गोदाम में सीमेंट की बोरियां गिरी, तीन श्रमिक दबे

अमर उजाला ब्यूरो/अयोध्या Updated Wed, 19 Oct 2016 11:19 PM IST
Bags of cement warehouse collapsed, three workers buried
हादसे में श्रमिक की मौत के बाद गमगीन परिजन। - फोटो : अमर उजाला
फोरलेन बाईपास पर बूथ नंबर चार के पास एक सीमेंट गोदाम में ट्रक से माल उतारने के दौरान सीमेंट की बोरियां भरभरा कर गिर गईं। इस हादसे में तीन मजदूर बोरियों के नीचे दब गए। तीनों को घायल अवस्था में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां एक की मौत हो गई, जबकि दो की हालत नाजुक बनी हुई है।
हादसा मंगलवार की दोपहर लगभग ढाई बजे का बजाया जा रहा है। लेकिन सीमेंट मालिकों ने 24 घंटे तक पुलिस से मामले को छुपाए रखा। अब पुलिस मालिकों के खिलाफ कार्रवाई की बात कह रही है।

कोतवाल राजेश सिंह ने बताया कि सीमेंट एजेंसी के लोगों ने घटना को छिपाने की पूरी कोशिश की। एक मजदूर के मरने पर बुधवार को मामले की तफ्तीश शुरू की तो पूरा मामला खुलकर सामने आया। बताया कि गोदाम में ट्रक से सीमेंट की बोरियां उतारकर रखी जा रही थीं।

इसी दौरान सीमेंट की बोरियों की छल्ली भरभराकर गिर गई, जिसके नीचे तीन मजदूर छोटे पासवान (45) पुत्र विशेसर प्रसाद पासवान निवासी भखरी जिला नालंदा बिहार, यशलोक पासवान (25) पुत्र राम खेलावन, जितेंद्र पासवान (25) पुत्र प्रकाश निवासी गण शिवमंदी जिला नालंदा बिहार दब गए।

तीनों को बाहर निकालकर जिला अस्पताल लाया गया जहां छोटे पासवान को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। हादसे के बाद मृतक व घायल मजदूरों के परिवारीजन अस्पताल व पोस्टमार्टम हाउस के पास रोते-बिलखते रहे।

बताया कि हादसे को लेकर अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। जिन लोगों ने हादसे को छिपाने की कोशिश की है, उनके खिलाफ जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Dehradun

उत्तराखंड: ऋषिकेश-बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर फॉर्च्यूनर खाई में गिरी, तीन लोग घायल

मंगलवार को ऋषिकेश बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर मूल्या गांव में एक फॉर्च्यूनर कार खाई में गिर गई। सूचना पाकर देवप्रयाग से पुलिस रवाना हो गई।

20 फरवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen