...तो बच जातीं कई जान

Etawah Updated Tue, 24 Jul 2012 12:00 PM IST
ऊसराहार (इटावा)। बरालोकपुर कस्बा में हुए हादसे में किसी ने मां तो किसी ने पत्नी तो किसी ने पुत्रवधु और किसी ने बेटी को खो दिया। एक सदमे की तरह लगने वाला यह कड़वा सच है कि बरालोकपुर गांव की आधे से अधिक आबादी शौचालयों के अभाव में खुले में शौच के लिए जाने को मजबूर है। हादसे के दिन भी यह सभी महिलाएं खुले में शौच करके वापस आ रही थी।
बसरेहर विकास खंड की ग्राम पंचायत बरालोकपुर की जनसंख्या 5376 है। इसके अंतर्गत लोकपुरा, सीपुरी, वनका, किशनपुर, कुठैला मजरा आते हैं। इटावा फर्रुखाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग 92 पर बसे बरालोकपुर कस्बा की जनसंख्या 2650 है। इस पूरी ग्राम पंचायत में 1005 परिवार बसते हैं। जिसमें से अकेले बरालोकपुर में 500 से अधिक परिवार हैं। ग्राम पंचायत में 364 परिवार गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करते हैं। इस पूरे कस्बे में आधे से अधिक आबादी आज भी खुले में ही शौच के लिए मजबूर है। कठेरिया बिरादरी जिसने हादसे में सबसे अधिक सदस्यों को खोया है उनके घर शौचालय नहीं है। ऐसा नहीं है कि शौचालयों के निर्माण के लिए शासन से धन नहीं मिला हो। धन तो मिला लेकिन बंदरबांट कर लिया गया। कहा जाता है कि शौचालयों के निर्माण में लागत अधिक आती है, अनुदान बेहद कम होता है।
बरालोकपुर ग्राम पंचायत में वर्ष 2004 से 2012 तक 344 शौचालयों के निर्माण के लिए अनुदान प्राप्त हुआ है। ग्राम पंचायत अधिकारी समरेश शाक्य बताते हैं कि उन्हें एक माह पहले ही ग्राम पंचायत का कार्य मिला है। अब तक 250 परिवारों को शौचालयों का लाभ से अनुदानित किया जा चुका है। कुछ शौचालय निर्माणाधीन हैं। कई बार देखा गया है कि ग्रामीण सरकारी योजनाओं के धन का उपयोग अपने निजी कार्यों के लिए कर देते हैं।

Spotlight

Most Read

Varanasi

बिरहा प्रतियोगिता के चयन पर उठ रहे सवाल

बिरहा प्रतियोगिता के चयन पर उठ रहे सवाल

22 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में शौचालय भी हुए भगवा, पूर्व सीएम अखिलेश ने ली चुटकी

इटावा के एक गांव में बन रहे शौचालयों को भगवा रंग में रंगा जा रहा है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत बन रहे 350 शौचालयों में से सौ शौचालयों को भगवा में रंगा जा चुका है।

13 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper