बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

ठंड का कहर जारी, शीतलहर की चपेट में तीन लोगों की जान गई

ब्यूरो/अमर उजाला, फतेहपुर Updated Fri, 02 Jan 2015 12:59 AM IST
विज्ञापन
cold wave hit life, three people were killed
ख़बर सुनें
जिले में ठंड का कहर से मौतें होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। गढ़ीवा इलाके में ठंड लगने के कारण दो लोगों की मौत हो गई। उधर, बिंदकी के मुगलरोड निवासी विद्याभूषण गुप्त (60) की ठंड लगने से मौत हो गई। परिजनों ने अंतिम संस्कार भिठौरा घाट में किया है। इस तरह अब तक ठंड से जिले में 24 लोगों की जाने जा चुकी है।
विज्ञापन

गढ़ीवा मोहल्ला निवासी रामरतन (42) पुत्र सुशील बुधवार को खेतों पर गया था। खेत से काम काज निपटाने के बाद वापस घर लौटा था। तभी उसकी अचानक हालत बिगड़ी गई थी।


हाल बेहाल देखकर परिजन उसे जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां पर डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं इलाके में ही दूसरी घटना की जानकारी गुरूवार सुबह हुई है।

मोहल्ले के रमेश लोधी के मकान में वृद्ध अरुण कुमार रहता था। उसका सुबह से दरवाजा खुला नहीं था। यह देखकर मकान मालिक ने पड़ताल की। काफी देर तक दरवाजा खटखटाने के बाद पुलिस को सूचना दी गई।

पुलिस के मौके पर पहुंची तो दरवाजा तोड़ा गया। घर के अंदर वृद्ध का शव बरामद हुआ। इलाकाई लोगों ने बताया कि कई वर्षों से अकेले ही वृद्ध रहता था। वह मजदूरी करके अपना भरण पोषण करता था। उसका कोई सगा सबंधी नहीं है। इलाकाई लोगों ने ही शव का अंतिम संस्कार किया है।
 
कड़ाके की ठंड में बारिश की फुहारों ने मुश्किलें और बढ़ा दीं। बुधवार की रात से बादल छाने के साथ रुक-रुक कर हो रही रिमझिम बरसात में लाहा की फसल में माहू का खतरा भी बढ़ गया है।

हालांकि ठंड का असर कमजोर हुआ है, लेकिन बादल छंटने के बाद एक बार फिर से जानलेवा ठंड से आम लोगों को जूझना पड़ सकता है। ऐसे मौसम में लाहा की फसल में माहू की बीमारी गिरफ्त में ले लेती है।

अगर दो चार दिन ऐसा मौसम रहा, तो किसान एक बार फिर से मारा जाएगा, क्योंकि सूखे के कारण खरीफ की फसल से हाथ धो चुका किसान लाहा की फसल भी गवां सकता है।

उधर, रिमझिम बरसात के कारण सरकारी और निजी बस स्टैंड और टैंपो स्टैंडों में यात्रियों की हालत खराब रही। बरसात से बचाव के लिए कोई व्यवस्था न होने के कारण यात्री भीगते रहे। बचाव के लिए आसपास की दुकानों की शरण लेते दिखाई पड़े।
पिछले हफ्तेभर से एक ओर जहां सर्दी का प्रकोप तेजी से पड़ रहा है वहीं बिजली आपूर्ति व्यवस्था भी लड़खड़ाई है। अलग अलग फाल्ट के चलते बीते चौबीस घंटे में मुश्किल से सात से आठ घंटे ही बिजली मिली है।

ऐसे में उपभोक्ताओं को दिक्कत का सामना करना पड़ा। मुराइनटोला विद्युत उपकेंद्र के अंतर्गत लालाबाजार में जर्जर तार चिंगारी के साथ टूटकर गिर गया जिससे आपूर्ति बाधित हो गई।

सूचना पर लाइनमैन ने फाल्ट ठीक की। इसी प्रकार शांतीनगर इलाके में ढाई सौ केवीए के ट्रांसफार्मर का तार बह गया जिससे इलाके में आपूर्ति ठप हो गई है। बिजली गुल होने से उपभोक्ताओं को ठंडी के मौसम में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। बिजली न होने पर न तो गीजर चल पाते हैं और न ही रूम हीटर।

वहीं अधिशासी अभियंता विद्युत प्रथम एके माथुर ने बताया कि फाल्ट तत्काल ठीक कराने के निर्देश सभी जेई को दिए जा रहे हैं।


विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X