एक ही स्कूल की 2 छात्राओं से दुष्कर्म, मदद की बजाए स्कूल प्रशासन ने दोनों का नाम काटा

ब्यूरो/अमर उजाला, यमुनानगर(हरियाणा) Updated Sat, 04 Nov 2017 06:05 PM IST
Principal, 5 staffers booked for not reporting sexual assault case
यमुनानगर कैंप के एक सरकारी स्कूल में नौंवी कक्षा की दो नाबालिग छात्राओं के साथ दुष्कर्म किया गया। लेकिन स्कूल प्रशासन ने छात्राओं की मदद करने की बजाए उनका स्कूल से नाम काट दिया। सप्ताह बीत जाने पर भी मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई।
मामला हरियाणा राज्य बाल संरक्षण आयोग तक पहुंच गया। सूचना मिलने पर शुक्रवार को आयोग के सदस्य परमजीत सिंह बड़ौला, चाइल्ड वेल्फेयर कमेटी की चेयरपर्सन सतपाल कौर, जिला बाल सरंक्षण अधिकारी डा. रिचा, लीगल अधिकारी रंजन शर्मा, थाना महिला प्रभारी शीलावंती की टीम मौके पर पहुंची। बडौला ने यहां स्कूल का निरीक्षण किया और स्कूल प्रशासन की जमकर क्लास ली। वहीं छात्राओं को स्कूल से निकालने पर प्रिंसिपल व अन्य स्टाफ को फटकार लगाई।

सरकारी स्कूल में जम्मू कॉलोनी व ममीदी निवासी दो छात्राएं नौवीं कक्षा में पढ़ती है। बीती 25 अक्तूबर को जब वे घर से स्कूल आ रही थी तो रास्ते में कार सवार दो युवकों ने उन्हें कार में बैठा लिया। इसके बाद आरोपी उन्हें पंचायत भवन के नजदीक स्थित एक रेस्टोरेंट में ले गए। आरोप है कि यहां आरोपियों ने रेस्टोरेंट के बेसमेंट में उनके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद आरोपी उन्हें स्कूल के नजदीक छोड़कर वहां से फरार हो गए। वहीं इस बात की भनक स्कूल स्टाफ व प्रिंसिपल को भी लग गई। अगले दिन जब दोनों छात्राएं स्कूल पहुंची तो स्कूल प्रिंसिपल ने उनसे इस बारे में बातचीत की। छात्राओं ने आपबीती सुनाई। स्कूल स्टाफ के सदस्यों ने छात्राओं द्वारा बताए गए रेस्टोरेंट का मुआयना भी किया। लेकिन स्कूल प्रशासन द्वारा मामले में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बजाए, पीड़ित छात्राओं के स्कूल से नाम काट दिए और उन्हें घर भेज दिया गया। इसके बाद पीड़ित छात्राओं ने मामले की शिकायत हरियाणा राज्य बाल संरक्षण आयोग को भेजी। मामले को संज्ञान में लेते हुए शुक्रवार को हरियाणा राज्य बाल सरंक्षण आयोग के सदस्य परमजीत सिंह बडौला अपनी टीम के साथ स्कूल में पहुंचे।

टीम को देख स्कूल प्रशासन हैरत में पड़ गया। बडौला के साथ चाइल्ड वेल्फेयर कमेटी की चेयरपर्सन सतपाल कौर, सुरेश, जिला बाल संरक्षण अधिकारी डा. रिचा बुद्धिराजा, लीगल अधिकारी रंजन शर्मा, गुरुप्रीत सिंह, थाना महिला प्रभारी शीलावंती थी। बडौला ने स्कूल प्रिंसीपल सहित अन्य अध्यापकों से मामले में बातचीत की गई। उन्होंने मामले में स्कूल प्रिंसिपल व अन्य अध्यापकों को जमकर फटकार लगाई। छात्राओं के बारे में पूछने पर स्कूल से दोनों बच्चियां गायब मिली तो बडौला ने उन्हें और फटकार लगाई। इसके बाद दोनों छात्राओं को स्कूल बुलाया गया और टीम द्वारा उनकी काउंसलिंग करवाई गई। जिसमें छात्राओं ने उनके साथ हुए दुष्कर्म व स्कूल से नाम काटने की बात कबूली।
आगे पढ़ें

काउसिंल के बाद होगी कार्यवाही

Spotlight

Most Read

Mohali

प्रापर्टी डीलर ने एक प्लाट को 2 अलग-अलग टुकड़ों में बांटा, और फिर एमसी ने कर दिए नक्शे पास..

प्रापर्टी डीलर ने एक प्लाट को 2 अलग-अलग टुकड़ों में बांटा, और फिर एमसी ने कर दिए नक्शे पास..

20 फरवरी 2018

Related Videos

नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ अब इन्होंने खोला मोर्चा, सुनिए क्या हैं आरोप

मोहाली के मेयर कुलवंत सिंह पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज करवाएंगे।

17 फरवरी 2018

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen