विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम
Puja

मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

गैंगस्टर कपिल सांगवान के खास गुर्गे कुलदीप गिरफ्तार, मुठभेड़ में हुआ घायल

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए हत्या व कई अन्य संगीन वारदातों में शामिल बदमाश कुलदीप राठी को गिरफ्तार कर लिया है। कुलदीप राठी गैंगस्टर कपिल सांगवान का खास गुर्गा है।

गौरतलब है कि कुलदीप को सोमवार तड़के हुई पुलिस मुठभेड़ में दबोचा गया। सोमवार सुबह द्वारका इलाके में कुलदीप और पुलिस के बीच जबरदस्त मुठभेड़ हो गई। इस मुठभेड़ में कुलदीप के पांव में गोली लग गई, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

घायल बदमाश को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के बाद उसे जेल ले जाया जाएगा। कुलदीप दिल्ली-एनसीआर में हत्या, हत्या की कोशिश और फिरौती के कई मामलों में वांछित चल रहा था।


 
... और पढ़ें

पुलिस अधिकारी बन व्यापारी के एक करोड़ रुपये उड़ाए, जांच में जुटी स्पेशल सेल

चांदनी चौक इलाके में एक व्यक्ति ने खुद को पुलिस अधिकारी बताकर व्यवसायी के एक करोड़ रुपये उड़ा लिए। रुपये दो बैगों में भरे हुए थे। आरोपी ने पुलिस की वर्दी पहनी हुई थी। कोतवाली थाना पुलिस ने लूट की धारा में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल व अपराध शाखा को जांच में लगाया गया है।

उत्तरी जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, व्यवसायी अंकुर भाई के कर्मचारी पाटन (गुजरात) निवासी ठाकोर अजीत ने कोतवाली थाने में मामला दर्ज कराया है। अजीत ने अपनी शिकायत में कहा है कि वह व्यवसायी अंकुर की नया बाजार स्थित दुकान पर काम करता है। 

मालिक ने 25 सितंबर को दूसरे कर्मचारी राकेश को साथ लेकर बाराखंभा से कुछ सामान लाने को कहा। यहां पर उपासना बिल्डिंग के पास एक व्यक्ति ने उन्हें तीन बैग दिए। उसने एक बैग को खोलकर चेक किया तो उसमें 500-500 की गड्डियों में 40 लाख रुपये थे। नोटों से भरे कुल तीन बैग थे। तीनों बैग को ऑटो से लेकर रंजीत फ्लाईओवर व राजघाट होते हुए देर शाम करीब सात बजे छत्ता रेल की ट्रैफिक लाइट पर पहुंच गए, तभी बाईं तरफ एक स्विफ्ट कार आकर रुकी। उसमें एक पुलिस की वर्दी में एक शख्स बैठा हुआ था। 

उक्त व्यक्ति ने पूछा कि बैगों में क्या है, तो उसने बताया कि सामान है, तभी राकेश एक बैग लेकर ऑटो से उतरकर भाग गया। उक्त व्यक्ति ने दो बैगों के साथ अजीत को कार में बिठा लिया। वह कार को लालकिले की तरफ ले गया। यहां पर उक्त व्यक्ति ने धमकाकर उससे उसका मोबाइल ले लिया। इसके बाद आरोपी शांति वन होते हुए हनुमान मंदिर पहुंच गया। 

फ्लाईओवर पार करवाकर उसने कार रोकी और अजीत को उतार दिया। आरोपी नोटों से भरे दो बैग लेकर फरार हो गया। इसके बाद व्यवसायी व उसके कर्मचारी ने आरोपी को तलाश किया। वह कहीं नहीं मिला तो इसकी शिकायत शुक्रवार रात करीब 9.30 बजे कोतवाली थाना पुलिस को की। उत्तरी जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, एक बैग में 40 लाख रुपये थे और दूसरे में 60 लाख रुपये थे।
... और पढ़ें

डीयू का छात्र साथी संग गिरफ्तार, बेचता था मोबाइल ऐप के जरिए चरस

दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक करने के दौरान चरस की लत लगने के बाद करोल बाग निवासी ध्रुव सरीन (30) इसकी तस्करी करने लगा। पुलिस ने उसे साथी तस्कर पूसा रोड निवासी समीर शर्मा (28) के साथ गिरफ्तार किया है। इनके पास से 400 ग्राम चरस और 500 मिलीग्राम भांग का तेल बरामद किया गया है। हिमाचल से चरस और भांग का तेल लाकर ये उसे मोबाइल ऐप के जरिए दिल्ली व एनसीआर में बेचते थे।

पुलिस उपायुक्त जी. रामगोपाल नायक ने बताया कि 27 सितंबर को क्राइम ब्रांच के नारकोटिक्स सेल में तैनात निरीक्षक शिव दर्शन को ध्रुव सरीन और समीर के पश्चिमी दिल्ली और गुरुग्राम में चरस सप्लाई करने की सूचना मिली। पुलिस ने उन पर निगरानी रखी और शंकर रोड के पास से इन्हें गिरफ्तार कर लिया। उनकी होंडा सिटी कार की तलाशी में 400 ग्राम चरस और 500 मिलीग्राम भांग का तेल मिला। 

पूछताछ में ध्रुव ने बताया कि डीयू से पत्राचार से स्नातक करने के दौरान वह गलत संगत में पड़कर चरस का सेवन करने लगा। उसकी मुलाकात हिमाचल के भुंतर के रहने वाले एक व्यक्ति से हुई। वह हिमाचल से चरस लाकर दिल्ली व एनसीआर में सप्लाई करता था। 

ध्रुव ने एक होंडा सिटी कार खरीदी और इससे चरस की सप्लाई करने लगा। वहीं समीर शर्मा को गुरुग्राम के एक नामी इंस्टीट्यूट में पढ़ाई करने के दौरान चरस की लत लग गई। अपने दोस्तों के जरिए उसकी मुलाकात ध्रुव से हुई। इसके बाद दोनों पार्टनरशिप में चरस की तस्करी करने लगे। 

हालांकि समीर ने होटल व्यवसाय और रियल इस्टेट कारोबार में हाथ आजमाने की कोशिश की, लेकिन नशे की लत की वजह से कामयाब नहीं हो पाया। ध्रुव ने बताया कि उसके ग्राहक सीमित हैं और वह मोबाइल ऐप के जरिए संपर्क करते थे। वह किसी अनजान व्यक्ति के साथ ड्रग्स की खरीद-बिक्री नहीं करता था।

खुद इरेज हो जाती है ऐप की हिस्ट्री
पूछताछ के दौरान ध्रुव सरीन ने बताया कि उसने गूगल प्ले स्टोर से कुछ ऐसे ऐप को डाउनलोड किया था, जिनके जरिए वॉयस, वीडियो और चैटिंग हो जाती है, लेकिन उनकी हिस्ट्री चंद मिनट बाद अपने आप डिलीट हो जाती है। 

आरोपी ने खुलासा किया है कि समय-समय पर वे अपने ऐप को बदलकर दूसरे ऐप का इस्तेमाल करते हैं। ध्रुव ने खुलासा किया है कि चूंकि इस तरह के ऐप पर जांच एजेंसियों की नजर रहती है, इसी वजह से उनका इस्तेमाल लंबे समय तक नहीं किया जाता था। उस ऐप के प्रचलित होने पर उसका इस्तेमाल बंद कर दिया जाता है। इसका बाद गूगल प्ले स्टोर पर नया ऐप देखकर उसके माध्यम से धंधा किया जाता था।
... और पढ़ें

दिल्लीः घर के बाहर खड़ी थी गौतम गंभीर के पिता की एसयूवी, हुई चोरी

गौतम गंभीर के पिता की कार हुई चोरी गौतम गंभीर के पिता की कार हुई चोरी

बालकनी से घुसे चोर ने पहले युवती से किया दुष्कर्म फिर जान से मारने की कोशिश, गिरफ्तार

दिल्ली के दरियागंज में 27 वर्षीय एक लॉ ग्रैजुएट का एक चोर ने न सिर्फ शारीरिक शोषण किया बल्कि गला दबाकर उसकी हत्या का भी प्रयास किया। पुलिस ने कहा है कि उसने आरोपी चोर को गिरफ्तार कर लिया है और उस पर दुष्कर्म व हत्या के प्रयास के आरोप लगाए हैं।

पुलिस के अनुसार यह घटना रविवार की है जब महिला अपने घर पर अकेली थी। महिला के अनुसार आरोपी उसके घर में बाल्कनी से घुसा था और इससे पहले कि वो कुछ समझ पाती उससे जबरदस्ती करने लगा। उसने युवती को धमकी दी कि पड़ोसियों को बताने की कोशिश की तो उसे मार डालेगा।

यह है पूरा मामला
निजामुद्दीन थाना पुलिस ने जंगपुरा में युवती से दुष्कर्म करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान सोनू के रूप में हुई है। वह न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी के तैमूर नगर का निवासी है। आरोपी के खिलाफ चोरी के पहले से आठ मामले दर्ज हैं।

दक्षिण-पूर्वी जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, आरोपी को शुक्रवार को जंगपुरा से ही गिरफ्तार किया गया। आरोपी तीन दिन पहले जंगपुरा में रहने वाली एक युवती के घर में चोरी करने की नीयत से घुसा था। आरोपी ने युवती को घर में अकेला देखकर उसके साथ दुष्कर्म किया। 
... और पढ़ें

दिल्ली पुलिस ने जफरुल इस्लाम को जारी किया नोटिस, 12 मई तक जमा करें मोबाइल और लैपटॉप

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरुल इस्लाम खान को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने नोटिस जारी किया है। उन्हें 12 मई तक उस लैपटॉप या मोबाइल को जमा करने को कहा गया है, जिससे उन्होंने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट शेयर की थी।

मालूम हो कि यह सारा विवाद जफरुल द्वारा किए गए एक विवादित पोस्ट से खड़ा हुआ है। उन्होंने फेसबुक पर लिखा था कि जिस दिन मुसलमानों ने अरब देशों से अपने खिलाफ जुल्म की शिकायत कर दी, सैलाब आ जाएगा। इस पोस्ट के बाद भाजपा ने इसका विरोध करते हुए उनसे इस्तीफा मांगा।

जफरुल इस्लाम ने मंगलवार को अपनी लंबी फेसबुक पोस्ट में लिखा था कि भारतीय मुस्लिमों के साथ खड़े होने के लिए धन्यवाद कुवैत। हिंदुत्व विचारधारा के लोग सोचते हैं कि कारोबारी हितों की वजह से अरब देश भारत के मुस्लिमों की सुरक्षा की चिंता नहीं करेंगे। 

वे भूल गए कि भारतीय मुस्लिमों के अरब और मुस्लिम देशों से कैसे रिश्ते हैं। जिस दिन मुसलमानों ने अरब देशों से अपने खिलाफ जुल्म की शिकायत कर दी, सैलाब आ जाएगा।

विवाद खड़ा होने पर जफरुल इस्लाम ने स्पष्ट किया कि उन्होंने कभी भी देश के खिलाफ जाकर नहीं बोला है। हिंदुत्व का मतलब कुछ लोग भारत से जोड़ रहे हैं। यह गलत है। उन्होंने इस मामले में कानूनी कार्रवाई की चेतावनी भी दी है।

वहीं इस पोस्ट के बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जफरुल इस्लाम खान के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कर लिया। शुक्रवार को जफरुल ने दिल्ली हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की, जिसपर मंगलवार को सुनवाई होगी।
... और पढ़ें

सोशल मीडिया पर 11वीं-12वीं के लड़कों ने ग्रुप बनाकर लड़कियों पर किए अश्लील कमेंट

सोशल मीडिया पर रविवार शाम वायरल हुए चैट ग्रुप ‘ब्यॉज लॉकर रूम’ की कारगुजारी ने अभिभावकों को स्तब्ध कर दिया। दिल्ली एनसीआर के प्रतिष्ठित स्कूलों में पढ़ने वाले 11वीं और 12वीं के लड़कों ने अपने साथ पढ़ने वाली और दोस्त लड़कियों को लेकर जिस तरह की भद्दी और अश्लील टिप्पणियां की हैं वे बेहद शर्मनाक हैं। यहां तक कि लड़कों ने पोल खुलने पर एक और ग्रुप बनाकर लड़कियों की अभद्र तस्वीरों को वायरल तक करने की योजना बनाई। 

मामले ने जब तूल पकड़ा तो दिल्ली पुलिस के साइबर सेल ने केस दर्ज किया। वहीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कड़ी कार्रवाई की मांग की है। आयोग ने दिल्ली पुलिस और इंस्टाग्राम को नाबालिग लड़कियों के बारे में अभद्र पोस्ट को लेकर नोटिस जारी किया है।

दरअसल, स्कूली छात्रों द्वारा इंस्टाग्राम पर चैट ग्रुप ‘ब्यॉज लॉकर रूम’ बनाया गया था। ग्रुप चलाने वाले लड़के 16 से 18 साल के हैं।  यह सब साथ पढ़ने वाली और अपनी मित्र किशोरियों के अंतरंग फोटो बिना उनकी जानकारी के शेयर करते थे। यहां तक कि इन लड़कियों पर बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी भी करते थे।



जब इस ग्रुप में एक नया लड़का जुड़ा तो उसने अपनी मित्र को यह बताया। सोशल मीडिया पर आशना शर्मा नामक यूजर ने इस ग्रुप को उजागर किया। उसने लिखा, मुझे अपनी जिंदगी में इतना ज्यादा गुस्सा कभी नहीं आया। इन लड़कों को अपनी करनी पर कोई पछतावा तक नहीं है। ये लड़के हमारे एकाउंट हैक कर लिख रहे हैं, हमें कोई नहीं रोक पाएगा। 

इसके बाद सोशल मीडिया पर मानो उफान आ गया। अब यह ग्रुप डीएक्टिव कर दिया गया है। सोशल मीडिया पर अभिभावक बेहद परेशान दिखे। ज्यादातर ने कहा, हम नहीं सोचते थे हमारे बच्चे कभी ऐसे हो सकते हैं। 

मामले की गंभीरता को देखते हुए दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। इस संबंध में दिल्ली पुलिस के साइबर सेल के डीसीपी अन्वेष रॉय ने कहा कि आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। शुरुआती तौर पर मामला दक्षिणी दिल्ली के स्कूल का लग रहा है। 

ग्रुप में लड़के यह तक प्लान कर रहे थे कैसे लड़कियों से गैंग रेप किया जाए। इन लड़कों को गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। -स्वाती मालीवाल, अध्यक्ष दिल्ली महिला आयोग  
... और पढ़ें

ATM से चोरी करने में रहे नाकाम तो उखाड़कर ले गए पूरी एटीएम मशीन

Instagram सोशल मीडिया

हरियाणा और दिल्ली में मोस्ट वांटेड एक लाख के इनामी को देहरादून पुलिस ने किया गिरफ्तार

हरियाणा और दिल्ली में मोस्ट वांटेड अनिल लीला पहलवान को दून पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उस पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित है। वह एक साल से देहरादून के दून विहार इलाके में पहचान छिपाकर रह रहा था। उसके पास कार के अलावा 32 बोर का पिस्टल बरामद हुआ है। वेटलिफ्टिंग में नेशनल खिलाड़ी रहे अनिल के खिलाफ पुलिस इंस्पेक्टर की हत्या के अलावा कई संगीन अपराध दर्ज हैं। वह 2018 में पैरोल पर जेल से बाहर आने के बाद फरार हो गया था।

बहादुरगढ़ के नूना माजरा निवासी अनिल पहलवान उर्फ अनिल गंजा हरियाणा और दिल्ली में दहशत का पर्याय रहा है। हरियाणा में अनिल पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित था। कई दिन के आपरेशन के बाद दून पुलिस उसे गिरफ्तार करने में कामयाब रही।

डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने बताया कि गढ़वाल रेंज के आईजी अजय रौतेला को मिले इनपुट के आधार पर एसपी देहात प्रमेन्द्र डोभाल की अगुवाई में टीम गठित कर राजपुर इलाके में सादी वर्दी में पुलिसकर्मी तैनात किए गए। सिलेंडर के अलावा ठेली लगाकर पुलिसकर्मियों ने अनिल के बारे में जानकारी जुटाई। यह भी पता चला कि अनिल की पत्नी देहरादून की है। वह 2014 में तिहाड़ जेल में भी अनिल से मिलने गई थी। उसी आधार पर पत्नी का फोटो आदि जुटाया गया। पत्नी की गुपचुप रेकी कर पुलिस अनिल के ठिकाने तक पहुंच गई। 
... और पढ़ें

दिल्लीः 360 पेटी अवैध शराब के साथ चार तस्कर गिरफ्तार

दिल्ली विधानसभा चुनाव के मद्देनजर क्राइम ब्रांच ने सोमवार को नजफगढ़ इलाके से चार शराब तस्करों को गिरफ्तार कर उनसे 360 पेटी अवैध शराब बरामद की है। यह लोग हरियाणा में बनी शराब दिल्ली सप्लाई करने आये थे। इन आरोपियों ने पूछताछ में अपना नाम दीपक, सागर, हिमांशु और मोहित बताया है।

क्राइम ब्रांच के पुलिस उपायुक्त डॉ जी राम गोपाल नाईक ने बताया कि आरोपी अलग-अलग गाड़ियों से दिल्ली के कई इलाकों में शराब की खेप देने आये थे। पकड़े गए आरोपियों में दीपक पहले भी शराब तस्करी के आरोप में जेल जा चुका है। उसके बाकी के साथी आसान व जल्दी रुपये कमाने के लिए तस्करी के कारोबार में आये थे।

दिल्ली चुनाव में ले जा रही शराब की बड़ी खेप पकड़ी
दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान हो रही शराब की तस्करी का गुरुग्राम पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। पुलिस की अलग-अलग अपराध यूनिटों ने बीते 24 घंटों में कार्रवाई करते हुए 1100 पेटी अंग्रेजी व देशी शराब की पेटियां पकड़ी। पुलिस ने 6 तस्करों को भी दबोचा जो अवैध तरीके से शराब की आपूर्ति की कोशिश कर रहे थे।

पुलिस पूछताछ में तस्करों ने शराब को दिल्ली में खपाने की बात कबूली है। एसीपी क्राइम-1 प्रीतपाल सांगवान ने बताया कि तस्करों से पूछताछ की जा रही है।दिल्ली विधानसभा चुनाव में शराब की तस्करी के मद्देनजर गुरुग्राम पुलिस मुस्तैद है। पुलिस ने दो दिन पहले ही बादशाहपुर के टिकली रोड से शराब तस्कर को दबोचा था। पुलिस कार्रवाई पर तस्कर ने पुलिस पर हमला कर दिया था, जिसमें पुलिसकर्मी घायल हो गए थे।

अपराध शाखा सेक्टर-39 की गिरफ्त में आए तस्कर की निशानदेही पर बुधवार को पुलिस ने चिंतपूर्णी माता मंदिर रोड स्थित शराब के गोदाम पर छापा मारकर 571 पेटी शराब बरामद की। पुलिस जांच में सामने आया कि नकली शराब को दिल्ली चुनाव में खपाने की योजना थी।

शराब की खेप पकड़े जाने के बाद मंगलवार रात को पुलिस के आला अधिकारियों के निर्देश पर अपराध यूनिटों ने कार्रवाई करते हुए नाथूपुर गांव, सिंकदरपुर, सोहना, पटौदी से शराब की 500 से अधिक पेटियां पकड़ी। इसमें एक इको वैन, एक पिकअप भी बरामद हुईं। पकड़े गए तस्करों की पहचान यूपी इलाहाबाद के बलवा गांव निवासी सतीश, नाथूपुर गांव निवासी विकास, पटौदी निवासी अजय के रूप में हुई। पुलिस शराब को जब्त कर तस्करों से पूछताछ कर रही है।

299 पेटी शराब से भरा ट्रक पकड़ा
बुधवार अलसुबह अपराध शाखा पालम विहार की टीम ने पराली की आड़ में दिल्ली जा रहे शराब से भरे ट्रक को पकड़ा। पुलिस ने मौके से ट्रक चालक को गिरफ्तार कर लिया, जिसकी पहचान राजपाल के रूप में हुई। पुलिस को ट्रक के अंदर से 299 अंग्रेजी व देशी शराब की पेटी बरामद हुई। पुलिस ट्रक जब्त कर आरोपी चालक से पूछताछ कर रही है।
... और पढ़ें

रंजिश और पत्नी से संबंध के शक में दोस्त की गला रेतकर हत्या, मुबाइल से खुला पूरा राज

सुल्तानपुरी इलाके में रंजिश और पत्नी से संबंध होने के शक में दो लोगों ने अपने दोस्त की आरी से गला रेत कर हत्या कर दी। इसके बाद आरोपियों ने मृतक के पिता को फोन कर 15 लाख रुपये की फिरौती भी मांगी। इतना ही नहीं शक न हो इसके लिए दोस्त के घर पहुंचकर परिवार वालों को सांत्वना भी देने लगा। लेकिन तकनीकी जांच में आरोपियों का गुनाह ज्यादा देर तक नहीं टिक पाया और पुलिस ने दोनों आरोपी को गिरफ्तार कर एक के कमरे से शव बरामद कर लिया।  

पुलिस के अनुसार मृतक की शिनाख्त सुल्तानपुरी के पी ब्लॉक निवासी पुष्पेंद्र (29) केे रूप में हुई है। परिवार में पिता राम खिलाड़ी, पत्नी और एक बेटा है। पुष्पेंद्र दर्जी का काम करता था। 2 फरवरी की रात वह कुछ दूर पर रहने वाले अपने दोस्त सलीम के घर जाने की बात कहकर निकला था। लेकिन रात में वापस नहीं आया। परिवार वालों को लगा कि सुबह वापस आ जाएगा। 

तीन फरवरी की सुबह रामखिलाड़ी के पास उसके बेटे के नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने बताया कि उसके बेटे को अगवा कर लिया गया है और 15 लाख रुपयेे फिरौती की मांग की। रामखिलाड़ी ने तुरंत सुल्तानपुरी थाने में इसकी शिकायत की। पुष्पेंद्र के गायब होने के बाद उसका दोस्त सलीम उसके घर पहुंचकर पिता को सांत्वना देने लगा। उधर थाना प्रभारी अनिल कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने पुष्पेंद्र के फोन की लोकेशन की जांच की। 

फोन का लोकेशन सलीम के घर के आस पास आ रहा था। शक होनेे पर पुलिस ने सलीम को हिरासत में लेकर पूछताछ की। जिसमें उसने हत्या करने की बात कबूल कर ली। पुलिस ने सलीम की निशानदेही पर उसके कमरे से पुष्पेंद्र का शव बरामद कर लिया। आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने अपने दोस्त पंकज के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस को मौके से हत्या में इस्तेमाल आरी, खून से सने कपड़े और मृतक का मोबाइल फोन बरामद कर लिया। 

एक दोस्त से हुआ था झगड़ा दूसरे को पत्नी से संबंध होने का था शक 
मूलत: पश्चिम बंगाल का रहने वाला सलीम ने पुलिस को बताया कि उसे शक था कि पुष्पेंद्र का उसकी पत्नी के साथ संबंध है। इसकी वजह से वह अपनी पत्नी को कुछ दिन पहले पश्चिम बंगाल भेज दिया था। वहीं पुष्पेंद्र का ढाई माह पहले पंकज से भी किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया था। जिसे लोगों ने बीच बचाव कर शांत करवा दिया था। दोनों आरोपी पुष्पेंद्र से बदला लेना चाहते थे। 

2 फरवरी को सलीम ने पुष्पेंद्र को अपने घर बुलाया। वहां पर पंकज भी आ गया। इसी बीच पुष्पेंद्र के मोबाइल पर फोन आया। सलीम को लगा कि उसकी पत्नी का फोन आया है। इसी बात पर उनके बीच कहासुनी हो गई। दोनों ने पहले पुष्पेंद्र के सिर पर सिलेंडर से हमला कर दिया और फिर बेहोश होने के बाद उसका गला रेत दिया। रात भी दोनों उसके शव के साथ रहे। 
... और पढ़ें

घर बैठे ऑनलाइन काम के नाम पर युवती से ठगी, 21 हजार जमा करवाने के बाद बंद किए मोबाइल

शाहदरा में एक युवती ने क्विकर जॉब्स के जरिए वर्क फ्रॉम होम नौकरी ढूंढी। घर बैठे उसे काम दे दिया गया। एक सप्ताह नौकरी करने के बाद युवती ने अपने पैसे मांगे तो उसे ऑन लाइन कुछ औपचारिकताएं पूरी करने के लिए कहा गया। पीड़िता ने ऐसा ही किया।

बाद में उससे दो अलग-अलग ट्रांजेक्शन में 21 हजार रुपये की मांग की गई। युवती ने रुपये भी जमा करवा दिए। इसके बाद आरोपियों ने अपने मोबाइल नंबर बंद कर दिए। पीड़िता को ठगी का अहसास हुआ तो उसने शाहदरा थाना पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने युवती की शिकायत पर मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस के मुताबिक तनु मित्तल परिवार के साथ ज्योति कालोनी में रहती है। ग्रेजुएशन के बाद वह घर पर ही थी। तनु ने सोचा कि घर बैठे ही कुछ काम किया जाए। इसको लेकर तनु ने क्विकर जॉब्स पर नौकरी ढूंढी। अपनी मर्जी के अनुसार उसे नौकरी मिल भी गई।
... और पढ़ें

सोनीपतः दिल्ली के उद्योगपति का अपहरण, बेटे ने दिखाई जांबाजी, पीछा कर बदमाशों से छुड़वाया

राई औद्योगिक क्षेत्र स्थित फैक्ट्री के बाहर से बदमाशों ने पिस्तौल दिखाकर उद्योगपति का अपहरण कर लिया। बदमाश जब व्यापारी का अपहरण कर भाग रहे थे तो बेटे ने देख लिया, जिस पर उसने बदमाशों का पीछा करना शुरू कर दिया। गांव छतेहरा रेलवे पुल पर उसके बेटे ने बदमाशों की कार के आगे अपनी गाड़ी अड़ा दी। 

पकड़े जाने के भय से बदमाशों ने उद्योगपति को नीचे उतार दिया। बदमाशों ने उद्योगपति की गाड़ी के शीशे तोड़ दिए। इस दौरान हड़बड़ी में उनकी एक पिस्तौल भी गाड़ी में गिर गई। बाद में वे फरार हो गए। उद्योगपति ने मामले से पुलिस को अवगत कराया। पुलिस ने जांच के बाद अपहरण का मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

दिल्ली स्थित निरंकारी कालोनी के रहने वाले परमजीत ने राई पुलिस को बताया कि वह राई औद्योगिक क्षेत्र में एसएस इंजीनियरिंग वर्क्स के नाम से सरिया बनाने की फैक्ट्री चलाते हैं। उन्होंने बताया कि वह सोमवार करीब 11 बजे फैक्ट्री में पहुंचे थे।

अंदर जाने पता लगा कि पानी नहीं आया है। वह पास ही स्थित पंपसेट केंद्र पर जाने के लिए बाहर आ गए। जब वह फैक्ट्री के बाहर आए तो इसी दौरान वहां पहले से खड़ी सफेद रंग की आई-20 कार से दो युवक उतरकर आए और उन्हें पिस्तौल दिखाकर काबू कर लिया। जबरन अपनी गाड़ी में डाल लिया। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन