मौसम के बदलते ही खेतों की जुताई शुरू

Unnao Updated Wed, 20 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
उन्नाव। सोमवार की शाम से बदले मौसम ने मंगलवार को भी जिले के कुछ इलाकों में अपना रंग दिखाया। काफी समय से लगातार कड़क धूप का सामना कर रहे जिले के लोगों ने कुछ राहत महसूस की। सोमवार की शाम को आई आंधी के बाद तो कुछ छींटे ही पड़े थे, लेकिन मौसम काफी हद तक ठंडा हो गया था। सुबह भी मौसम ने निराश नहीं किया। हालांकि कुछ ही देर में खुली धूप ने पसीने से फिर तर कर दिया। मौसम बदलने से खुश किसानों ने खेतों की जुताई भी शुरू कर दी।
विज्ञापन

नवाबगंज प्रतिनिधि के अनुसार सुबह करीब साढ़े सात बजे आसमान में बादल घने हुए और करीब आधा घंटा तक बरसात हुई। इसने आम लोगों को भले ही राहत न दी हो लेकिन किसान खुश दिखे। उन्नत और साधन संपन्न किसानों ने मौसम का पूरा फायदा उठाते हुए तत्काल ही खेतों की जुताई प्रारंभ कर दी। उनका कहना था कि देर हो जाएगी तो धूप में फिर से खेत सख्त हो जाएंगे। बरसात के बाद अधिकांश किसान अपने खेतों का निरीक्षण कर आगे की योजना बनाते दिखे।
पुरवा प्रतिनिधि के अनुसार क्षेत्र में सोमवार की शाम को आंधी के साथ बदले मौसम ने लोगों को गर्मी से राहत दी है। रात भर ठंडी हवा के साथ ही दिन में हुई बरसात ने किसानों की उम्मीदों को जगा दिया है। किसानों की मानें तो जुताई के योग्य बरसात तो नहीं हुई है लेकिन यदि इतनी ही बरसात आज रात भी हो गई तो खेतों में हल चलने लगेंगे। सुबह देर से खुली धूप ने एक बारगी तो लोगों को उमस का एहसास कराया लेकिन कुछ ही देर बाद आए बादलों ने कुछ राहत दे दी।
फतेहपुरचौरासी प्रतिनिधि के अनुसार क्षेत्र में सोमवार की शाम से बदले मौसम ने लोगों को काफी राहत दी। रात में मामूली बरसात के बाद दिन में भी कुछ इलाके में हल्की बरसात हुई। लोगों का मानना है कि अब जल्द ही मानसून आ जाएगा और गर्मी से राहत मिलेगी। दूसरी ओर कटरी क्षेत्र के लोगों की धड़कनें बरसात की आहट के साथ ही बढ़ने लगी हैं। हालांकि यहां के लोगों का कृषि ही मुख्य पेशा है लेकिन दो वर्षों से लगातार बाढ़ के कारण जायद की फसल नष्ट हो जाने के कारण वे फिलहाल बुआई की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं। बांगरमऊ प्रतिनिधि के अनुसार शहर में बूंदाबांदी हुई तो देहात क्षेत्र में करीब आधा घंटे जमकर बारिश हुई।
भगवंतनगर प्रतिनिधि के अनुसार क्षेत्र में बीती शाम से ही लोग मानसून के आने का अहसास करने लगे थे। मंगलवार को दिन भर उमस और ठंडी हवाओं में आंख मिचौली चलती रही। दिन की बरसात के बाद किसान अपने खेतों की ओर निकल पड़े। शाम तक खेतों की जुताई भी शुरू कर दी थी, जबकि बरसात में बच्चों के साथ युवा भी जमकर भीगते दिखे।
मौरावां प्रतिनिधि के अनुसार मौसम ने लोगों को राहत देते हुए गर्मी से राहत दी है। बरसात तो क्षेत्र में मामूली ही हुई लेकिन कड़ी धूप से राहत मिली। बीती शाम से लोग घरों के बाहर निकल कर हवा का आनंद लेते दिखे। और अब लोगों को मानसून के आने की उम्मीद बंधी है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us