पकड़े गए आतंकी जुनैद ने किए कई बड़े खुलासे, कहा- कोड भाषा में करते थे बात

ब्यूरो/अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Fri, 16 Feb 2018 10:05 AM IST
ariz khan said his group used to talk in code language
ariz khan - फोटो : vivek nigam
सूरत की तरह कहीं समय या फिर घड़ियों में कोई हेरफेर न हो जाए, जिसके चलते कहीं बम आतंकियों के शरीर पर ही न फट जाए। इससे बचने के लिए दिल्ली धमाकों के सभी आरोपी एक ही कंपनी की और एक जैसी घड़ी पहनते थे।
इन घड़ियों में एक साथ टाइम सेट किया गया था। ये खुलासा दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में मौजूद आतंकी आरिज खान उर्फ जुनैद उर्फ सलीम सर ने किया है। उसने कहा कि सूरत में बम रखने में कई गलतियां हो गई थीं। कई बम फटे नहीं थे।

गौरतलब है कि बटला हाउस एनकाउंटर के बाद दक्षिण जिला पुलिस ने संगम विहार स्थित शकील के घर से कुल नौ घड़ियां बरामद की गईं थीं। गुजरात से भी इस तरह की घड़ियां बरामद हुईं थीं।
आगे पढ़ें

क्या है 'फ्लाइट' का मतलब

Spotlight

Most Read

National

शादी के उपहार में आई शुभकामना ने बनाया दुल्हन को विधवा

ओडिशा के बोलांगिर जिले के पटनागढ़ में शादी की खुशी में अचानक मातम पसर गया यहां रिसेप्शन समारोह में किसी ने गिफ्ट पैक में विस्फोटक भेज दिया।

24 फरवरी 2018

Related Videos

राज्यसभा में होने वाले 58 सीटों पर चुनाव की ये है गणित

अप्रैल में राज्यसभा के 58 सांसद रिटायर हो रहे हैं। जिसके बाद राज्यसभा की गणित बदलना बिल्कुल तय है। रिटायर होने वाले सांसदों में 30 विपक्षी खेमे के हैं जबकी 24 बीजेपी और उसके सहयोगी के हैं।

26 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen