अधिकारियों को परेशान करने के लिए रेलकर्मी ने की थी राजधानी पलटने की साजिश, चार हिरासत में

ब्यूरो,अमर उजाला,मिर्जापुर Updated Fri, 10 Nov 2017 12:02 PM IST
railway personnel planned to accident rajdhani train in mirzapur
rajdhani express - फोटो : सोशल मीड‌िया
मिर्जापुर में जिगना गैपुरा इलाके में रेल पटरी पर बोल्डर रख कर राजधानी गिराने के मामले में आरपीएफ ने बड़ा खुलासा किया है। जिसे सुन कर रेल के साथ साथ पुलिस के उच्चाधिकारियों के भी कान खड़े हो गए हैं। पुलिस इस मामले में रेल कर्मचारी समेत चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। अन्य लोगों की भी तलाश की जा रही है।
बता दें कि मिर्जापुर से लेकर जिगना तक रेल पटरी पर सात बार बोल्डर रखकर राजधानी समेत अन्य ट्रेनों को गिराने का प्रयास किया जा चुका है, लेकिन हर बार आरोपी अपने मकसद में विफल रहे हैं। मामले की जानकारी होने पर आरपीएफ अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर इसकी जांच शुरू की। जांच के दौरान जो खुलासे हुए उसे सुन कर आरपीएफ के अधिकारी समेत रेलवे उच्चाधिकारी भी हैरान हैं।

सूत्रों की माने तो जांच में पाया गया है कि रेलवे के कुछ कर्मचारी ही उच्चाधिकारियों को परेशान करने एवं उनके विरुद्घ कार्रवाई कराने के लिए जिगना एवं गैपुरा के लोगों से मिलीभगत कर तीन बार जिगना और गैपुरा के बीच रेल लाइन पर बोल्डर रख कर राजधानी को गिराने का प्रयास करवाया है।

यही नहीं हजारों लोगों की जान खतरे में डालते हुए ये कर्मचारी यातायात को बाधित कराने का प्रयास कर चुके हैं। जांच में इसकी पुष्टि होने पर आरपीएफ ने अभी तक इस मामले में चार लोगों को हिरासत में लिया है।

इसमें दो रेल कर्मी समेत दो अन्य आरोपी शामिल हैं, जिनसे पूरी घटना के बारे में पूछताछ की जा रही है। संभावना है कि पुलिस इसका खुलासा एक दो दिन में कर देगी। जिसमें रेलवे के कर्मचारियों के नाम सबके सामने आ जाएंगे।

Spotlight

Most Read

Jhajjar/Bahadurgarh

गैस प्लांट के यार्ड में जाते वक्त ट्रैक से उतरा मालगाड़ी का डिब्बा

गैस प्लांट के यार्ड में जाते वक्त ट्रैक से उतरा मालगाड़ी का डिब्बा

19 फरवरी 2018

Related Videos

यूपी के इस जिले में पकड़ा गया 15 हजार में 10वीं पास करा देनेवाला गिरोह

सीएम आदित्यनाथ योगी चाहे जितनी भी कोशिश कर लें पर लगता है कि यूपी में नकल माफिया सुधरनेवाला नहीं। वाराणसी से सटे चंदौली में पुलिस ने ऐसे ही नकल माफिया का भंडाफोड़ किया है जो 15 हजार रुपये में यूपी बोर्ड के पेपर सॉल्व करने का ठेका लिया करता था।

18 फरवरी 2018

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen