टाइनी टाट्स के प्रबंधक व प्रधानाचार्य गिरफ्तार

अमर उजाला ब्यूरो Updated Sun, 10 Dec 2017 10:36 PM IST
Tiny Tatts Managing Director and Principal arrested
शहर के टाइनी टाट्स स्कूल की कक्षा-2 की छात्रा के साथ हुए दुष्कर्म मामले में पुलिस प्रशासन बैकफुट पर आ गया। रविवार को स्कूल के प्रबंधक रंजीत सिंह व प्रधानाचार्य तमन्ना को गिरफ्तार कर लिया गया। मामले में मुख्य आरोपी स्कूल वैन चालक अरविंद पांडेय व परिचालक देवशरण यादव को पहले ही जेल भेजा जा चुका है।
टाइनी टाट्स की कक्षा दो की आठ वर्षीय छात्रा ने परिवारीजनों से वैन के चालक व परिचालक पर अश्लील हरकत करने की बात बताई थी। मामले में परिवारीजनों की शिकायत पर काफी जद्दोजहद के बाद कोतवाली पुलिस ने बीते 17 नवंबर को दुष्कर्म, पाक्सो आदि धाराओं में केस दर्ज कर चालक अरविंद पांडेय व परिचालक देवशरण यादव को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

मामले में परिवारीजनों ने स्कूल प्रबंधक, प्रधानाचार्य समेत एक अन्य पर भी कार्रवाई की बात तहरीर में लिखी थी। आरोप था कि सूचना देने पर भी प्रबंधन ने ध्यान नहीं दिया। पहले जो चालक गंदी हरकत करता था, उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं की। बाद में जो वैन उपलब्ध कराई गई, उसके चालक ने पहले के बस चालक के साथ मिलकर घटना को अंजाम देता रहा।

मगर, पुलिस इन पर कार्रवाई करने पर आनाकानी कर रही थी। मामले में जिले के सपा, बसपा, आप समेत कई दलों व सामाजिक संगठन भी पीड़िता के पक्ष में मैदान में उतर गए और प्रशासन पर राजनीतिक और प्रशासनिक दबाव में आने का आरोप लगा आंदोलन की चेतावनी दी। सोमवार को सर्वदलीय आंदोलन की चेतावनी दी गई थी।

मामला गरमाते देख पुलिस ने करीब 23 दिन बाद रविवार को स्कूल के प्रबंधक रंजीत सिंह व प्रधानाचार्य तमन्ना को गिरफ्तार कर लिया। नगर कोतवाल अमर सिंह के मुताबिक दोनों को दोपहर रिकाबगंज चौराहे पर कार से जाते समय गिरफ्तार किया गया है। इनपर धारा 109, 188 व 16/42 पाक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

Spotlight

Most Read

Nainital

जहर खाने से किसान की मौत

जहर खाने से किसान की मौत

23 फरवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen