शिक्षा विभाग को अल्टीमेटम, डाटा आनलाइन न हुआ तो रुक जाएगा सितंबर का वेतन

ब्यूरो/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Sun, 17 Sep 2017 03:20 PM IST
Service record data of staff of government schools issue
Haryana CM Manohar lal khattar - फोटो : File Photo
हरियाणा के सरकारी स्कूलों के स्टाफ का सर्विस रिकार्ड डाटा यदि 20 सितंबर तक ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट सिस्टम पर आनलाइन न किया गया तो उन्हें अक्तूबर में मिलने वाला सितंबर माह का वेतन रोक लिया जाएगा। बार-बार निर्देश देने के बावजूद यह काम बहुत ज्यादा लेट हो गया है। इसी वजह से मुख्यमंत्री हरियाणा भी खफा है और उन्होंने इसे जल्द पूरा करवाने के लिए शिक्षा विभाग को निर्देश दिए हैं। डायरेक्टर सेकेंडरी एजुकेशन ने इस बाबत सभी जिलों के डीईओ व डीईईओ को सर्कुलर जारी कर दिया है। जबकि इस बाबत गत दिवस वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए सभी शिक्षा अधिकारियों को भी निर्देश दिए गए हैं।

शिक्षा विभाग छात्रों के साथ-साथ स्कूलों व शिक्षा विभागों में कार्यरत शिक्षकों, लिपिकों व अन्य स्टाफ का तमाम डाटा ऑनलाइन करना चाहता है, ताकि भविष्य में कर्मचारियाें को भी अपनी सर्विस से जुड़ी जानकारी एक  क्लिक पर ही प्राप्त हो जाए। साथ-साथ ये डॉटा ऑनलाइन भी होता रहेगा। इससे रिकार्ड संभालने में भी आसानी रहेगी और उसे मेनटेन करने में भी। इसके तहत स्कूली स्टाफ का तमाम डाटा एचआरएमएस (ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट सिस्टम ) पर ऑनलाइन किया जाना है।

इसके लिए पहले भी निर्देश जारी किए गए हैं, फिर भी अभी तक ये डाटा ऑनलाइन नहीं हुआ है। अब फिर से निदेशक ने 20 सितंबर तक हर हाल में इस डाटा को ऑनलाइन किए जाने को कहा है। निर्देशों में कहा गया है कि यदि किसी कर्मचारी की सर्विस बुक स्कूल से कहीं दूसरी जगह भेजी गई है तो उसे मंगवा लें और निर्धारित समय पर उसका सर्विस रिकार्ड ऑनलाइन करें। विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि  इस सर्विस रिकार्ड को ऑनलाइन करने के बाद खंड स्तर पर सभी स्कूल मुखिया को इस बाबत ट्रेनिंग भी दी जानी है, इसलिए जल्द से जल्द इस रिकार्ड को ऑनलाइन करने के निर्देश दिए गए हैं।
 

Spotlight

Most Read

Lucknow

ओपी सिंह कल संभालेंगे यूपी के डीजीपी का पदभार, केंद्र ने किया रिलीव

सीआईएसएफ के डीजी ओपी सिंह को रिलीव करने की आधिकारिक घोषणा रविवार को हो गई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

नशे के शिकार लोगों को ऐसे सही रास्ता दिखाने का काम कर रहे हैं ये दो भाई

पूरा पंजाब नशे की गिरफ्त में हैं। बेरोजगारी और आसानी से मिलने वाला नशे का सामान इसके लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार माना जाता है।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper