नगर निगम के पास फंड की कमी, फिर भी टूर जाना चाहते हैं पार्षद और मेयर

राजेश ढल्ल/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Mon, 15 Jan 2018 10:14 AM IST
Councilors and mayor want to go on study tour, chandigarh news
MC House Meeting - फोटो : File Photo
साल 2004 से 2017 तक पार्षदों के स्टडी टूर पर डेढ़ करोड़ से ज्यादा बर्बाद हो चुके हैं। इसका शहर का कोई फायदा भी नहीं मिला। पिछले साल तीन स्टडी टूर गए, लेकिन फायदा कुछ नहीं मिला। वहीं, नए मेयर स्टडी टूर ले जाने की तैयारी कर रहे हैं।

पिछले सभी स्टडी टूर की रिपोर्ट भी बनी। सदन में चर्चा भी हुई, लेकिन स्टडी टूर की रिपोर्ट लागू नहीं हुई। पिछले साल पूर्व मेयर आशा जसवाल के कार्यकाल में पार्षदों के तीन स्टडी टूर हुए। इनमें विशाखापट्टनम, मुंबई और पूणे का टूर शामिल है। अभी तक शहर से जितने भी स्टडी टूर गए हैं, उनका एक पैसे का फायदा नहीं मिला है। इस समय नगर निगम की वित्तीय हालत खस्ता है। हर साल लाखों रुपये का बजट टूर के लिए रखा जाता है।

टूर में तबीयत खराब होने से पार्षद की हो चुकी है मौत
साल 2014 में पार्षद चेन्नई, कोलकता और पोर्ट ब्लेयर के स्टडी टूर पर गए थे। इस टूर में उस समय अकाली पार्षद मलकीयत सिंह की तबीयत खराब होने से मौत भी हो गई थी, लेकिन उस टूर में अध्ययन किए गए काम का कोई फायदा अभी तक शहर को नहीं मिला। इसविवादित स्टडी टूर के लिए जिन 13 पार्षदों से 9-9 हजार रुपये की रिकवरी भी ली गई थी।

जिन 13 पार्षदों से रिकवरी ली गई है, उनमें पूर्व मेयर अरुण सूद के अलावा पूर्व मेयर पूनम शर्मा, पूर्व डिप्टी मेयर गुरबख्श रावत, आशा जसवाल, शीला देवी, सतीश कैंथ, बाबूलाल, गुरचरण दास काला और एमपी कोहली का नाम शामिल है। ये पार्षद अपने परिवार के सदस्यों और रिश्तेदारों को सरकारी टूर पर साथ ले गए थे। इससे टूर का खर्चा बढ़ गया था। इस समय दिवगंत मलकीयत सिंह के भाई हरदीप सिंह नगर निगम के पार्षद हैं।
आगे पढ़ें

अभी कौन-कौन से टूर गए हैं

Spotlight

Most Read

National

पाकिस्तान की तबाही के दो वीडियो जारी, तेल डिपो समेत हथियार भंडार नेस्तनाबूद

सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है। भारत के जवाबी हमले में पाकिस्तान की कई फायरिंग पोजिशन, आयुध भंडार और फ्यूल डिपो को बीएसएफ ने उड़ा दिया है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: चंडीगढ़ का ये चेहरा देख चौंक उठेंगे आप!

‘द ग्रीन सिटी ऑफ इंडिया’ के नाम से मशहूर चंडीगढ़ में आकर्षक और खूबसूरत जगहों की कोई कमी नहीं है। ये शहर आधुनिक भारत का पहला योजनाबद्ध शहर है। लेकिन इस शहर को खूबसूरत बनाये रखने वाले मजदूर कैसे रहते हैं यह देख आप हैरान हो जायेंगे।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper