विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
संतान के उज्ज्वल भविष्य व लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं संतान गोपाल पाठ व हवन - 24 अगस्त
Astrology Services

संतान के उज्ज्वल भविष्य व लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं संतान गोपाल पाठ व हवन - 24 अगस्त

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

पंजाब की वो सीट जहां से अरुण जेटली हारे फिर भी मोदी कैबिनेट में बने थे मंत्री

वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार को दिल्ली स्थित एम्स में निधन हो गया है।

24 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

जालंधर

शनिवार, 24 अगस्त 2019

मुख्यमंत्री को ही दे दिया गच्चा, अधिकारी ने अपनी बेटी को किसान की बेटी बनाकर बंधवाई राखी

हद हो गई, रक्षाबंधन के दिन प्रशासनिक अधिकारियों ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को ही गच्चा दे दिया। कैप्टन ने पांच लड़कियों को रक्षाबंधन के लिए बुलाया था। कैप्टन ने इच्छा जाहिर की थी कि इन लड़कियों में कमजोर वर्ग के अलावा शहीद परिवारों की बेटियां और किसान की बेटी जरूर होनी चाहिए।

किसान देश का पेट पाल रहा है, इसलिए उसकी बेटी से राखी बंधवाने की सीएम की हार्दिक इच्छा थी। स्थानीय प्रशासन ने मुख्यमंत्री को मिठाई देने और उनके माथे पर तिलक लगाने के लिए जिन लड़कियों को बुलाया, उनमें दो लड़कियां शहीद सैनिकों की थींं।

सोनिया जम्मू कश्मीर के रक्षक ऑपरेशन के शहीद कांस्टेबल राज कुमार की बेटी थी जबकि भावना रक्षक ऑपरेशन के ही शहीद लांस नायक कुलविन्दर सिंह की बेटी थी। बाकी लड़कियों में गुरदासपुर से सुलेखा रेड क्रास स्कूल फॉर डैफ्फ में तीसरी कक्षा की छात्रा है और मुस्कान आर्थिक तौर पर कमजोर वर्ग से संबंधित है जो यहां के नेहरू गार्डन स्थित लड़कियों के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल की छात्रा है।
... और पढ़ें

पंजाब में नदियों का रौद्र रूप, बाढ़ की जद में सैकड़ों गांव, सीएम ने जारी किए 100 करोड़

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य के बाढ़ प्रभावित इलाकों में तत्काल राहत कार्यों के लिए 100 करोड़ रुपये देने का एलान किया है। मुख्यमंत्री सोमवार को रोपड़ के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि पानी का स्तर घटने के तुरंत बाद विशेष गिरदावरी करवाई जाएगी ताकि पीड़ित किसानों को उपयुक्त मुआवजा देना यकीनी बनाया जा सके। 

सीएम ने पिछले 72 घंटों से मूसलाधार बारिश के साथ हुए नुकसान का जायजा लिया और बाढ़ प्रभावितों के साथ मुलाकात की। कैप्टन ने लुधियाना में छत गिरने से हुई तीन लोगों की मौत पर भी दुख जताया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने सीनियर अधिकारियों के साथ राज्य में बाढ़ से पैदा हुए हालात का जायजा लिया। इस दौरान मुख्यमंत्री पहले सतलुज नदी के हेडवर्क्स पर पहुंचे जहां पर उन्होंने पानी के लेवल का जायजा लिया। 

यह भी पढ़ें- 
24 घंटे में पाकिस्तान पहुंचेगी 'आसमानी आफत', भारत पर लगाया ये आरोप

इसके बाद वह आईआईटी गए और निदेशक प्रो सरित कुमार दास से बात की। आईआईटी के विद्यार्थियों, जिन को बाढ़ के कारण वहां से हटाना पड़ा, के साथ बातचीत के दौरान कैप्टन ने प्रशासन को आदेश दिया कि इनके रहन-सहन का प्रबंध पंजाब भवन और किसान भवन में करना यकीनी बनाया जाए। 
... और पढ़ें

रेल यातायात पर भी बाढ़ का असर, यात्रा से पहले पढ़ लें खबर, कई ट्रेनें रद्द, कुछ के बदले रूट

पंजाब में हो रही लगातार बारिश और बाढ़ ने तबाही मचा रखा है। इसका सीधा असर रेल यातायात पर पड़ता दिख रहा है। रेल डिवीजन फिरोजपुर के डीआरएम राजेश अग्रवाल ने गिदड़पिंडी पुल का दौरा किया। फिरोजपुर-जालंधर रेल सेक्शन के बीच गिदड़पिंडी पुल (पुल नंबर-84) के निचले हिस्से में पानी छूने के कारण रेलवे ने सोमवार को फिरोजपुर से जालंधर जाने और जालंधर से फिरोजपुर आने वाली नौ ट्रेनें रद्द कर दी। 

इसे भी पढ़ें- 
24 घंटे में पाकिस्तान पहुंचेगी 'आसमानी आफत', भारत पर लगाया ये आरोप

इनमें पैसेंजर ट्रेन नंबर-74932, 74934, 74933, 54644, 54638, 54637, 54643, 74931 व 74935 शामिल हैं। इसके अलावा जन्मभूमि एक्सप्रेस (19107) और जम्मूतवी-बठिंडा एक्सप्रेस (19226) के रूट बदले गए। इन ट्रेनों को फिरोजपुर से लुधियाना रवाना कर जालंधर कैंट पहुंचाया है।

डीआरएम राजेश अग्रवाल ने ट्रेन सुविधा सुचारू रखने के लिए गिदड़पिंडी पुल का दौरा कर स्थिति की जानकारी हासिल की, रेलवे ने फिलहाल 36 घंटे ट्रेनें रद्द करने का फैसला लिया है।

अंबालाः ट्रैक से छू गया पानी, 19 ट्रेनें डायवर्ट, कईं रद्द
भारी बरसात के चलते और मारकंडा का जलस्तर खतरे के निशान से पार होने के बाद रविवार रात अंबाला के दुखेड़ी में रेलवे के गार्डर पर पानी पहुंच गया। इसी कारण अंबाला कैंट से पानीपत, दिल्ली, गाजियाबाद और मुरादाबाद को जाने वाली 19 ट्रेनों को रेलवे ने डायवर्ट कर दिया। 

इनमें मुंबई-अमृतसर गोल्डन टेंपल मेल, बिलासपुर-अमृतसर एक्सप्रेस, कोलकाता-जम्मू एक्सप्रेस, हावड़ा-अमृतसर मेल, बनारस-जम्मू एक्सप्रेस, धनबाद-फिरोजपुर एक्सप्रेस, बरोनी-जम्मू एक्सप्रेस, हावड़ा-जम्मू एक्सप्रेस, जम्मू-बनारस एक्सप्रेस, चंडीगढ़-लखनऊ एक्सप्रेस 12312 और 15012, अमृतसर-बिलासपुर एक्सप्रेस, अमृतसर-हावड़ा एक्सप्रेस, अमृतसर-हावड़ा मेल, फिरोजपुर-धनबाद एक्सप्रेस 13308, अमृतसर-धनबाद एक्सप्रेस 15212, अमृतसर-मुंबई गोल्डन टेंपल 12904 और चंडीगढ़-डिबरूगढ़ एक्सप्रेस को रद्द किया गया है। 
... और पढ़ें

पत्थरों से बनेंगे शाहकोट और लोहियां के टूटे बांध, पठानकोट से भेजे जाएंगे 700 से ज्यादा ट्रक

जालंधर के शाहकोट और लोहियां खास के टूटे एडवांस बांध और धुस्सी बांध को पठानकोट के बोल्डर (बड़े पत्थरों) से बनाया जाएगा। 72 घंटे में जिला प्रशासन पठानकोट से 700 ट्रक शाहकोट और लोहियां खास भेजेगा, जिसके तहत पहले चरण में 100 के करीब ट्रकों को रवाना कर दिया गया है।
दरअसल, सीएम ने जालंधर देहात के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में विजिट के दौरान पठानकोट प्रशासन को आदेश जारी कर बोल्डर भिजवाने के लिए कहा था।

इसके बाद जिला प्रशासन काम में जुटा है, शुक्रवार को जन्माष्टमी की सरकारी छुट्टी के बावजूद डीसी दफ्तर, एसडीएम दफ्तर और माइनिंग दफ्तर के अधिकारी बोल्डर विक्रेताओं के पास जाकर सरकारी रेट पर पत्थर खरीदते दिखाई दिए। माइनिंग अधिकारी का कहना है कि बांध और धुस्सी निर्माण के लिए जितना पत्थर चाहिए उतना पठानकोट में मौजूद है। 

दोपहर तक 50 से अधिक ट्रक रवाना कर दिए हैं, रात तक 100 ट्रक भिजवा दिए जाएंगे। बता दें, पिछले दिनों हुई भारी बरसात और भाखड़ा बांध के फ्लड गेट खोलने के कारण शाहकोट सब डिवीजन के गांव जानियां चाहल, गट्ट मुंडी कासू, जलालपुर खुर्द और मंडियाला में धुस्सी बांध टूटने और सतलुज दरिया के 6 एडवांस बांध टूटने से 26 के करीब गांवों में बाढ़ के हालात हैं।
... और पढ़ें
माधोपुर में लोहिया खास के लिए ट्रक में लोड करवाया जा रहा बोल्डर। माधोपुर में लोहिया खास के लिए ट्रक में लोड करवाया जा रहा बोल्डर।

एक्सीडेंट का बहना बनाकर रोकी कार, पेप्सिको के डीजीएम पर हमला कर की लूट

इंडस्ट्री एरिया स्थित पेप्सिको कंपनी के डीजीएम पर वीरवार देर रात बदमाशों ने फिल्मी स्टाइल में हमला कर घायल किया और उनका सामान लूट ले गए। डीजीएम विजय बालियान देर रात डयूटी खत्म कर क्वाटर में लौट रहे थे। थाना शाहपुरकंडी पुलिस ने घायल डीजीएम के बयान दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।
डीजीएम बालियान रात को अपने क्वार्टर पर लौट रहे थे। रास्ते में एक स्कूटी समेत सवार गिरा मिला। स्कूटी सवार के पास खड़े दूसरे युवक ने डीजीएम की कार को हाथ देकर रोका और कहा कि स्कूटी सवार जख्मी है। इसे पानी पिला दें। डीजीएम कार रोककर जैसे ही बाहर निकले और पानी की बोतल निकालकर पिलाने के लिए आगे बढ़े तो पीछे से युवक ने किसी चीज से हमला कर दिया। हमले में डीजीएम बेहोश होकर गिर गए। इससे डीजीएम की टांग और कूल्हा फ्रैक्चर हो गया और उसके सिर पर गंभीर चोटें आईं हैं। इस दौरान स्कूटी सवार दोनों युवक डीजीएम के बैग समेत लैपटाप, पर्स समेत अन्य सामान लेकर मौके से भाग निकले।
डीजीएम ने किसी तरह अपने सहायक को फोन कर बुलाया और उन्हें देर रात कोटली स्थित प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करवाया गया। घायल डीजीएम विजय बालियान पानीपत के रहने वाले हैं। पारिवारिक सदस्य उन्हें इलाज के लिए दिल्ली ले गए। घटना पेप्सिको से 400 मीटर दूरी पर स्थित सुनसान एरिया पर घटित हुई। शाहपुरकंडी पुलिस के अनुसार घायल डीजीएम के बयान दर्ज किए गए हैं। स्कूटी सवार दोनों युवकों को जल्द पकड़ा जाएगा।
... और पढ़ें

जालंधर में सोढल मंदिर में दीवार के निर्माण पर उठा विवाद, तलवारें लहराईं, नारेबाजी भी हुई

उत्तर भारत के प्रसिद्ध श्री सिद्धा बाबा सोढल मंदिर में शुक्रवार को दीवार बनाए जाने के बाद मंदिर प्रबंधक कमेटी और सोढल गुरुद्वारा के प्रबंधकों के बीच विवाद खड़ा हो गया। इस दौरान दोनों गुटों की तरफ से तलवारें लहराई गई और नारेबाजी की गई। 

पुलिस ने मौके पर आकर दोनों गुटों को अलग-अलग किया। इस दौरान सिखों ने चेतावनी दी कि अगर मामला नहीं सुलझा तो वे मेला नहीं होने देंगे। देर शाम तक माहौल तनावपूर्ण बना हुआ था।  

जानकारी के अनुसार, कुछ दिन पहले बरसात के कारण श्री सिद्ध बाबा सोढल मंदिर की दीवार गिर गई थी। मेला नजदीक होने के चलते शुक्रवार को ट्रस्ट की ओर से दीवार बनानी शुरू कर दी गई। दीवार बनती देख सिखों ने गुरुद्वारे के पास एक और दीवार बनानी शुरू कर दी। मेले में उक्त दीवार से दिक्कत आनी थी तो मंदिर प्रबंधकों ने गुरुद्वारा प्रबंधकों से बात करके दीवार का निर्माण रुकवा दिया। 
... और पढ़ें

जालंधरः अपनी ही सहेली को नशीली कोल्ड ड्रिंक पिलाकर भाई से दुष्कर्म कराने वाली युवती गिरफ्तार

अपनी ही सहेली को नशीली कोल्ड ड्रिंक पिलाकर भाई से दुष्कर्म करवाने वाली युवती को थाना लांबड़ा की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।आरोपी भाई गुरविंदर सिंह अभी फरार है। उसे पकड़ने के लिए पुलिस छापामारी कर रही है। जानकारी के अनुसार साल 2017 में आरोपी की बहन पीड़िता को बाजार जाने का कह कर अपने घर लेकर गई और वहां पर उसने उसे नशीली कोल्ड ड्रिंक पिलाई थी। 

इसके बाद अपने भाई गुरविंदर सिंह से दुष्कर्म करवा दिया था। साथ ही पीड़ित युवती की आपत्तिजनक तस्वीरें व वीडियो भी बनाई गई थी। इसके बाद आरोपी उसे ब्लैकमेल कर कई बार शारीरिक संबंध बनाता रहा। डर के मारे पीड़िता ने किसी को कुछ नहीं बताया और परेशान रहने लगी। 

एक बार जब फिर से आरोपी ने शारीरिक संबंध बनाने के लिए बुलाया तो पीड़िता ने उसे मना कर दिया। इस पर आरोपी ने उसकी अश्लील तस्वीरें पीड़िता के मामा को व्हाट्सएप कर दी। इसके बाद पीड़िता के मामा ने तस्वीरों के बारे में पीड़िता के घरवालों को बताया। 

घर पता चलने पर पीड़िता ने सारी कहानी अपनी दादी को बताई। इसके बाद दादी और दादा पीड़िता को साथ लेकर थाना लांबड़ा पहुंचे और आरोपी के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई। थाना लांबड़ा के एसएचओ पुष्प बाली ने बताया कि पुलिस ने गुरविंदर सिंह और उसकी बहन के खिलाफ कई धाराओं में केस दर्ज किया है। आरोपी युवती को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अब आरोपी गुरविंदर की तलाश जारी है। 
... और पढ़ें

किसानों के लिए बड़े फायदे का सौदा है ऑर्गेनिक खेती और लोगों के स्वास्थ्य के लिए भी, जानिए कैसे

आपकी रसोई में जो गेहूं इस्तेमाल हो रहा है और जो सब्जियां पकाई जा रही हैं, क्या वह सेहत सुरक्षा की कसौटी पर खरी उतरती हैं? क्या आप जो फल खा रहे हैं, उसमें कीटनाशक दवाओं का इस्तेमाल तो नहीं किया गया है? यह ऐसे सवाल हैं जो आज के समय में खुद से करना जरूरी हो गया है। इसका मुख्य कारण है कि आज हम जो सब्जियां, फल और गेहूं आदि का इस्तेमाल कर रहे हैं, उसको उगाने, पकाने के लिए पेस्टिसाइड दवाओं का इस्तेमाल किया जा रहा है। जो हमारे शरीर के लिए घातक सिद्ध हो रहा है।

लेकिन अगर आप कुछ रुपये ज्यादा खर्च करें तो आपको ऑर्गेनिक सब्जियां, गेहूं, फल और अन्य ऐसे खाद्य पदार्थ मिल सकते हैं जो आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है। पंजाब में ऑर्गेनिक खेती की बात करें तो पंजाब में यह खेती 6 से 7 हजार एकड़ में की जा रही है। ऑर्गेनिक खेती करने वाले किसान इसमें सब्जियां, फल, सरसों का तेल, गेहूं, गन्ना, चावल आदि की फसलें लगा रहे हैं। इसमें 90 प्रतिशत जो ऑर्गेनिक फसल उगाई जा रही है वह गेहूं, चावल और गन्ने की ही है। मात्र 10 प्रतिशत रकबा ऐसा है, जिस पर सब्जियों और फलों की खेती की जाती है।

सब्जियों और फलों की खेती कम होने का कारण यह है कि सब्जियों व फलों की सेल के लिए कोई बड़ी मार्केट नहीं है। जिसमें किसान जाकर अपनी फसल बेच सकें। यह ही कारण है कि किसान ज्यादातर गेहूं, चावल और गन्ना उगाने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं। गेहूं, चावल और गन्ने की खरीद जल्द हो जाने के कारण किसान इनकी खेती करना ज्यादा फायदेमंद समझते हैं।
... और पढ़ें

लिव इन में रह रही महिला को उतारा था मौत के घाट, अब जेल में गुजरेगी उम्र

आर्गेनिक खेती
अपने पति से अनबन के बाद पति व दो बच्चों को छोड़कर अपने प्रेमी के साथ लिव इन में रह रही सतिन्दर कौर की हत्या के करीब डेढ़ साल पुराने मामले में अदालत ने दोषी को उम्रकैद की सजा सुनाई।

वीरवार को अतिरिक्त जिला व सत्र न्यायाधीश नीलम अरोड़ा की अदालत ने प्रेमी लखविंदर सिंह उर्फ राजू निवासी सिंहपुर को उम्रकैद और 50 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई। जुर्माना न भरने पर दोषी को और 6 महीने की कैद की अतिरिक्त कैद काटनी होगी।

थाना चब्बेवाल पुलिस ने 17 मार्च 2018 को लखविन्दर सिंह के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया था। मृतका के भाई गुरदीप सिंह ने पुलिस को बताया था कि शादी के 18 साल बाद सतिन्दर कौर के गांव सिंहपुर के निवासी लखविन्दर सिंह उर्फ राजू से संबंध बन गए थे जिससे घर में तनाव रहने लगा।

करीब 3 साल पहले पंचायती समझौते के मुताबिक अपने दो बच्चों व पति को छोड़कर सतिन्दर कौर छोटे बेटे जश्नप्रीत सिंह के साथ राजू के घर में रहने लगी थी। 16 मार्च 2018 की देर रात दोनों के बीच झगड़ा हुआ जिस दौरान सिर में गंभीर चोट लगने से सतिन्दर की मौत हो गई थी। अदालत ने आरोपी लखविंदर सिंह राजू को दोषी करार देते हुए सजा सुनाई।
... और पढ़ें

रविदास समाज के लोगों ने लगाया जाम

पंजाबः विकराल हुई बाढ़ की स्थिति, 561 गांव प्रभावित, छह ट्रेनें रद्द, हेलीकॉप्टर मदद में लगे

पंजाब में 561 गांव बाढ़ की चपेट में हैं और लोगों के पास खाने-पीने का सामान नहीं है। यह देखते हुए सेना और वायुसेना ने सराहनीय कदम उठाया है। एनडीआरएफ की टीम, सेना और पुलिस बचाव व राहत कार्य में जुटी हुई है। वहीं छह ट्रेनें भी रद्द कर दी गई हैं। 

पंजाब ने 1000 करोड़ का विशेष बाढ़ राहत पैकेज मांगा
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर पंजाब में बाढ़ से हुए नुकसान की भरपाई के लिए 1000 करोड़ रुपये के विशेष पैकेज की मांग की। कैप्टन ने प्रधानमंत्री से यह भी आग्रह किया कि वे संबंधित अधिकारियों को बाढ़ पीड़ित किसानों के फसली कर्ज को माफ करने का निर्देश दें।

मुख्यमंत्री ने बताया कि वर्ष 1958 के बाद भाखड़ा बांध से सतलुज दरिया में अब तक सबसे ज्यादा पानी छोड़े जाने के कारण बाढ़ के हालात पैदा हुए हैं। इससे खेतों में खड़ी फसलों के साथ गांवों में पानी भर गया है। बाढ़ से हुए नुकसान का आरंभिक आंकलन 1700 करोड़ रुपये से अधिक का है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हालात की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार ने प्रभावित क्षेत्रों में प्राकृतिक आपदा घोषित की है।

सतलुज नदी में बाढ़ ने कई स्थानों पर, खासकर रोपड़, लुधियाना, जालंधर और कपूरथला जिलों में 100 गांवों के खड़ी फसलों, घरों समेत ग्रामीण और शहरी बुनियादी ढांचे को गंभीर रूप से नुकसान पहुंचाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने राज्य सरकार के संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया था कि वे केंद्र्र सरकार के विचारार्थ रिपोर्ट तैयार करे। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि राज्य के 326 गांवों पर बाढ़ का प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है, जिससे लगभग 1.20 लाख एकड़ क्षेत्र में खड़ी फसलें जलमग्न होकर नष्ट हो गई हैं। लोगों को बचाने के लिए सेना, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की मदद ली ली गई है।

शाहकोट सब डिवीजन के बाढ़ प्रभावित 18 गांवों के लोगों को राहत पहुंचाने के लिए सेना के छह हेलीकॉप्टर तैनात तैनात किए हैं। जिला प्रशासन ने सेना के सहयोग से हेलीकॉप्टर के जरिये 36000 पराठे, पानी और 18000 राशन के पैकेट उपलब्ध करवाए।

यह भी पढ़ें- 
पंजाब के 13 जिले बाढ़ की चपेट में, चार हजार हेक्टेयर फसल तबाह, जन जीवन भी अस्त-व्यस्त

जिलाधीश जालंधर वरिंदर कुमार शर्मा ने मंगलवार की शाम मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्मार्ट सिटी जतिंदर जोरवाल के साथ एसडीएम परमवीर और जिला खुराक और सप्लाई कंट्रोलर नरिंदर सिंह की टीम भोजन के पैकेट तैयार कराने के लिए गठित की। 

इसके बाद पानी की बोतल के साथ सूखे राशन के पैकेट तैयार करने के लिए व्यक्ति लगाए गए। इसी तरह गुरुद्वारा बाबा निहाल सिंह की प्रबंधक समिति की तरफ से बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए 36000 पराठे उपलब्ध करवाए गए। भोजन के यह पैकेट सुबह जालंधर कैंट में पहुंचाए गए। वहां से जिलाधीश वरिंदर कुमार शर्मा और एसएसपी नवजोत सिंह माहल की निगरानी में भोजन के पैकेटों को 6 हेलीकॉप्टरों में भरा गया। 
... और पढ़ें

जिसने बचाई बाप की जान, बेटे ने उसे ही 28 बार चाकू घोंपकर मार डाला, जानें वजह

जालंधर के थाना कैंट और सीआईए स्टाफ-1 की पुलिस ने मंगलवार रात हुए रिटायर्ड अध्यापक की हत्या का खुलासा कर आरोपी को काबू कर लिया है। उससे सख्ती से पूछताछ की जा रही है।

प्रेस वार्ता में पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि मंगलवार रात रिटायर्ड टीचर तरसेम लाल अग्रवाल निवासी पंचशील एवेन्यू जालंधर कैंट की लाश मिलिट्री अस्पताल की पीछे सोफी पिंड को जाते कच्चे रास्ते पर मिली थी। मृतक के शरीर पर तेजधार हथियार से वार के 28 कट लगे थे। थाना कैंट में मृतक के भांजे मनीष बांसल के बयान पर मामला दर्ज कर लिया गया था।

कमिश्नर भुल्लर ने बताया कि मामले के खुलास के लिए एडीसीपी-2 परमिंदर सिंह भंडाल, एसीपी कैंट रविंदर पाल सिंह, एसीपी हेडक्वार्टर विमल कांत, एसीपी डिटेक्टिव कमलजीत सिंह और सीआईए स्टाफ के इंचार्ज हरमिंदर सिंह की संयुक्त टीम का गठन किया गया था। पुलिस ने बारीकी से जांच शुरू की तो इनपुट मिला, जिसकी बिनाह पर पुलिस ने आरोपी सन्नी पुत्र तिलकराज निवासी मकान नंबर 21 मोहल्ला नंबर 4 कैंट को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। 

यह भी पढ़ें- 
पंजाब के अमृतसर में मिले युवक और युवती के शव, धड़ से अलग दोनों के सिर, स्कूटी भी बरामद
... और पढ़ें

सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह को राखी बांधने के मामले में खुफिया एजेंसी भी फेल, भनक तक नहीं लगी

किसान की बेटी बताकर कैप्टन अमरिंदर सिंह को अधिकारी द्वारा अपनी बेटी से राखी बंधवाने के मामले की खुफिया एजेंसियों को भनक तक नहीं लगी। अमर उजाला द्वारा खबर प्रकाशित करने के बाद मामले की पूरी छानबीन खुफिया एजेंसियों ने शुरू कर दी है और एक प्राइमरी रिपोर्ट बनाकर सीएम हाउस भेज दी गई है। शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने भी अपने स्तर पर जांच शुरू कर दी है।

वहीं कोमलप्रीत जिसे किसान की बेटी बताकर सीएम को राखी बंधवाई गई थी और जिसका पता गांव स्लेमपुर बताया गया था। जबकि हकीकत यह है कि कोमलप्रीत के पिता जिला साइंस सुपरवाइजर बलजिंदर सिंह मिल्क प्लांट के निकट बैंक एन्क्लेव में रहते हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह को राखी बांधने के लिए जिन पांच लड़कियों को बुलाया गया था, वह अलग अलग वर्ग से थी।

इन पांचों लड़कियों को स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों की तरफ से बुलाया गया था। इसकी पूरी जानकारी सीएम सिक्योरिटी से लेकर स्थानीय पुलिस प्रशासन को भी दी गयी थी। वहीं कोमलप्रीत एक किसान नहीं अधिकारी की बेटी है, इसके बारे में स्थानीय पुलिस व खुफिया विभाग को पता ही नहीं चला।

मंगलवार को खबर छपने के बाद खुफिया एजेंसियों के आला अधिकारी हरकत में आए और इस पर पूरा होमवर्क शुरू किया गया। इसमें प्राथमिक स्तर पर ही पाया गया कि सीएम को राखी बांधने के लिए पांच लड़कियां ही आई थी, जिसमें एक किसान की बेटी कोमलप्रीत दरअसल एक अधिकारी की बेटी थी। एजेंसियों के आला सूत्रोें के मुताबिक सारे इनपुट और रिपोर्ट बनाकर चंडीगढ़ भेजी गई है।
... और पढ़ें

पंजाब में महंगा हुआ बस का सफर, बढ़ा किराया हुआ लागू, जानें कितनी हुई वृद्धि

पंजाब में बस का सफर अब महंगा हो गया है। प्रदेश सरकार ने सोमवार मध्यरात्रि से बसों का किराया बढ़ा दिया है। इससे आम लोगों की जेबों पर अतिरिक्त बोझ पड़ेगा। उधर पेप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन (पीआरटीसी) के अधिकारियों का कहना है कि सरकार ने डीजल के बढ़ते रेट और कारपोरेशन मुलाजिमों की बढ़ती तनख्वाहों का खर्चा पूरा करने के लिए फैसला लिया है।

कैप्टन सरकार के नए फैसले के मुताबिक साधारण बस के किराये में पहले की तुलना में पांच पैसे प्रति किलोमीटर की बढ़ोतरी की गई है। पहले जहां साधारण बस का किराया एक रुपये 9 पैसे था, वह अब बढ़कर एक रुपये 14 पैसे कर दिया गया है। सेमी एसी बस के किराये में 20 फीसदी, एसी बस के किराये में 80 फीसदी और वोल्वो बस के किराये में 100 फीसदी की वृद्धि की गई है। ट्रांसपोर्ट विभाग ने विभिन्न डिपो के जनरल मैनेजरों को मंगलवार से बढ़ा किराया वसूलने के आदेश जारी कर दिए हैं। 

पीआरटीसी अधिकारियों के मुताबिक पिछले कुछ समय से डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। इस कारण बढ़े खर्चों के कारण कारपोरेशन मैनेजमेंट के लिए अपने मुलाजिमों को तनख्वाहें देना तक मुश्किल हो रहा था। इसके मद्देनजर सरकार से लगातार बसों का किराया बढ़ाने की मांग की जा रही थी। 

पीआरटीसी के मैनेजिंग डायरेक्टर गुरलवलीन सिंह सिद्धू ने बताया कि बसों का किराया बढ़ने से कारपोरेशन की रोजाना की आमदनी पांच लाख रुपये तक बढ़ जाएगी। इससे कारपोरेशन को वित्तीय फायदा ही होगा। उन्होंने बताया कि सरकार का यह फैसला सारे सरकारी ट्रांसपोर्ट व निजी बसों पर लागू होगा।
 

साधारण बसों के किराये में बदलाव

         रूट                  पहले किराया        अब 
पटियाला-अमृतसर              285         296.67
पटियाला-जालंधर                200         207.70
पटियाला-लुधियाना             110         114.59
पटियाला-चंडीगढ़                 90          93.50
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree