बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

हरियाणा : ओडिशा के पूर्व डीजीपी के साथ पौने चार लाख की ठगी, लखनऊ से दो आरोपियों को दबोचा गया

संवाद न्यूज एजेंसी, रेवाड़ी (हरियाणा) Published by: ajay kumar Updated Thu, 08 Apr 2021 10:21 PM IST
विज्ञापन
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : पीटीआई

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
हरियाणा में साउथ रेंज रेवाड़ी साइबर थाना पुलिस ने धोखाधड़ी की अब तक की सबसे बड़ी वारदात को सुलझा लिया है। महेंद्रगढ़ जिले के गांव कांटी निवासी ओडिशा के सेवानिवृत्त पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दीर्घपाल सिंह चौहान के साथ पौने चार लाख रुपये की धोखाधड़ी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। 
विज्ञापन


आरोपियों की पहचान उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले के मानहेरू जफरापुर निवासी रामकुमार व बाराबंकी जिले के पुरेवान तोरई निवासी शुभम के रूप में हुई। आरोपियों को कोर्ट में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया गया है। साथ ही साइबर थाना पुलिस ने आरोपियों से तीन लाख रुपये की बरामदगी भी की है।

    
साइबर थाना पुलिस के अनुसार महेंद्रगढ़ जिले के अटेली कस्बा के गांव कांटी निवासी दीर्घपाल सिंह चौहान ओडिशा के डीजीपी रह चुके हैं। 22 फरवरी 2021 को उन्होंने साइबर थाना में अपने साथ हुई पौने चार लाख रुपये की धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया था। दीर्घपाल सिंह ने बताया था कि वे 2015 से आचार्य मनीष संस्था से आयुर्वेदिक दवाइयां खरीद रहे है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X