लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Jammu and Kashmir ›   Jammu News ›   jammu kashmir National Conference party elections on December 5 Omar Abdullah could be next president

J&K: फारूक अब्दुल्ला ने नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष पद को छोड़ने की घोषणा की, उमर को मिल सकती है कमान

अमर उजाला नेटवर्क, श्रीनगर Published by: kumar गुलशन कुमार Updated Fri, 18 Nov 2022 05:09 PM IST
सार

नेकां के पार्टी चुनाव आगामी पांच दिसंबर को होने जा रहे हैं। फारूक अब्दुल्ला ने नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की घोषणा की है।

उमर अब्दुल्ला, फारूक अब्दुल्ला
उमर अब्दुल्ला, फारूक अब्दुल्ला - फोटो : फाइल

विस्तार

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद फारूक अब्दुल्ला ने शुक्रवार को नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की घोषणा की है। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह नई पीढ़ी को कमान सौंपने का समय है।



फारूक अब्दुल्ला ने कहा, 'मैं अब अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ूंगा। इस पद के लिए चुनाव पांच दिसंबर को होगा। नई पीढ़ी के लिए जिम्मेदारी संभालने का समय आ गया है। पार्टी से कोई भी इस पद के लिए चुनाव लड़ सकता है। यह एक लोकतांत्रिक प्रक्रिया है।' नेकां के पार्टी चुनाव आगामी पांच दिसंबर को होने जा रहे हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला पार्टी के नए अध्यक्ष बन सकते हैं।

पार्टी चुनाव तक अध्यक्ष बने रहेंगे डॉ. फारूक 

उधर, डॉ. फारूक अब्दुल्ला के अध्यक्ष पद से इस्तीफे की खबरों के बीच नेकां नेता तनवीर सादिक ने ट्वीट किया है कि डॉ. अब्दुल्ला पार्टी अध्यक्ष पद पर बने रहेंगे। पार्टी प्रवक्ता इमरान डार ने का कहना है कि वह अपने फैसले पर अटल हैं। उनके इस निर्णय सभी हैरान हैं। पार्टी अध्यक्ष के लिए चुनाव 5 दिसंबर को होंगे। उस समय तक डॉ. अब्दुल्ला अध्यक्ष बने रहेंगे।

जम्मू: नेशनल कांफ्रेंस के संभागीय अध्यक्ष ने भाजपा पर साधा निशाना 

इससे पहले गुरुवार को नेशनल कांफ्रेंस के संभागीय अध्यक्ष रतन लाल गुप्ता ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि विभाजनकारी ताकतों के खिलाफ लोगों को एकजुट होना समय की जरूरत है। शेर-ए-कश्मीर भवन में गुप्ता ने अन्य नेताओं के साथ संभागीय समिति के नवमनोनीत सदस्यों को सम्मानित करते हुए यह बात कही।

रतन लाल गुप्ता ने कहा कि जम्मू कश्मीर में धर्मनिरपेक्षता पर आधारित संस्कृति फलती फूलती रही है, लेकिन अब निहित स्वार्थों के लिए सांप्रदायिक ताकतें धर्मनिरपेक्षता को निशाना बना रही हैं। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ एकजुट होकर काम करें। हर कीमत पर धर्मनिरपेक्षता को कायम रखना नेशनल कांफ्रेंस का मुख्य एजेंडा है। 

वहीं, नेकां के केंद्रीय सचिव अजय सडोत्रा ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि इस पार्टी ने जम्मू कश्मीर के लोगों की मुश्किलों को बढ़ाने का काम किया है। प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर है। वहीं, बाबू रामपाल ने विधानसभा चुनाव से पहले जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा बहाल करने की मांग की। उन्होंने कहा भाजपा सरकार पिछले चार साल से जम्मू कश्मीर के लोगों को लोकतांत्रिक सरकार से वंचित रखे हुए है। इस अवसर पर जिला अध्यक्ष चंद्र मोहन शर्मा, अयुब मलिक ने संबोधन किया।
कार्यक्रम के दौरान संभागीय समिति के सदस्यों में उपाध्यक्ष बृज मोहन शर्मा, एसएस बंटी, शेख बशीर अहमद, प्रदीप बाली, सुरजीत सिंह मन्हास, डॉ. गफूर अहमद, जुगल महाजन, बिमला लुथरा, विजय लक्ष्मी दत्ता, भूषण लाल भट, दीपेंद्र कौर आदि मौजूद रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

क्षमा करें यह सर्विस उपलब्ध नहीं है कृपया किसी और माध्यम से लॉगिन करने की कोशिश करें

;