विज्ञापन
विज्ञापन

नमो- नमो की छुट्टी होने वाली है:मायावती

Varanasi Bureauवाराणसी ब्यूरो Updated Sat, 18 May 2019 12:51 AM IST
ख़बर सुनें
मिर्जापुर। सिटी ब्लाक के अघवार में शुक्रवार को आयोजित गठबंधन की सभा में बसपा सुप्रीमो मायावती व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने केंद्र व प्रदेश की सरकार के साथ ही कांग्रेस पर भी निशाना साधा। कहा कि नमो- नमो की छुट्टी होने वाली है।
विज्ञापन
विज्ञापन
बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि गरीब, मुस्लिम, अल्पसंख्यक व पिछड़ी और दलित जातियों की स्थिति खराब है। इसका खुलासा संसद में हो चुका है । इन पर जुल्म व ज्यादती चरम पर है। यह सरकार गरीबों की नहीं बल्कि संपन्न लोगों की है। इन पांच सालों में देश में गरीबी बढ़ी है। कहा नोटबंदी व जीएसटी से देश में गरीबी व बेरोजगारी बढ़ी। उन्होंने कांग्रेस व बीजेपी को केंद्र में न आने देने का आह्वान किया और कहा कि यदि कांग्रेस ने काम किया होता तो बीजेपी सत्ता में नहीं आई होती। चुनावी घोषणा पत्र जारी नहीं करने पर कहा कि जो हम कहते हैं वह करते हैं, अन्य पार्टियां जो घोषणा करती हैं उनको दरकिनार कर देती हैं।
महागठबंधन को सामाजिक परिवर्तन की संज्ञा देते हुए कहा कि यह गठबंधन देश की सरकार तो बदलेगा ही। प्रदेश की सरकार को भी उखाड़ फेंकेगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि किसी भी कीमत पर बीजेपी व कांग्रेस को सत्ता में आने से रोकना है। तभी डॉ. अंबेडकर का सपना साकार होगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी की आरएसएस वादी नीतियों से देश का नुकसान हुआ है। उन्होंने सपा प्रत्याशी रामचरित्र निषाद को जिताने की अपील की। कहा कि मोदी तो नकली ओबीसी है, रामचरित्र असली ओबीसी हैं, इनको जिताने का काम करें। मायावती ने 32 मिनट तक भाषण दिया और लगातार बीजेपी व कांग्रेस को ही कटघरे में खड़ा किया।
उधर अखिलेश यादव ने कहा कि पांच साल केंद्र की सरकार देखी और दो साल प्रदेश की। लेकिन अच्छे दिन नहीं आए। इन सरकारों से हर वर्ग परेशान रहा। लोग तो इस बात का इंतजार कर रहे थे कि कब चुनाव शुरू हो और वे वोट देकर इन सरकारों को हटाएं। अब वह समय आ गया है। उन्होंने कहा कि न पेंशन मिल रही है और न ही कोई काम हो रहा है। सिर्फ और सिर्फ धोखा दिया जा रहा है।
उन्होंने मोदी की तर्ज पर कहा कि बताओ अच्छे दिन आए कि नहीं आए, नहीं आए। इसके बाद जीएसटी व नोटबंदी पर कहा कि इससे पूरा व्यापारी वर्ग परेशान रहा। उनका पूरा पैसा जमा करा लिया गया। मोदी ने कहा था कि मदद होगी, बोलो किसी को मदद मिली, नहीं मिली। आरोप लगाया कि एंबुलेंस योजना बंद कर दी गई। थाने की बुराई पीआरवी में आ गई। इस सरकार में जानवर तक परेशान हैं। उन्होंने कहा कि अवसर मिला तो लोहिया आवास योजना में सभी को आवास दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि चुनाव के पहले भारत पर 35 लाख करोड़ का कर्ज था, अब 70 लाख करोड़ है। कहां से इतना कर्ज बढ़ा। जाहिर सी बात है जिन्होंने यह धन लिया वह हवाई जहाज से बाहर चले गए। उन्होंने कहा कि साइकिल पर बटन दबाकर सपा प्रत्याशी को जिताएं। अध्यक्षता सपा जिलाध्यक्ष आशीष यादव व संचालन डा. केपी यादव ने किया। इस अवसर पर रामचरित्र निषाद, राबर्ट्सगंज के प्रत्याशी भाईलाल कोल, बसपा के युवा नेता आकाश आनंद, सतीश चंद्र मिश्र, पूर्व मंत्र कैलाश चौरसिया, रंगनाथ मिश्र, कुंजबिहारी गौतम, अशोक कुमार, शिवशंकर यादव, प्रभावती यादव, देवी प्रसाद चौधरी, सुरेंद्र सिंह पटेल, जवाहर लाल मौर्य, राजू चौबे, इंद्रजीत पांडेय, अशोक यादव, स्वामीशरण दुबे आदि थे।

Recommended

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें
Uttarakhand Board

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें

शनि जयंती के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्
ज्योतिष समाधान

शनि जयंती के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha chunav 2019) के नतीजों में किसने मारी बाजी? फिर एक बार मोदी सरकार या कांग्रेस की चुनावी नैया हुई पार? सपा-बसपा ने किया यूपी में सूपड़ा साफ या भाजपा का दम रहा बरकरार? सिर्फ नतीजे नहीं, नतीजों के पीछे की पूरी तस्वीर, वजह और विश्लेषण। 23 मई को सबसे सटीक नतीजों  (lok sabha chunav result 2019) के लिए आपको आना है सिर्फ एक जगह- amarujala.com  Hindi news वेबसाइट पर.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Varanasi

चढ़ते तापमान के साथ तीन फीसदी बढ़ा मतदान, 58.01% हुआ मतदान 13 सीटों पर

सातवें और आखिरी चरण में पूर्वांचल ने चढ़ते ताप के बीच लोकतंत्र का जश्न मनाया। युवा हों या बुजुर्ग सभी में जबरदस्त जोश देखने को मिला।

20 मई 2019

विज्ञापन

देखिए कौन सी पार्टी पिछड़ रही 2019 लोकसभा चुनाव के एग्जिट पोल में

2019 लोकसभा चुनाव का एग्जिट पोल पर अगर यकीन किया जाए तो 23 मई को बीजेपी अकेले दम पर सरकार बनाने की स्थिति में होगी।

20 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election