मोमबत्ती से लगी घर में आग, सामान जला

ब्यूरो/अमर उजाला, शामली Updated Sat, 14 Jan 2017 12:13 AM IST
House fires started by candles, lighting accessories
आग - फोटो : SELF
गढीपुख्ता। गांव कच्ची गढ़ी में मोमबत्ती गिरकर घर में आग लगने से घर का सारा सामान जलकर राख हो गया। परिवार के शोर मचाने के बाद आसपास के लोगों ने मौके पर पहुंचकर किसी तरह आग पर काबू पाया। पीड़ित ने बताया कि घटना की सूचना देने पर भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे। 

शुक्रवार को गढ़ीपुख्ता थाना क्षेत्र के गांव कच्ची गढ़ी निवासी मेहरबान पुत्र नसीबू मजदूरी कर अपने बच्चों का गुजारा करता था। बताया जा रहा है कि सुबह के समय बिजली न होने से पत्नी ने मोमबत्ती जला दी। लेकिन कुछ देर बाद ही मोमबत्ती बिस्तर पर जा गिरी। जिससे बिस्तर मेें आग लग गई, धीरे-धीरे आग फैल गई।
जिससे सारा सामान जलकर राख हो गया। मेहरबान व उसकी पत्नी के शोर मचाने पर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और किसी तरह आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक सब सामान जल चुका था। 

पीड़ित मेहरबान ने बताया कि आग के बारे में एसडीएम ऊन को भी जानकारी दी, लेकिन किसी भी अधिकारी ने मौके पर आना उचित नहीं समझा। पीड़ित ने बताया कि वह बेहद गरीब है। यह मकान भी उसे इंदिरा आवास योजना में मिला था। ग्रामीणों ने उच्चाधिकारियों से पीड़ित को आर्थिक हालात को देखते हुए मुआवजा दिलाने की मांग की।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी पुलिस भर्ती को लेकर युवाओं में जोश, पहले ही दिन रिकॉर्ड रजिस्ट्रेशन

यूपी पुलिस में 22 जनवरी से शुरू हुआ फॉर्म भरने का सिलसिला पहले दिन रिकॉर्ड नंबरों तक पहुंच गया।

23 जनवरी 2018

Related Videos

यहां दलित परिवार पर टूटा ‘पद्मावत’ विरोध का कहर

देशभर में फिल्म पद्मावत के रिलीज को लेकर विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। शामली के भवन थाना क्षेत्र के गांव हरड़ फतेहपुर में पद्मावत फिल्म को लेकर दलित परिवार पर हमला किया गया। देखिए क्या है पूरा मामला।

21 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper