सुसाइड नोट लिखकर व्यवसायी गायब

Gorakhpur Updated Sat, 17 Nov 2012 12:00 PM IST
गोरखपुर। कर्ज में डूबा मेडिकल स्टोर संचालक संदिग्ध परिस्थितियों में घर से गायब हो गया। मोहद्दीपुर का युवक घर पर सुसाइड नोट छोड़कर गया है। नोट में उसने लिखा है कि अधिक कर्ज होने के चलते वह परेशान हो गया है और आत्महत्या करने जा रहा है। घरवालों का कहना है कि कैंट पुलिस को इसकी सूचना दी गई है, लेकिन पुलिस ने ऐसी किसी तरह की सूचना से इंकार किया है।
मोहद्दीपुर के एक युवक का मोहरीरपुर में मेडिकल स्टोर है। घर पर उसकी मां और बहन रहतीं हैं। बृहस्पतिवार की दोपहर करीब एक बजे उसने दोस्त को बुलाया। दोस्त के साथ वह अपनी बाइक से बरगदवा गया और वहां बाइक दोस्त को दे दी। उसने दोस्त से बाइद को मोहद्दीपुर निवासी अपने परिचित तक पहुंचाने की बात कही और खुद यहीं से कहीं चला गया। दोस्त ने परिचित को बाइक दे दी। इस बीच व्यापारी ने परिचित को फोन कर बताया कि उसकी बाइक घर पहुंचा दें और उसके अंदर रखे कुछ कागजात निकालकर घर वालों को दे दें। कागजों को उलट-पलट कर देखने के दौरान इसके बीच से ही उन्हें एक सुसाइड नोट मिला। सुसाइड नोट में उसने अत्यधिक कर्ज होने और तगादा करने वालों से परेशान होकर आत्महत्या करने की बात लिखी थी। दोस्तों से पूछताछ में घरवालों को घटनाक्रम की जानकारी हुई। परेशानहाल घरवालों ने घटना की सूचना पुलिस को दी।
मिली जानकारी के अनुसार युवक पहले वाराणसी में मैनेजमेंट की कोचिंग चलाता था। यहां कोचिंग सेंटर बंद होने और साझेदारों से विवाद होने के चलते उसके ऊपर काफी कर्ज हो गया। वही लोग लगातार अपने रुपये वापस मांग रहे थे। इसी से तंग आकर उसके दिमाग में आत्महत्या का विचार आया। परिवार वालों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। हालांकि इस संबंध में इंस्पेक्टर कैंट राजेंद्र सिंह ने बताया कि उन्हें ऐसी किसी घटना की सूचना नहीं दी गई है। न ही किसी ने गुमशुदगी की तहरीर दी है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मरीज की मौत पर परिजन ने सरकारी अस्पताल में किया तांडव

बस्ती के सरकारी अस्पताल में भर्ती एक मरीज की मौत के बाद तिमारदार ने खूब तांडव मचाया। तीमारदार ने अस्पताल में रखी कुर्सी और मेज को फेंकना शुरू कर दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls