लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow News ›   Uncle beat niece's lover to death with a stick

Lucknow News: भांजी के प्रेमी को मामा ने डंडे से पीटकर मार डाला

संवाद न्यूज एजेंसी, लखनऊ Updated Mon, 13 Mar 2023 12:55 AM IST
Uncle beat niece's lover to death with a stick
परशदेपुर (रायबरेली)। डीह थाना क्षेत्र में गला घोंटकर एक किशोर की हत्या कर दी गई। उसका शव खेत में पड़ा मिला। किशोर के माथे समेत शरीर के अन्य हिस्सों पर चोटों के निशान मिले हैं। पुलिस की शुरुआती जांच में प्रेम-प्रसंग में हत्या किए जाने की बात सामने आई है। पुलिस ने एक युवती समेत छह लोगों को हिरासत में लिया है। बाद में पुलिस ने मामले में किशोरी के मामा वीरेंद्र लोध को गिरफ्तार कर लिया।

बरावां गांव निवासी प्रेम कुमार (16) पुत्र हरिश्चंद्र विश्वकर्मा शनिवार शाम घर से खेत के लिए निकला था। काफी देर तक जब वह नहीं लौटा तो बहन रुबी ने उसे फोन किया। प्रेम कुमार ने बहन से कहा था कि वह गांव के किनारे पहुंच गया है। जल्द घर आ रहा है। करीब आधे घंटे बाद बहन ने फिर फोन मिलाया तो मोबाइल स्विच ऑफ बताने लगा। काफी खोजबीन के बाद भी पता न चलने पर शनिवार रात करीब 10.20 बजे परिजनों ने परशदेपुर चौकी पुलिस व डॉयल 112 को बेटे के लापता होने की सूचना दी। पुलिस ने पहुंचकर जांच शुरू की। इधर, किशोर की खोजबीन की जा रही थी। रविवार सुबह 6.30 बजे घोरहा गांव के पास रामनरेश के खेत मेें प्रेम कुमार का शव मिलरे से दहशत फैल गई। थोड़ी ही देर में वहां काफी भीड़ जमा हो गई। किशोर के गले पर चोटों के निशान थे। माथे पर चोट के निशान थे। इससे आशंका जताई जा रही है कि पहले उसके साथ मारपीट की गई और फिर गला घोंटकर उसे मार दिया गया। सूचना पर पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी, सीओ सलोन अमित सिंह, थानेेदार प्रवीर गौतम ने मौके पर पहुंचकर जांच की। फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल से सबूत जुटाए। जांच में प्रेमकुमार का एक लड़की से प्रेम-प्रसंग चलने की बात सामने आई है। थानेदार प्रवीण गौतम ने बताया कि मोबाइल कॉल डिटेल के आधार पर गदागंज के अलीपुर चकराई निवासी किशोरी के मामा वीरेंद्र लोध को पकड़ लिया गया है। वीरेंद्र ने ही प्रेमकुमार की डंडे से पीटकर हत्या कर दी।


पिता के साथ फर्नीचर की दुकान पर करता था काम
किशोर की हत्या से परिजनों में कोहराम मचा है। मां गीता देवी के आंसू नहीं थम रहे हैं। प्रेमकुमार अपने पांच भाई-बहनों में सबसे छोटा था। पिता हरिश्चंद्र की परशदेपुर कस्बे में फर्नीचर की दुकान है। वह अपने पिता के साथ दुकान पर रहकर काम में हाथ बंटाता था।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

फॉन्ट साइज चुनने की सुविधा केवल
एप पर उपलब्ध है

बेहतर अनुभव के लिए
4.3
ब्राउज़र में ही
एप में पढ़ें

क्षमा करें यह सर्विस उपलब्ध नहीं है कृपया किसी और माध्यम से लॉगिन करने की कोशिश करें

Followed