बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

पेट में गहरे जख्म से हुई सुअर की मौत

बांकेगंज Updated Sun, 05 Apr 2015 07:10 PM IST
विज्ञापन
Death from deep wounds in the stomach of the pig

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
शनिवार सुबह नौ बजे निकटवर्ती गांव अर्जुनपुर में लोगाें के घरों में घुसकर चार ग्रामीणों को घायल करने वाले जख्मी जंगली सुअर की मौत पेट में गहरे घाव के कारण अधिक खून निकलने से हुई है। पशु चिकित्सालय के डॉ. रवीकांत वर्मा ने सुअर के पोस्टमार्टम के बाद इस बात की पुष्टि की है।
विज्ञापन

बता दें कि साउथ खीरी डिवीजन के मैलानी रेंज की महुरेना बीट जंगल से निकलकर एक जख्मी जंगली सुअर शनिवार सुबह नौ बजे निकटवर्ती गांव अर्जुनपुर में पहुंच गया। इस दौरान उसने लोगाें के घरों में घुसकर चार ग्रामीणों पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया था।  ग्रामीणों के खदेड़ने पर वह गांव के बगल में गेंहू के खेत में छिप गया। सूचना पर पहुंचे वनकर्मी खेतों में मौजूद सुअर की निगरानी करने लगे।

इस दौरान कुछ देर बाद सुअर की मौत हो गई। डीएफओ साउथ नीरज कुमार के निर्देश पर महुरेना फॉरेस्टर ब्रजेश कुमार और जोगेंद्र सिंह ने स्थानीय पशु चिकित्सालय में पोस्टमार्टम कराया। पोस्टमार्टम रिर्पोट में डॉ. रवीकांत वर्मा ने उसके पेट में गहरे जख्म से अधिक खून बहना मृत्यु का कारण बताया।  
सुअर के हमले में घायल ग्रामीणों की हालत में सुधार
गांव अर्जुनपुर में जंगली सुअर के हमले के बाद इलाज के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती गंभीर रूप से घायल तोताराम और उमेश की हालत में सुधार हो रहा है। घायलों के तीमारदारों और परिवारीजनों ने बताया कि दोनों गंभीर घायलों की हालत पहले से कुछ बेहतर है। 


आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us