विज्ञापन
विज्ञापन
आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट
Janam Kundali

आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

हरिद्वार : पांच साल की बच्ची से नाबालिग ने किया दुष्कर्म, पुलिस ने शुरू कर दी मामले की जांच

पथरी थाना क्षेत्र के एक गांव में सोमवार शाम पांच साल की बच्ची के साथ उसके पड़ोसी ने दुष्कर्म कर लिया। दुष्कर्म का आरोपी 14 साल का नाबालिग किशोर है। पुलिस ने बच्ची का मेडिकल करवाकर आरोपी को हिरासत में ले लिया है। साथ ही बच्ची की हालत गंभीर देख उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

पथरी थाना क्षेत्र के एक गांव में सोमवार शाम एक पांच साल की बच्ची अपने घर पर खेल रही थी। शाम करीब पांच बजे उसका पड़ोसी 14 वर्षीय किशोर बच्ची को बहलाकर अपने घर ले गया। उस वक्त किशोर के घर पर कोई नहीं था। आरोप है कि वहां आरोपी किशोर ने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया।

इसके बाद किशोर घर से बाहर आकर टहलने लगा। काफी देर तक बच्ची अपने घर वापस नहीं आई तो परिजनों को चिंता हुई। उन्होंने आसपास बच्ची की तलाश शुरू की। इसी बीच किसी ने बच्ची के परिजनों को जानकारी दी कि कुछ समय पहले पड़ोसी किशोर बच्ची को अपने साथ ले जाते हुए देखा गया था। जानकारी मिलने पर परिजन तुरंत किशोर के घर पहुंचे तो वहां बच्ची बदहवाश पड़ी थी।

बच्ची की हालत देखकर परिजन सारा मामला समझ गए। गुस्साए परिवार के लोग ग्रामीणों को साथ लेकर थाने पहुंचे। जहां पुलिस ने बच्ची को तत्काल मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेजा। जिला अस्पताल में बच्ची की हालत खराब होने से उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया। सीओ राजेंद्र सिंह ने बताया कि पीड़ित परिजनों ने आरोपी पड़ोसी किशोर के खिलाफ तहरीर दी है। तहरीर के आधार पर आरोपी पर केस दर्ज कर उसे हिरासत में ले लिया गया है। बताया कि पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

हरिद्वार : सात साल की मासूम से मकान मालिक ने किया दुष्कर्म

नगर कोतवाली क्षेत्र में सात साल की मासूम से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पुलिस ने मासूम के पिता की तहरीर पर मकान मालिक के खिलाफ दुष्कर्म और पॉस्को एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

कोतवाली निरीक्षक अमरजीत सिंह ने बताया कि एक दंपती किराये के मकान में रहते हैं। दंपती की सात साल की बेटी है। दंपती को काम के सिलसिले में अक्सर घर से बाहर जाना होता है। बाहर जाते वक्त नाबालिग बेटी को भरोसे पर मकान मालिक के पास छोड़ देते थे, ताकि उसकी देखभाल हो सके।

आरोप है कि मासूम पिछले कुछ दिनों से काफी डरी और सहमी रहने लगी। 20 नवंबर को उसकी मां ने डरने की वजह पूछी। मासूम ने मकान मालिक की हरकतें बताई तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई।

मासूम ने आरोप लगाया कि जब वो लोग घर पर नहीं होते हैं तो मकान मालिक उसके कमरे में आता है। उसके साथ गंदी हरकतें करता है। शिकायत करने पर माता-पिता को मारने की धमकी भी देता है।

पुलिस ने मासूम के पिता की तहरीर पर मकान मालिक के खिलाफ दुष्कर्म और पॉस्को एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। मासूम बच्ची का मेडिकल कराया जा रहा है। आरोपी मकान मालिक फरार है।
... और पढ़ें

हरिद्वार डबल मर्डर: बुजुर्ग दंपती का परिचित निकला मुख्य आरोपी, पैसों के लिए बेरहमी से की थी हत्या

Uttarakhand News: तीर्थनगरी हरिद्वार में पत्थरों से कुचलकर साधु की हत्या से हड़कंप, पुलिस जांच में जुटी

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

हरिद्वार: जेल में बंद कुख्यात भूरा ने कैदी की पत्नी से फोन कर मांगी फिरौती, एसटीएफ ने किया पूरे नेटवर्क का भंडाफोड़

एसटीएफ ने हरिद्वार जेल से चल रहे कुख्यातों के नेटवर्क का भंडाफोड़ किया है। यहां हत्या और लूट के मामलों में बंद कुख्यात इंतजार उर्फ भूरा व उसके साथी मोबाइल से फिरौती मांग रहे थे। एसटीएफ ने जेल से दो मोबाइल फोन और दो सिम व चार्जर भी बरामद किए हैं। एक कैदी की पत्नी से फिरौती के रूप में मांगी गई सोने की चेन लेने गए भूरा के दो साथियों को भी एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है। इस मामले में आईजी जेल ने दो वार्डनों को भी निलंबित किया है।

मामले में रोशानाबाद (हरिद्वार जिला जेल) जेल में बंद एक कैदी वैभव बंसल के परिजनों ने डीजीपी से शिकायत की थी। वैभव बंसल गत 24 दिसंबर 2020 से जेल में बंद है। उसकी पत्नी को व्हाट्एसप से कॉल कर सोने की चेन फिरौती में मांगी जा रही थी। डीजीपी के निर्देश पर एसटीएफ ने इस मामले की जांच शुरू की तो पता चला कि यह फिरौती रोशनाबाद जेल में बंद इंतजार पहलवान (भूरा) व उसके साथी नावेद आलम ने मांगी है। 

एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि ट्रैप के मुताबिक चेन लेकर निर्धारित स्थान पर बंसल की पत्नी को पहुंचने को कहा गया। इसके बाद जैसे ही एक युवक चेन लेने पहुंचा तो उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में उसने अपना नाम साहिल अली बताया। साहिल अली नावेद के भाई परवेज के कहने पर ही वहां पहुंचा था। जैसे ही परवेज आलम उसके पास निर्धारित स्थान पर पहुंचा तो उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद एसटीएफ की टीम ने हरिद्वार जिला जेल में रेड डाली तो वहां से दो मोबाइल, दो सिम और एक चार्जर बरामद हुआ। इन मोबाइलों के माध्यम से इंतजार पहलवान उर्फ भूरा व नावेद व्हाट्सएप चलाते थे। 
... और पढ़ें

हरिद्वार दुष्कर्म-हत्या केस: आरोपी राजीव को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा जेल 

हरिद्वार के ऋषिकुल क्षेत्र में मासूम बच्ची से दरिंदगी के आरोप में उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर से गिरफ्तार राजीव कुमार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। वह सात दिन तक पुलिस को चकमा देता रहा। आठवें दिन वह हाथ आया।  

सोमवार सुबह आरोपी राजीव कुमार को हरिद्वार लाया गया। पुलिस ने उसे न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम (रिमांड मजिस्ट्रेट) पारूल थपलियाल की अदालत में पेश किया। कोर्ट ने उसे जेल भेजने का आदेश दे दिया। 

बता दें, ऋषिकुल क्षेत्र में 20 दिसंबर को 11 साल की मासूम का अपहरण कर दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई थी। शव राजीव कुमार के घर से बरामद हुआ। पुलिस ने राजीव के भांजे रामतीरथ यादव को घटना के दिन ही मौके से दबोच लिया, लेकिन आरोपी राजीव फरार हो गया था।

यह भी पढ़ें: 
हरिद्वार दुष्कर्म-हत्या केस: पेशेवर अपराधियों से भी शातिर निकला आरोपी राजीव, सात दिन बाद ऐसे चढ़ा पुलिस के हत्थे

राजीव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की दस टीमों ने उत्तराखंड के अलावा यूपी, दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में ताबड़तोड़ छापे मारे थे। सात दिन की मशक्कत के बाद पुलिस ने रविवार सुबह एक लाख रुपये के इनामी फरार आरोपी राजीव को सुल्तानपुर से दबोच लिया। इससे पहले शनिवार को उसके भाई गौरव को हरिद्वार रोडवेज स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया गया।

सोमवार सुबह करीब छह बजे आरोपी राजीव को पुलिस हरिद्वार लेकर पहुंची। विवेचक अमरजीत सिंह चड्ढा की ओर से आरोपी को न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम (रिमांड मजिस्ट्रेट) पारूल थपलियाल की अदालत में पेश किया। अभियोजन अधिकारी विनय कुमार गुप्ता ने बताया कि आरोपी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। 
... और पढ़ें

हरिद्वार दुष्कर्म-हत्या केस: पेशेवर अपराधियों से भी शातिर निकला आरोपी राजीव, सात दिन बाद ऐसे चढ़ा पुलिस के हत्थे

पकड़ा गया आरोपी(सफेद टीशर्ट में)

हरिद्वार: सामने आई एक और शर्मनाक घटना, 15 साल की किशोरी से दुष्कर्म, गर्भवती हुई पीड़िता

हरिद्वार की एक कॉलोनी में मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी और हत्या का मामला ठंडा भी नहीं हुआ था कि अब एक और इलाके में किशोरी के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पीड़िता के पेट में दर्द होने पर जब उसकी जांच करवाई गई तो गर्भ ठहरने की बात सामने आई।

पीड़िता के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया है। नगर कोतवाली पुलिस के मुताबिक करीब तीन महीने पहले पड़ोसी युवक ने 15 साल की किशोरी के साथ दुष्कर्म किया।

इसके बाद भी डरा धमकाकर कई बार उसे हवस का शिकार बनाता रहा। मंगलवार रात किशोरी के पेट में दर्द हुआ। इसकी जानकारी जब आरोपी युवक को लगी तो वह उसे रानीपुर मोड़ स्थित एक अस्पताल लेकर गया।
... और पढ़ें

हरिद्वार दुष्कर्म-हत्या केस: घटना स्थल के बाहर बेखौफ होकर घूमते रहे आरोपी, ऐसे दिया वारदात को अंजाम

हरिद्वार दुष्कर्म-हत्या केस: आठ टीमों ने ताबड़तोड़ की दबिश, फरार आरोपी की आखिरी लोकेशन रुड़की में मिली

हरिद्वार में मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी का फरार आरोपी 72 घंटे बाद भी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ सका है। आरोपी की आखिरी लोकेशन रुड़की में मिली है। इसके बाद से मोबाइल बंद है। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एसओजी समेत आठ टीमें बनाई गई हैं। टीमें हरिद्वार, देहरादून और प्रदेेश के बाहर संभावित ठिकानों पर दबिश मार रही है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

नगर कोतवाली क्षेत्र में शनिवार को 11 साल की मासूम बच्ची गायब हो गई थी। उसी रात पुलिस ने बच्ची का शव एक मकान से बरामद कर लिया था। मकान कपड़ा व्यापारी राजीव कुमार का है। जहां भांजा रामतीरथ यादव दो साल से रह रहा था। बच्ची की हत्या से पहले उसके साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई थी। पुलिस ने रामतीरथ यादव को मौके से गिरफ्तार कर लिया, जबकि राजीव कुमार फरार हो गया था।

यह भी पढ़ें: 
हरिद्वार दुष्कर्म-हत्या केस: धर्मनगरी के लोगों का फूटा गुस्सा, आक्रोश देख पुलिस के हाथ-पैर फूले, तस्वीरें...

बच्ची के पिता की तहरीर पर पुलिस ने रामतीरथ यादव और राजीव कुमार के खिलाफ हत्या, दुष्कर्म, अपहरण का मुकदमा दर्ज है। फरार आरोपी राजीव का फोन शनिवार रात से ही बंद है। उसकी मोबाइल की आखिरी लोकेशन रुड़की बताई जा रही है। एसएसपी सेंथिल अबूदई कृष्णराज एस ने आरोपियों को दबोचने के लिए एसओजी के अलावा कोतवाली एवं जिला पुलिस की आठ टीमें लगाई हैं।

टीमें संभावित ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापा मार रही है। दोनों ही आरोपी यूपी के सुल्तानपुर अलीगंज के मूल निवासी हैं। एक टीम को वहां भी भेजा गया है। हरिद्वार, देहरादून के अलावा राजीव के छिपने के संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक राजीव के संपर्क खंगालकर नजदीकी लोगों के नंबर सर्विलांस पर लगाए गए हैं। राजीव के नजदीकी लोगों के आसपास पुलिसकर्मियों को सादी वर्दी में तैनात किया गया है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X