रोडवेज यूनियन दो फाड़, दौड़ीं बसें

अमर उजाला, पानीपत Updated Tue, 21 Jan 2014 11:58 PM IST
पानीपत। हरियाणा रोडवेज तालमेल कमेटी की यूनियन हड़ताल को लेकर दो फाड़ हो गईं और दूसरे दिन सड़क पर रोडवेज बसें दौड़ीं।

सर्व कर्मचारी संघ ने हड़ताल जारी रखी और सरकार की नीतियों का विरोध किया। हड़ताल में बस तो सड़क पर चली। लेकिन बसों को पर्याप्त सवारी नहीं मिलीं। हरियाणा रोडवेज तालमेल कमेटी ने दो दिन तक चक्का जाम रखने की चेतावनी दी थी, लेकिन मंगलवार तड़के तालमेल कमेटी में शामिल सर्व कर्मचारी संघ को छोड़ बाकी यूनियनों ने हड़ताल वापस ले ली।

सर्व कर्मचारी संघ ने बस अड्डे पर धरना देकर सरकार विरोधी नारेबाजी की। डिपो प्रधान सुलतान सिंह लठवाल ने कहा कि प्रदेश सरकार कर्मचारियों को अनदेखा कर रही है। सरकार ने कूटनीति का इस्तेमाल कर फूट डाली है। सरकार को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। इस मौके पर राजपाल सिंह, समेसिंह, सुमेर, महाबीर, वीरभान, दिलावर, जसवंत, अनिल, सुंदर, जमनादास और रामपाल मौजूद रहे।

कर्मचारी महासंघ ने कर्मचारी यूनियनों की कुछ मांगे मानने पर आभार जताया। कर्मचारी महासंघ समेत अन्य यूनियनों ने मंगलवार को डिपो पर आधा घंटा गेट मीटिंग की और सरकार का आभार व्यक्त किया। यूनियन नेता राजकुमार छौक्कर लने कहा कि यूनियन कर्मचारियों के हक को लेकर संघर्ष कर रही थी। सरकार ने बातचीत में उनकी मांगों को मान लिया है।

वे सरकार का आभार व्यक्त करते हैं। इस मौके पर रणबीर शर्मा, सतीश पंवार, बलवान भूरा, सतबीर शर्मा, रामदिया गिल, रमेश रावल और राकेश टागरा मौजूद रहे।

रोडवेज की पूर्व घोषित हड़ताल के वापस लेने पर सड़क पर बस तो चली, लेकिन यात्री नहीं मिले। रोडवेज की बसें दिनभर खाली दौड़ती रहीं। कई जगह बसों को यात्री मिले तो कई जगह नहीं। रोडवेज बसें किलोमीटर तो पूरे कर सकी। लेकिन आमदन इतनी नहीं कर सके। 

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

पानीपत में मेयर के भाई का अपहरण! एक किडनैपर दबोचा गया

पानीपत में मेयर सुरेश वर्मा के छोटे भाई नरेश को अगवा कर लिया गया। किडनैपर्स ने नरेश को यूपी में ले जाने की कोशिश की पर नाकेबंदी की वजह से नरेश को बबैल रोड पर ही छोड़कर भाग निकले।

10 दिसंबर 2017