लुटेरी बहू पानीपत से गिरफ्तार

ब्यूरो / अमर उजाला , सिरसा Updated Mon, 25 Jul 2016 01:05 AM IST
विज्ञापन
शोषण
शोषण - फोटो : Desk

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें
शादी के एक दिन बाद जेवर व रुपया लेकर फरार हुई बहू को पुलिस ने आखिरकार पुलिस ने तलाश कर गिरफ्तार कर लिया। उसके साथ-साथ गिरोह के दो सदस्य भी पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। जो इस शादी की साजिश में शामिल थे। शहर थाना पुलिस ने बहू माया को पानीपत के जगदीश नगर और उसे साथी शहाबुदीन को छोटू राम चौक से काबू किया। गिरोह में शामिल बिचौलिया पप्पू खान सहित तीनों आरोपियों को रविवार दोपहर ड्यूटी मजिस्ट्रेट समक्ष पेश किया गया। मजिस्ट्रेट ने आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। खास बात है कि पुलिस फरार हुई बहू को चांदनी मनाकर उसकी तलाश करती रही, लेकिन जब वो पकड़ में आई पता चला कि उसका नाम चांदनी नहीं माया है। माया के मायाजाल में एक परिवार लाखों की धोखाधड़ी का शिकार हो गया।
विज्ञापन

 सिरसा के इंद्रपुरी  मोहल्ले निवासी सोमनाथ पिछले दो सालों से कैंसर की बीमारी से ग्रस्त है। उसकी इच्छा थी कि वह इस संसार को छोड़ने से पहले अपने पुत्र के सिर पर सेहरा देख ले। बीमार पिता की इच्छा पूरी करने के लिए पुत्र तिलकराज तैयार हो गया। परिवार वाले लड़की ढूंढने लगे। ऐसे में ढाणी तेजा सिंह निवासी पप्पू खान उर्फ अलादीन जो की सोमनाथ को काफी समय से जानता है, उसने सोमनाथ से कहा कि उसकी नजर में एक अच्छी व सुशील लड़की है, जिसका नाम चांदनी और वो पानीपत रहती है। उसने लड़की की फोटो सोमनाथ को दिखाई। पप्पू खान ने लड़की की मां को फोन करके बताया कि 20 मई को लड़के वाले उसे देखने आ रहे हैं। 20 माई 2016 को पूरा परिवार पप्पू खान के साथ गाड़ी में सवार होकर पानीपत पहुंच गया। तिलकराज व चांदनी ने एक-दूसरे को पसंद कर लिया। इसके बाद पप्पू खान ने शादी करवाने के लिए एक लाख रुपये लिए। तिलकराज व चांदनी ने एक-दूसरे को व रमाला पहनाकर पारिवारिक लोगों के बीच शादी कर ली। रात को परिवार अपनी बहू को लेकर सिरसा अपने घर पहुंचा। एक दिन बाद ही बहू चांदनी ने रात को भोजन में नशीला पदार्थ मिलाकर सभी को खिला दिया। देर रात जब सभी लोग बेसुध हो गए तो चांदनी सारे गहने व रुपये लेकर ससुराल से भाग गई। होश आने पर परिवार वालों को चांदनी घर से लापता मिली। परिवार पानीपत उसे घर गया तो वहां ताला लगा हुआ मिला।
आसपास के लोगों से पूछा तो पता चला कि चांदनी एक गिरोह में शामिल। यह गिरोह शादी करवार लोगों को ठगता है। यह जानकर परिवार के पैरों तले जमींन सरक गई। बाद में पता चला कि बिचौलिया पप्पू खान भी इस गिरोह का सदस्य है और शादी करवाने के नाम पर उसने सारी साजिश रची थी। परिवार के मुखिया सोमनाथ ने सिटी थाने में जाकर शारी करवाने वाले पप्पू खान उर्फ अलादीन, बहू चांदनी व अन्य के खिलाफ शिकायत दी और पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी, साजिश रचने सहित अन्य अपराधिक धाराओं के तहत अभियोग दर्ज कर लिया। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई दो महीने बाद फरार बहू और उसके साथियों को पुलिस पकडने में कामयाब हुई।
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us