विज्ञापन

प्रधान, उपप्रधान समेत चार लोगों पर 420 का केस

Shimla	 Bureauशिमला ब्यूरो Updated Sat, 03 Jun 2017 07:24 PM IST
ख़बर सुनें
अमर उजाला ब्यूरो
विज्ञापन
विज्ञापन
डिडवीं टिक्कर/हमीरपुर। बल्यूट कृषि सेवा सहकारी सभा में सवा करोड़ के घपले के बहुचर्चित मामले में सभा प्रधान, उपप्रधान समेत दो सदस्यों की मैनेजिंग कमेटी पर पुलिस में केस दर्ज हो गया है। प्रदेश सहकारी सभाएं विभाग ने शनिवार को पुलिस थाना हमीरपुर में वित्तीय मामले में लापरवाही बरतने, गबन में सहयोग करने समेत सभा में रह कर फर्जीवाड़ा करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करवाया है। पुलिस ने पहले ही सभा सचिव पर मुकदमा दर्ज किया हुआ है। पुलिस सचिव को हर जगह तलाश कर चुकी है लेकिन अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है। सभा के करीब 500 से अधिक सदस्यों की मेहनत की कमाई और जमा-पूंजी इस सोसायटी में जमा है। सचिव के अचानक गायब होने के बाद उपभोक्ताओं ने बीते माह मिनी सचिवालय हमीरपुर के बाहर धरना-प्रदर्शन किया था। सभा सदस्याओं ने जिला प्रशासन से उनकी जमा-पूंजी को वापस लौटने और आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की गुहार लगाई थी।
सोसायटी में प्रशासक की नियुक्ति
प्रदेश सहकारी सभाएं के पंजीयक ने शनिवार को सभा को भंग कर प्रशासक की नियुक्ति कर दी। जिला निरीक्षक सहकारी सभाएं कुलदीप शर्मा को बतौर प्रशासक नियुक्त किया है। अब सभा का सारा रिकॉर्ड उनके पास रहेगा। इससे पहले सभा के प्रधान मस्तराम, उपप्रधान धर्म चंद, सदस्य जगत राम और संजीव कुमार के पास सोसायटी का जिम्मा था।
डीएओ और इंस्पेक्टर की टीम करेगी ऑडिट
सहकारी सभाएं के पंजीयक ने प्रशासक की नियुक्ति के साथ ही जिला ऑडिट ऑफिसर (डीएओ) और इंस्पेक्टर की दो सदस्यीय टीम को सभा के ऑडिट का जिम्मा सौंपा है। बिलासपुर के जिला ऑडिट ऑफिसर रमेश चंद शर्मा और सरकाघाट मंडी के इंस्पेक्टर क्रीति नरेश सभा का 2015-16 और 2016-17 का ऑडिट करेंगे। ऑडिट टीम को एक माह के भीतर ऑडिट कर जांच रिपोर्ट शिमला स्थित पंजीयक सहकारी सभाएं को सौंपने के निर्देश दिए हैं।

जिला ऑडिट ऑफिसर हमीरपुर नरेश दत्त ने कहा कि बल्यूट कृषि सेवा सहकारी सभा के मैनेजिंग कमेटी को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है। सहकारी सभाएं के पंजीयक ने यहां पर प्रशासक की नियुक्ति की है। दो सदस्यीय कमेटी को सहकारी सभा के ऑडिट का जिम्मा सौंपा है। 30 दिन के भीतर जांच रिपोर्ट जमा करवानी है। सभा प्रधान, उपप्रधान एवं दो सदस्यों के खिलाफ पुलिस में मुकदमा दर्ज करवाया गया है।

ऐसे आया था मामला सामने
हमीरपुर में बल्यूट कृषि सेवा सहकारी सभा एक पुरानी सोसायटी है। वर्तमान में इसके चार सदस्यों के अलावा करीब 500 ग्राहक हैं। 25 अप्रैल को सचिव को सहकारी सभाएं सहायक पंजीयक के पास पेशी के लिए बुलाया था। 24 अप्रैल 2017 को सभा सचिव अपने परिवार के सदस्यों के साथ अचानक गायब हो गया। वह सोसायटी कार्यालय में एक सूसाइड नोट भी रख गया था। 4 मई को सहकारी सभाएं के निरीक्षक ने सभा के कार्यालय का दौरा किया तो सचिव के लापता होने का मामला उजागर हुआ। बाद में पुलिस थाना हमीरपुर में सचिव के खिलाफ मामला दर्ज हुआ। सचिव को सहकारी सभाएं विभाग ने पहले भी एक मामले में निलंबित किया था। एक निलंबित कर्मचारी को दोबारा जिम्मेवारी वाले पद पर नियुक्त करना कई सवाल खड़े कर रहा है।

Recommended

सर्दी में ज्यादा खाएं देसी घी, जानें क्यों कहते हैं इसे ब्रेन फूड और क्या-क्या हैं इसके फायदे
ADVERTORIAL

सर्दी में ज्यादा खाएं देसी घी, जानें क्यों कहते हैं इसे ब्रेन फूड और क्या-क्या हैं इसके फायदे

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Kanpur

'खनन का खेल' अवैध खनन मामले में मुख्यमंत्री को पत्र लिख लगाई ये गुहार 

अवैध मौरंग खनन मामले में जनहित याचिकाकर्ता ने मुख्यमंत्री व प्रमुख सचिव खनिज को पत्र लिखकर एक मांग उठाई है।

16 जनवरी 2019

विज्ञापन
Hamirpur

मौत

16 जनवरी 2019

Hamirpur

फायरिंग

16 जनवरी 2019

लखनऊ की सडकों पर उतरे पीआरडी जवान, कहा मांग पूरी ना होने पर करेंगे ये काम

प्रदेश भर से लखनऊ पहुचे प्रांतीय रक्षक दल के जवानों ने हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान हजारों की संख्या में जवान मुख्यमंत्री आवास जाने के लिए निकले। लेकिन पुलिस बल ने उन्हें रोक लिया।

17 जनवरी 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree