फिलहाल दिल्ली कूच नहीं करेंगे जाट, इन मांगों पर बनी सरकार से सहमति

ब्यूरो/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Mon, 20 Mar 2017 09:23 AM IST
Jat leaders postpone protest for 15 days after talks with Haryana CM
जाट नेता यशपाल मलिक - फोटो : File Photo
हरियाणा में 50 दिन के बाद जाट आरक्षण आंदोलन पर विराम लग गया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल, केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र चौधरी व कानून राज्य मंत्री पीपी चौधरी के साथ चली मैराथन बैठक के बाद जाट नेताओं ने आंदोलन रोकने की घोषणा कर दी है। साथ ही 20 मार्च का दिल्ली कूच भी टाल दिया है।

अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक और अन्य जाट नेताओं के साथ खट्टर, बीरेंद्र चौधरी व पीपी चौधरी के बीच दिल्ली स्थित हरियाणा भवन में दो चरणों में लगभग पांच घंटे की मैराथन बैठक हुई। इसके बाद सरकार ने आंदोलनकारियों की सभी सात मांगें मान ली। मांगें पूरा किए जाने का सरकार से भरोसा मिलने के बाद आंदोलनकारी भी इस बात पर राजी हो गए हैं कि कानूनी प्रक्रिया पूरी होने तक शांति बनाए रखेंगे। इसके अलावा धरनों को समयबद्घ तरीके से खत्म कर दिया जाएगा। 

बैठक के बाद सीएम मनोहर लाल और जाट नेता यशपाल मलिक ने दिल्ली में संयुक्त पत्रकार वार्ता कर इसकी घोषणा की। बैठक के दौरान केंद्रीय कानून राज्य मंत्री पीपी चौधरी ने आश्वस्त किया कि केंद्र सरकार जाटों की मांगों को लेकर पूरी तरह गंभीर है। जल्द ही राष्ट्रीय ओबीसी आयोग में चेयरमैन और सदस्यों की नियुक्ति की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। इसके बाद केंद्र में भी आरक्षण दिया जाएगा। पूर्व यूपीए सरकार ने जाटों को बगैर किसी ठोस योजना के आरक्षण दे दिया था। इससे मामला आज भी विवादों में घिरा हुआ है। 

केंद्र की वर्तमान सरकार सभी कानूनी पहलुओं को ध्यान में रखकर जाटों को आरक्षण देगी। सीएम मनोहर लाल ने कहा कि सरकार नियम-कानून के दायरे में रहकर जाटों की मांगें पूरी करेगी। वह सभी जायज मांगों को मानने के लिए तैयार हैं। मृतकों के आश्रितों और विकलांगों को स्थायी नौकरी दी जाएगी। भविष्य में हरियाणा सरकार के वरिष्ठ अधिकारी तथा जाटों के बीच संयुक्त समिति काम करेगी, यह स्वीकार की गई मांगों तथा केसों की जानकारी का आदान-प्रदान करेगी।
आगे पढ़ें

यह मांगें पूरी करने पर बनी सहमति

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी कैबिनेट ने एक जिला एक उत्पाद नीति पर लगाई मुहर, लिए गए 12 फैसले

यूपी कैबिनेट ने कुल 12 फैसलों को मंजूरी दे दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई बैठक में एक जिला एक उत्पाद नीति पर मुहर लग गई।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: चंडीगढ़ का ये चेहरा देख चौंक उठेंगे आप!

‘द ग्रीन सिटी ऑफ इंडिया’ के नाम से मशहूर चंडीगढ़ में आकर्षक और खूबसूरत जगहों की कोई कमी नहीं है। ये शहर आधुनिक भारत का पहला योजनाबद्ध शहर है। लेकिन इस शहर को खूबसूरत बनाये रखने वाले मजदूर कैसे रहते हैं यह देख आप हैरान हो जायेंगे।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper