लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR ›   sextortion used to do friendship on facebook bharatpur accused arrested 26 lakhs cheated from people across the country

दिल्ली: फेसबुक पर दोस्ती कर करते थे सेक्सटॉर्शन, भरतपुर का आरोपी गिरफ्तार, देशभर के लोगों से 26 लाख ठगे

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Vikas Kumar Updated Tue, 17 May 2022 01:59 AM IST
सार

जांच के दौरान पता चला कि आरोपी ने सराय रोहिल्ला में एक अन्य पीड़ित से सेक्सटॉर्शन के जरिये वसूली की थी। इनके पूरे गैंग का काम अलग-अलग है। वसूली की रकम को यह लोग अलग-अलग जिलों के एटीएम के जरिये निकाल लेते हैं।

आरोपी आसिब खान
आरोपी आसिब खान - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

फेसबुक पर लड़की के नाम से फर्जी प्रोफाइल बनाकर सेक्सटॉर्शन करने वाले गैंग के बदमाश को उत्तरी जिला के साइबर थाना पुलिस ने भरतपुर, राजस्थान से गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान गांव मुंडिया, तहसील नगर, भरतपुर निवासी आसिब खान (26) के रूप में हुई है। आरोपी बीएससी पास है। 



पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि सेक्सटॉर्शन के जरिये इनका गैंग भोले-भाले लोगों को अपने जाल में फंसाकर उनकी अश्लील वीडियो बना लेते थे। इसके बाद खुद को क्राइम ब्रांच और यू-ट्यूब लीगल ऑफिशियल बताकर उनके खिलाफ शिकायत व बदनाम करने की धमकी दी जाती थी। इसके बदले आरोपी मोटी रकम अपने खातों में ट्रांसफर करवा लेते थे। 


छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला कि आसिब खान ने पिछले एक माह के दौरान अपने खाते में 26 लाख रुपये देश भर के लोगों से वसूले हैं। आसिब के पूरे गांव में ज्यादातर लोगों का यह ही धंधा है। पुलिस इससे पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

उत्तरी जिला पुलिस उपायुक्त सागर सिंह कलसी ने बताया कि पिछले दिनों इनके पास गृहमंत्रालय के साइबर क्राइम पोर्टल से एक शिकायत आई थी। उत्तरी दिल्ली निवासी व्यक्ति ने सेक्सटॉर्शन के जरिये आठ लाख रुपये ठगे जाने की शिकायत दी थी। साइबर थाने में जबरन वसूली का मामला दर्ज कर साइबर थाना प्रभारी पवन तोमर की देखरेख में एसआई रोहित सारसवत व अन्यों की टीम ने छानबीन शुरू की।

जांच के दौरान पुलिस ने जिन खातों में रकम ट्रांसफर हुई उनका पता किया। इसके बाद उन मोबाइल नंबर का भी पता किया गया जो बैंक खातों से कनेक्ट थे। जांच के दौरान पता चला कि नगर तहसील से सेक्सटॉर्शन का कारोबार चल रहा है। पुलिस ने भेस बदलकर गांव में छापेमारी की। छापे के दौरान पुलिस को आसिब खान नामक आरोपी मिला। तुरंत उसे हिरासत में लेकर पुलिस की टीम वापस आ गई। उसके मोबाइल फोन की जांच की गई तो पता चला कि उसके मोबाइल से अटेच खाते में एक माह के दौरान 26 लाख रुपये आए थे। फौरन उसे गिरफ्तार कर लिया गया। 

जांच के दौरान पता चला कि आरोपी ने सराय रोहिल्ला में एक अन्य पीड़ित से सेक्सटॉर्शन के जरिये वसूली की थी। इनके पूरे गैंग का काम अलग-अलग है। वसूली की रकम को यह लोग अलग-अलग जिलों के एटीएम के जरिये निकाल लेते हैं। बाद में जिसका जितना कमीशन तय होता है, उसको उतने रुपये दे दिए जाते हैं।

ऐसे दिया जाता है ठगी की वारदात को अंजाम...

पुलिस की पूछताछ में आरोपी आसिब खान ने बताया कि सबसे पहले यह फेसबुक पर किसी भी लड़की की फोटो लगाकर फर्जी आईडी बनाते हैं। इसके बाद अनजान लोगों को फ्रेंडशिप रिक्वेस्ट भेजी जाती है। जो भी इनके जाल में फंसता है, उसे पहले फेसबुक मैसेंजर पर बातचीत होती है। इसके बाद एक दूसरे के मोबाइल नंबर ले लिये जाते हैं। आरोपी फिर लड़की बनकर इनको वीडियो कॉल करते हैं। पहले से रिकॉर्ड किए गए किसी भी लड़की के अश्लील वीडियो को दूसरे मोबाइल की मदद से पीड़ित को दिखाकर उसे भी अश्लील हरकत करने के लिए उकसाया जाता है। बाद में पीड़ित की हरकत को वीडियो कॉल रिकॉर्डर के जरिये रिकॉर्ड कर लिया जाता है। इसके बाद आरोपी खुद को क्राइम ब्रांच और यू-ट्यूब के लीगल अधिकारी बनकर पीड़ित को धमकाते हैं। लीगल एक्शन और बदनाम करने के नाम पर पीड़ितों से ऑन लाइन मोटी रकम मांगी जाती है। ज्यादातर पीड़ित इनके जाल में फंसकर लाखों रुपये की रकम दे देते हैं।
 

पूरे गांव का सेक्सटॉर्शन का धंधा, मुश्किल से हुई गांव में रेड...

मामले की छानबीन कर रहे अधिकारी की मानें तो नगर गांव के अलावा आसपास के कई गांवों के लोगों का सेक्सटॉर्शन का धंधा है। पहले सभी एटीएम-क्रेडिट कार्ड के नाम पर ठगी करते थे। लेकिन उसमें अब लोग ज्यादा सावधान हो गए हैं तो धंधा कम चल रहा था। सेक्सटॉर्शन के जाल में कोई भी आसानी से फंस जाता है। चूंकि गांव का हर शख्स ठगी के धंधे में है तो पुलिस की भनक लगते ही पूरे गांव में इसकी खबर फैला दी जाती थी। पुलिस गांव पहुंचकर किसी को पकड़ भी लेती थी तो ग्रामीण इसका भारी विरोध कर उसे छुड़ा लेते थे। वहां आनन-फानन में ही गिरफ्तार कर आरोपी को लाना होता था। दिल्ली पुलिस के सूत्रों का कहना है कि लोकल पुलिस की ग्रामीणों से मिलीभगत रहती है। पुलिस बाकी आरोपियों की तलाश कर रही है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00