहे थे। लुधियाना-चंडीगढ़ रोड पर खमाणो के गांव राणवां के पास एक तेज रफ्तार ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मार दी। हादसे में संदीप, मनदीप और विजय गंभीर रूप से घायल हो गए।


हादसे का पता चलते ही पुलिस पार्टी मौके पर पहुंची। उन्होंने कार सवार युवाओं को खमाणो के अस्पताल में भर्ती कराया जहां दो युवाओं को डॉक्टरों ने मृतक घोषित कर दिया। विजय अग्निहोत्री को गंभीर हालत में लुधियाना के फोर्टिस अस्पताल में रेफर किया गया, जहां उसने भी दम तोड़ दिया। एसएचओ ने बताया कि हादसा गलत साइड से आ रहे ट्रक के कारण हुआ था। हादसा इतना भयानक था कि कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। ट्रक को कब्जे में लेकर आरोपी ट्रक चालक की तलाश शुरू कर दी गई है।

एसएचओ हरविंदर सिंह और जांच अधिकारी राम सिंह ने बताया कि ट्रक के ड्राइवर की पहचान राकेश कुमार निवासी गांव मुबारकपुर डेराबस्सी के तौर पर हुई है। ट्रक में भरी शराब के बारे में उन्होंने बताया कि एक्साइज विभाग से इसकी जांच करवाई गई है। ट्रक में शराब के स्थानीय ठेकेदारों की लाइसेंसशुदा शराब भरी हुई थी। फिलहाल ट्रक का चालक मौके से फरार बताया जा रहा है।
... और पढ़ें

पल भर में उजड़ा परिवार: सड़क हादसे में बाइक सवार पति-पत्नी और तीन मासूम बेटियों की मौत

पंजाब के गढ़शंकर में चंड़ीगढ़-होशियारपुर मार्ग पर गांव जैतपुर के पास एक बाइक और गाड़ी के बीच हुई सीधी टक्कर में बाइक सवार एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत हो गई, जबकि कार चालक, उसकी बहन व उसकी एक सहेली भी गंभीर रूप से घायल हैं। जानकारी के मुताबिक राजेश कुमार (27) निवासी नंगल चोरां बाइक पर पत्नी कमलदीप (25) और बेटी अनन्या (04), इशिका (02) और निशु (01) के साथ बाइक पर होकर बाड़ियां कलां से होशियारपुर आ रहे थे। 

सभी गांव जैतपुर के पास पहुंचे ही थे कि एक ट्रैक्टर ट्राली को ओवरटेक करते समय बाइक की विपरीत दिशा से आ रही कार से सीधी टक्कर हो गई। हादसे में राजेश कुमार, उसकी पत्नी कमलदीप, बेटी इशिका और निशु की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि तीसरी बेटी अनन्या ने अस्पताल जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया।

हादसे में गाड़ी चालक रुपिंदर सिंह, उसकी बहन इंद्रजीत कौर और इंदरजीत की सहेली भी गंभीर रूप से घायल हो गई। चब्बेवाल पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों वाहनों को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा गया है।

खड़े टैंकर से टकराई एंबुलेंस, चालक की मौत 
उधर, गोबिंदगढ़ और खन्ना मध्य नेशनल हाईवे स्थित प्रिस्टाईन मॉल के पास एक एंबुलेंस खड़े टैंकर से टकराकर पलट गई। हादसे में एंबुलेंस चालक की मौत हो गई। मृतक की पहचान कैलाश चंद, निवासी वजीराबाद (दिल्ली) के रूप में हुई है। वहीं, उसके साथ बैठा कंडक्टर संजीव कुमार बाल-बाल बच गया। थाना सदर पुलिस ने कंडक्टर संजीव कुमार के बयान पर टैंकर चालक जसपाल सिंह निवासी सैदपुरा (फतेहगढ़ साहिब) के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

एएसआई हरजिंदर सिंह भैनी को दिए बयान में कंडक्टर संजीव कुमार ने बताया कि बुधवार को दिल्ली से एक कोरोना मरीज को लेकर वे अमृतसर छोड़ने आए थे। वापस लौटते वक्त खन्ना के नजदीक गांव अलौड़ के पास उनकी एंबुलेंस खड़े टैंकर से टकरा गई। हादसे में एंबुलेंस चालक की मौके पर मौत हो गई। आरोपी टैंकर चालक फरार है। 
... और पढ़ें

पंजाब: नकली विजिलेंस अधिकारी बन सुनार से ठगे 31 लाख रुपये, साले की मिलीभगत से लगी चपत

हादसाग्रस्त बाइक और कार।
पंजाब के फाजिल्का में गांव नुकेरिया में नकली विजिलेंस अधिकारी बनकर कुछ लोग एक सुनार के 31 लाख रुपये लेकर फरार हो गए। आरोपियों से सुनार का साला भी मिला हुआ था। थाना अरनी वाला पुलिस ने पीड़ित के बयान पर उसके साले समेत 15 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

लुधियाना के रहने वाले संदीप कुमार ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि उसकी लुधियाना में सराफा बाजार में ए एस ज्वेलर्स नाम से दुकान है। 28 अप्रैल को वह अपनी जालंधर स्थित ससुराल गया था। वहां उसके साले सौरव जैरथ ने उसे कहा कि उसकी जालंधर में रहने वाले शेर सिंह, उसके साले सनी और उनके दोस्त लक्की व सैनी से अच्छी जान पहचान है। वे सभी फाजिल्का में सोने के व्यापारियों को जानते हैं और सस्ते भाव पर सोना दिलवा सकते हैं। 


संदीप ने पंद्रह लाख का इंतजाम कर लिया। वह सभी के साथ फाजिल्का के गांव नुकेरिया स्थित बलवीर सिंह व सुखचैन सिंह के घर पहुंचा। वहां शेर सिंह ने संदीप से कहा कि उन्हें 31 लाख रुपये का सोना मिल सकता है। बाकी के पैसों का इंतजाम कर लो। तीस अप्रैल की सुबह 31 लाख रुपये लेकर संदीप गांव नुकेरियां पहुंच गया। पैसे देने के बाद संदीप ने सोना मांगा तो बलवीर और सुखचैन ने कहा कि सोना अभी आ रहा है। इसी दौरान परमजीत कौर और सुनीता रानी उर्फ मानो भी आ गए। 

सुबह करीब 10.30 बजे अचानक कुछेक व्यक्ति घर में दाखिल हुए और उन्होंने कहा कि वे विजिलेंस विभाग के मुलाजिम हैं। इसी दौरान घर की महिलाओं और व्यक्तियों ने भगदड़ मचा दी। इसी बीच विजिलेंस विभाग के मुलाजिम बनकर आए आरोपी उसका सारा पैसा लेकर फरार हो गए। बाद में पता चला कि आरोपियों के साथ मिलकर उसके साले ने ही ठगी की है। 

मामले की जांच कर रहे एएसआई सुभाष चंद्र के मुताबिक, संदीप के बयान पर सौरव जैरथ, शेर सिंह, सैनी, सनी,  लक्की, बलवीर सिंह, सुखचैन सिंह, परमजीत कौर, सुनीता रानी उर्फ मानो, कुलवंत सिंह उर्फ काला और पांच अन्य व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 
... और पढ़ें

पुलिस चौकी में खुदकुशी : पंजाब में एएसआई ने सर्विस रिवाल्वर से गोली मार की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी वजह

पंजाब के मोगा जिले में एक एएसआई ने गोली मारकर कर आत्महत्या कर ली। मामला यहां के थाना बधनी कलां का है। पुलिस चौकी लोपों में तैनात पंजाब पुलिस के एएसआई सतनाम सिंह ने सोमवार सुबह करीब साढ़े सात बजे अपनी सर्विस रिवाल्वर से खुद को गोली मारी। खुदकुशी से पहले एएसआई ने एक सुसाइड नोट भी लिखा और बेटे को फोन भी किया, जिसमें खुदकुशी करने के लिए थाना बधनी कलां के एसएचओ कर्मजीत सिंह को जिम्मेदार ठहराया। 

पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। वहीं आरोपी एसएचओ पर हत्या का केस दर्ज करवाने के लिए एएसआई के परिवार और रिश्तेदारों ने सिविल अस्पताल मोगा के बाहर धरना दिया। करीब चार घंटे तक चले धरने को पुलिस के आला अधिकारियों ने दखल देकर समाप्त कराया।

अधिकारिक जानकारी के अनुसार पुलिस चौकी लोपों में तैनात एएसआई सतनाम सिंह ने खुदकुशी से पहले सुसाइड नोट में लिखा कि कुछ माह पहले पुलिस चौकी लोपों में एक पक्ष की शिकायत पर लड़ाई झगड़े का केस दर्ज किया गया था। केस में दोबारा जांच के नाम पर एसएचओ मृतक एएसआई सतनाम सिंह को पीड़ित पक्ष से 50 हजार रुपये की रिश्वत दिलाने के लिए मजबूर कर रहा था। 
... और पढ़ें

शर्मनाक: पंजाब में 40 साल के तलाकशुदा युवक ने अपनी ही मां के साथ किया दुष्कर्म, गिरफ्तार 

पंजाब में एक शर्मसार कर देने वाला वाकया सामने आया है। कपूरथला के भुलत्थ में एक गांव में 70 वर्षीय बुजुर्ग महिला के साथ उसके ही 40 वर्षीय बेटे ने दुष्कर्म किया है। पुलिस ने शिकायत मिलते ही आरोपी को काबू कर लिया है और उस पर आईपीसी की धारा 376 के तहत केस दर्ज कर लिया है।  

एसएचओ भुलत्थ जसबीर सिंह ने बताया कि उन्हें कपूरथला के गांव की महिला ने शिकायत दी कि उसके दो बेटे हैं। छोटा बेटा जालंधर में फैक्टरी में काम करता है। बड़ा बेटा घर में ही रहता है और उसका अपनी पत्नी से तलाक हो चुका है। महिला का आरोप है कि वह 27-28 अप्रैल की आधी रात को उसके कमरे में घुस आया और उससे दुष्कर्म किया। पुलिस ने बुजुर्ग महिला की शिकायत पर आरोपी को काबू कर लिया और उस पर धारा 376 के तहत केस दर्ज कर लिया। 

पीड़ित महिला का सिविल अस्पताल में मेडिकल करवाया गया है। मामले की जांच एएसआई लखविंदर कौर कर रही हैं। आरोपी को गुरुवार को अदालत में पेश किया गया जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेजने के आदेश दे दिए गए। एसएचओ ने बताया कि आरोपी का कोरोना टेस्ट करवाया है। रिपोर्ट आने के बाद उसे जेल भेज दिया जाएगा।
... और पढ़ें

पंजाब में वारदात: बहू से नाखुश बुजुर्ग दंपती की दरिंदगी, दो माह के पोते को पटककर मार डाला 

बहू से नाखुश बुजुर्ग दंपती ने अपने दो माह के पोते को मार डाला। यह खौफनाक वारदात पंजाब के फिरोजपुर में सामने आई। महिला का आरोप है कि सास-ससुर ने उसके दो माह के बेटे को जोर से बेड पर फेंका, जिस कारण बच्चे की मौत हो गई। आरोपियों ने उसकी पिटाई भी की। थाना सदर पुलिस ने पीड़िता के बयान पर उसके पति, सास और ससुर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। सभी आरोपी फरार हैं।

पीड़िता संजना वासी जोड़ा प्रीत नगर फिरोजपुर शहर ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि वह और मनप्रीत सिंह वासी गांव जखरावां, जिला फिरोजपुर एक दूसरे से प्रेम करते थे। दोनों ने दस मई 2020 को प्रेम विवाह किया था। इस शादी से उसका ससुर नरिंदर सिंह और सास सुखचैन कौर खुश नहीं थे। दो मार्च 2021 को संजना का बेटा हुआ, जिसका नाम अनमोल दीप रखा गया। 


संजना ने बताया कि 29 अप्रैल को सास और ससुर ने उसके साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। इस मारपीट के दौरान दोनों ने उसकी गोद से बच्चा छीनकर बेड पर जोर से पटक दिया। जब वह बच्चे को उठाने लगी तो उसके पति मनप्रीत, सास और ससुर ने उसे पीटना शुरू कर दिया। किसी तरह बच्चे को उठाकर वह अपने मायके पहुंची और बच्चे को एक निजी क्लीनिक में दिखाया तो उसने जवाब दे दिया। उसके बाद वे बच्चे को फिरोजपुर के अस्पताल में लेकर गए तो डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। लेकिन उसे विश्वास नहीं हुआ। इसके बाद वह बच्चे को लेकर एक और निजी अस्पताल गई, लेकिन वहां से भी यही जवाब मिला कि बच्चे की काफी देर पहले ही मौत हो चुकी है। संजना का आरोप है कि बेड पर जोर से पटकने से बच्चे की मौत हुई है।

मामले की जांच कर रहे सब-इंस्पेक्टर परमजीत सिंह के मुताबिक पीड़िता संजना के बयान पर आरोपी पति मनप्रीत सिंह, ससुर नरिंदर सिंह और सास सुखचैन कौर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। आरोपियों की धरपकड़ को पुलिस दबिश दे रही है।
... और पढ़ें

पंजाब: एक दूसरे की तरफ घूरने पर विवाद, तीन युवकों ने किरच घोंप कर मार डाला 

बठिंडा के नरूयाना रोड पर स्थित अमरपुरा बस्ती में एक दूसरे की तरफ घूरने पर छह युवकों में तकरार हो गई। इसके बाद गुस्साए तीन युवकों ने एक युवक के पेट में किरच घोंप उसे मौत के घाट उतार दिया। मृतक की पहचान सुखपाल सिंह उर्फ सन्नी (22 ) पुत्र मिट्ठू सिंह के तौर पर हुई है। घटना मंगलवार देर रात की बताई जा रही। 

डीएसपी सिटी गुरजीत सिंह रोमाणा ने बताया कि थाना केनाल में पुलिस ने तीन आरोपियों परम सिंह, अमनदीप सिंह, सागर सिंह निवासी नरूयाना रोड बठिंडा के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया। 

जानकारी के अनुसार मंगलवार देर रात को सुखपाल सिंह उर्फ सन्नी अपने दोस्त लब्बी एवं मन्नू के साथ घर के समीप खड़ा था। दूसरी तरफ से आए परम सिंह, अमनदीप सिंह, सागर सिंह उनकी तरफ घूरने लगे। इसी बात को लेकर सभी युवक आपस में भिड़ गए। इसी दौरान परम सिंह, अमनदीप सिंह एवं सागर सिंह ने सुखपाल सिंह के पेट में किरच घोंप दी और सभी युवक मौके से फरार हो गए। 


घटना का पता चलते ही आस पास के लोगों ने गंभीर हालत में सुखपाल को सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया जहां पर उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। घटना का पता चलते ही डीएसपी सिटी गुरजीत सिंह रोमाणा पुलिस पार्टी समेत मौके पर पहुंचे एवं घटना स्थल का जायजा लिया। डीएसपी सिटी ने बताया कि पुलिस ने मृतक युवक के पिता मिट्ठू सिंह के बयान पर आरोपी परम सिंह, अमनदीप सिंह, सागर सिंह के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है। वहीं पुलिस सूत्रों ने बताया कि पुलिस ने परम सिंह एवं अमनदीप सिंह को गिरफ्तार कर लिया है, हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।
... और पढ़ें

पंजाब में वारदात:  शराब पीने से रोकती थी पत्नी, पति ने मार डाला, फिर खुद पुलिस को बताया 

पंजाब के फगवाड़ा में पुलिस कंट्रोल रूम में फोन कर एक व्यक्ति ने कहा कि वह संदीप सिंह गांव भाखिड़याना से बोल रहा है। उसने अपनी पत्नी रंजीत कौर को गला घोंटकर मार दिया है। पुलिस हरकत में आई और रावलपिंडी पुलिस को सूचित किया गया। इसके बाद एसपी सर्बजीत सिंह बाहिया, डीएसपी परमजीत सिंह व थाना पुलिस मौके पर पहुंचे तो सूचना देने वाला आरोपी पति घर को ताला लगा कर फरार हो चुका था। पुलिस ने ताला खुलवाया तो देखा बाथरूम में रंजीत कौर (35) का शव पड़ा मिला। वहीं मृतका का छह साल का बेटा और तीन साल की बेटी कमरे में बंद थे। मंगलवार को रावलपिंडी पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है, उससे पूछताछ की जा रही है।

पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे पूर्व सरपंच गुरदावर सिंह ने मृतका की पहचान रंजीत कौर (35) पत्नी संदीप सिंह के रूप में की। उसकी हत्या गला दबा कर की गई थी। एसपी सर्बजीत सिंह बाहिया ने बताया कि रंजीत कौर की शादी 10 साल पहले संदीप सिंह के साथ हुई थी। वह पेशे से ड्राइवर था और नशे का आदी था, इसी बात को लेकर अक्सर घर में झगड़ा रहता था। रंजीत कौर पांच साल पहले भी झगड़े के बाद अपने मायके चली गई थी। पंचायती राजीनामे के बाद संदीप सिंह उसे वापस लाया था। उनके दो बच्चे हैं।


वारदात के दिन भी उनका झगड़ा हुआ था जिसके बाद रंजीत कौर अपनी शिकायत लेकर गुरदावर सिंह के पास गई थी। इससे पहले कि वह कुछ कर पाते, घर जाकर रंजीत और संदीप का फिर विवाद हो गया। संदीप अपनी पत्नी का गला घोटकर और बच्चों को कमरे में बंद कर मौके से फरार हो गया था। रावलपिंडी थाना प्रभारी इंस्पेक्टर मनजीत सिंह ने बताया कि आरोपी संदीप सिंह पर कत्ल का मामला दर्ज कर उसको गिरफ्तार कर लिया है तथा पूछताछ की जा रही है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन