खत्री समाज ने कानपुर को दिलाई व्यापारिक पहचान

राहुल शुक्ला, अमर उजाला, कानपुर Updated Thu, 11 Jan 2018 02:37 PM IST
Khatri society administers business to Kanpur
खत्री समाज
किसी भी शहर को उसकी पहचान दिलाने में अलग-अलग समाज के लोगों को सराहनीय योगदान होता है। ये लोग किसी न किसी रूप में शहर और वहां की सभ्यता को आगे बढ़ाते हैं। कानपुर को भी पहचान दिलाने के में कई समाजों का योगदान रहा है। इनमें से खत्री समाज भी एक है। शहर को व्यापारिक पहचान दिलाने का श्रेय मुख्य रूप से इसी समाज के लोगों को जाता है। कानपुर में सबसे पहले साइकिल, ईंट, फोम, ज्वैलरी का कारोबार इसी समाज ने शुरू किया था।


72 साल पूर्व सबसे पहले रोशनलाल महाना आए थे शहर
करीब 72 साल पहले 1946 में पश्चिमी पंजाब (वर्तमान में पाकिस्तान) से रोशनलाल महाना शहर आए थे। उन्होंने लाल बंगला में किराने का काम शुरू किया। साथ ही अपने मित्र डिफेंस इंचार्ज हरजिंदर सिंह की मदद से समाज के लोगों को लाल बंगला इलाके में बसाना शुरू कर दिया। महाना ने इसके बाद ईंट भट्ठा कारोबार शुरू किया। कुछ सालों बाद इसी समाज के देशराज मलिक ने साइकिल की सीट का काम शुरू किया तो जीवनराम सेठ ने ज्वैलरी का काम शुरू किया। साथ ही जीवनराम एंड संस नाम से फोम और रबर का भी काम डाला। इसके बाद 1960 में मलिक  देशराज कपूर और कृष्ण कुमार कपूर ने दादानगर कोआपरेटिव इस्टेट की स्थापना की।

व्यापार के साथ-साथ राजनीति में भी समाज के लोगों ने बनाई पहुंच
यहां छोटी-बड़ी सैकड़ों इकाइयां हैं, जिनमें हजारों लोगों को रोजगार मिला। उधर, लाला काशीनाथ सेठ ज्वैलर्स, भगतराम जयनारायण ज्वैलर्स और के. ज्वैलर्स ने सोने चांदी का काम बढ़ाते हुए कई शोरूम खोले। नई-नई डिजाइन की ज्वैलरी को भी बाजार में उतारा। इसी बीच कानपुर खत्री सभा की स्थापना हुई। सभा के पहले अध्यक्ष बने राजा बहादुर गोपी नारायण। अब कार्यकारिणी के गठन के लिए हर तीन साल में चुनाव होता है। अखिल भारतीय खत्री महासभा के संस्थापक रामजी सेठ ने बताया कि वर्तमान में कानपुर में खत्री समाज के करीब पांच लाख लोग रहते हैं। यह आबादी स्वरूप नगर, तिलक नगर, काकादेव, गोविंद नगर, बिरहाना रोड, लाल बंगला आदि में है। 

राजनीति में भी छात्र खत्री समाज के लोग
शिव नारायण टंडन, तीन बार सांसद रहे। पशुपति नाथ मेहरोत्रा, तीन बार विधायक रहे। सतीश महाना, सात बार से विधायक हैं। अजय कपूर, तीन बार विधायक रहे। रामनाथ महेंद्र, विश्व हिंदू परिषद के कोषाध्यक्ष हैं। 

समाज के पर्व
दशहरा में शस्त्र पूजन, दीपावली की पूजा, होली महोत्सव अाद‌ि हैं। 

शहर को खत्री समाज की देन
खत्री धर्मशाला बिरहाना रोड
जीएनके इंटर कॉलेज बड़ा चौराहा
खत्री धर्मशाला लालबंगला


खत्री समाज के बड़े कारोबारी और उनकी फर्म
मुन्ना लाल एंड संस माल रोड 
केसी कपूर एंड संस तिलक नगर 
लाला काशीनाथ सेठ ज्वैलर्स, कुंवर सेठ बिरहाना रोड
अन्नपूर्णा बिस्कुट, नवीन खन्ना दादानगर
पीडी गुबा एंड संस आर्यनगर
जीवनराम एंड संस रामजी सेठ
भगतराम जय नारायण ज्वैलर्स, रामनाथ महेंद्र
अमरनाथ मेहरोत्रा पप्पू रामजी प्रेस दादानगर
विजय कपूर मलिक, दादानगर कोआपरेटिव इस्टेट
स्टेटस क्लब विकास मल्होत्रा
के. ज्वैलर्स बिरहाना रोड

खत्री समाज की उपजातियां
कपूर, सेठ, महाना, खन्ना, मेहरोत्रा, टंडन, मल्होत्रा, तलवार, कोहली, गुबा, आनंद आदि।

कानपुर खत्री समाज का चुनाव जल्द
दिसंबर 2014 में कानपुर खत्री सभा का चुनाव हुआ था। इसमें भरत सेठ अध्यक्ष, मुकुल टंडन महामंत्री और अरविंद टंडन कोषाध्यक्ष निर्वाचित हुए थे। तब 36 सदस्यीय कार्यकारिणी सर्वसम्मति से निर्वाचित हुई थी। यह कार्यकाल 31 दिसंबर 2017 को पूरा हो चुका है। इस कारण जल्द ही चुनाव होना है। अध्यक्ष भरत सेठ ने बताया कि 11 मार्च को राष्ट्रीय खत्री सभा का चुनाव है। उससे पहले कानपुर खत्री सभा का चुनाव करा लिया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

कानपुर में इतने ज्यादा मिले पुराने नोट, गिनते गिनते हो गया सवेरा

कानपुर में 80 करोड़ रुपये की पुरानी करेंसी बरामद हुई है। एक पुलिस अधिकारी ने जानकारी दी कि कानपुर पुलिस को एक बंद घर में बड़ी मात्रा में पुराने नोटों के होने के बारे में जानकारी मिली थी।

17 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper