बहुचर्चित PPSC घोटाले का पूरा सच चौंकाने वाला

ब्यूरो/अमर उजाला, पटियाला(पंजाब) Updated Thu, 09 Apr 2015 05:33 PM IST
sensational truth on ppsc scam: former chairman punished
ख़बर सुनें
बहुचर्चित पंजाब लोक सेवा आयोग भर्ती घोटाला 25 मार्च 2002 में उस समय सामने आया जब विजिलेंस ब्यूरो ने पंजाब लोक सेवा आयोग के तत्कालीन चेयरमैन रवि सिद्धू को सेक्टर 39 स्थित उसके आवास से गलत सिलेक्ट किए एक उम्मीदवार की तरफ से पांच लाख रुपये लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया था।
मामले के सामने आने के बाद विजिलेंस ब्यूरो ने जब जांच शुरू की, तो कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए। खुलासा हुआ कि रवि सिद्धू ने अपने कार्यकाल दौरान पंजाब सरकार के विभिन्न विभागों में भर्ती के लिए 4000 उम्मीदवारों की सिफारिश की थी, जिनमें पीसीएस (एग्जेक्टिव), पीसीएस (जुडीशियल), पीसीएस नामीनेशन, डीएसपी और अन्य अलाइड सर्विसेज शामिल हैं।

जांच में सामने आया कि इनमें ज्यादातर भर्तियां पैसे लेकर की गई हैं और यह सारा घोटाला रवि सिद्धू पिछले काफी समय से तत्कालीन सेक्रेटरी प्रितपाल सिंह व कुछ बिचौलियों व पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ के कुछ प्रोफेसरों के साथ मिल कर रहा था। जांच दौरान विजिलेंस ब्यूरो को रवि सिद्धू के चंडीगढ़ स्थित बैंक लाकरों से 8.16 करोड़ कैश मिला था। इसके अलावा बेनामी संपत्तियों, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट और शेयरों में निवेश के तौर पर भी 25 करोड़ से अधिक की रिकवरी विजिलेंस ब्यूरो ने की थी।

इसके बाद विजिलेंस ब्यूरो ने 30 अप्रैल 2002 को रवि सिद्धू समेत आयोग के तत्कालीन सेक्रेटरी प्रितपाल सिंह निवासी आर्य समाज पटियाला, पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ के प्रोफेसर जसपाल सिंह निवासी बुढ़लाडा जिला मानसा, पीयू चंडीगढ़ से ही प्रोफेसर जगदीश कालरा निवासी चंडीगढ़, पीयू चंडीगढ़ से प्रोफेसर गुरपाल सिंह निवासी अर्बन एस्टेट पटियाला, मौजूदा पीसीएस आफिसर पुरुषोत्तम सिंह सोढ़ी निवासी मोहाली, बिचौलिए परमजीत सिंह उर्फ पम्मी निवासी चंडीगढ़, कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से प्रोफेसर अमरजीत सिंह कंग निवासी चंडीगढ़, रवि सिद्धू की मां प्रितपाल कौर के खिलाफ धारा 409, 420, 467, 471, 120-बी, 34 आईपीसी और 13 (1) (2) आफ प्रिवेंशन आफ क्रप्शन एक्ट के तहत पटियाला विजिलेंस ब्यूरो थाने में केस दर्ज किया था।
आगे पढ़ें

13 साल बाद मिला इंसाफ

Recommended

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

Spotlight

Most Read

Dehradun

उत्तराखंड: किशोरी से गैंगरेप और हत्या के मामले में उत्तरकाशी में तनाव, पांच जिलों में इंटरनेट बंद

 उत्तरकाशी के डुंडा ब्लॉक में किशोरी से गैंगरेप के बाद कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए रविवार शाम तक गढ़वाल के पांच पर्वतीय जिलों में इंटरनेट सेवा अस्थायी रूप से बंद करा दी गई है।

18 अगस्त 2018

Related Videos

AAP की पंजाब ईकाई में घमासान, नेता विपक्ष पद से हटाए गए सुखपाल सिंह खैरा

आम आदमी पार्टी की पंजाब ईकाई में घमासान मचा हुआ है। पार्टी ने सुखपाल सिंह खैरा को नेता विपक्ष के पद से हटा दिया है।

28 जुलाई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree