पांच पिस्टल, दो रिवॉल्वर समेत तीन तस्कर गिरफ्तार

अमर उजाला ब्यूरो / फैजाबाद Updated Wed, 30 Nov 2016 11:47 PM IST
Five pistols, two revolvers, including the three smugglers arrested
एसटीएफ ने असलहा तस्कर गिरोह का किया खुलासा - फोटो : अमर उजाला
अवैध असलहों के खेप की तस्करी की तहकीकात में जुटी सूबे की एसटीएफ टीम ने एक असलहा तस्कर गिरोह का खुलासा किया है। जनपद व पड़ोसी जनपद अंबेडकरनगर से तीन को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से पांच पिस्टल व दो रिवाल्वर बरामद की है। दो के खिलाफ नगर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है। 
पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता में एसपी सिटी उदयशंकर ने बताया कि एसटीएफ लखनऊ की टीम ने नगर कोतवाली के देवकाली बाइपास स्थित यश पेट्रोल पंप के पास से अवैध असलहों की खेप की डिलेवरी लेने आए मनोज तिवारी निवासी दौलतपुर एकसारा मड़िया थाना इब्राहिमपुर जिला अंबेडकरनगर व रोहित सिंह उर्फ  बाबू निवासी देवकाली रोड नगर कोतवाली को गिरफ्तार किया। इनके कब्जे से एसटीएफ टीम ने पांच पिस्टल व दो रिवाल्वर बरामद की है।

एसटीएफ के उपनिरीक्षक संदीप मिश्रा की ओर से नगर कोतवाली में दर्ज कराई गई रिपोर्ट में कहा गया है कि पकड़े गये मनोज तिवारी व रोहित सिंह उर्फ बाबू के अलावा इस असलहा तस्करी गिरोह में शहनवाज निवासी भागलपुर बिहार, देवी सिंह निवासी खंडवा मध्यप्रदेश, गौरी पांडेय निवासी गोशाईगंज व अब्बास उर्फ  डॉक्टर निवासी जलालपुर मजार मस्जिद के पास अंबेडकरनगर शामिल हैं।

गिरोह के शहनवाज व देवी सिंह बिहार तथा मध्य प्रदेश से अवैध असलहों की खेप लाकर इन सबकों सप्लाई करता है और यह लोग क्षेत्र में अवैध असलहों की बिक्री करते हैं। पकड़े गए अवैध असलहे आगामी विधानसभा चुनाव में इस्तेमाल के लिए खपाये जा रहे हैं। एसपी सिटी ने बताया कि मनोज व रोहित के खिलाफ नगर कोतवाली में आर्म्स एक्ट की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है। दोनों का चालान किया जा रहा है।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

ऑटो चालक विदेशी एयरहोस्टेस के साथ छेड़ छाड़ पर उतर आया पर दुकानदारों नें बचाया

एक ऑटो चालक ने भारत की छवि को धूमिल कर दिया। छवि को धूमिल करने का मामला दिल्ली के दिल कनॉट प्लेस का है।

22 फरवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen