विज्ञापन

ग्रेजुएशन में एडमिशन के लिए कड़ी फाइट

Bulandshahr Updated Sat, 16 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
जिले के हजारों स्टूडेंट्स के सामने भविष्य का संकट
विज्ञापन

9000 सीटें और 44088 स्टूडेंट्स प्रवेश की लाइन में
बुलंदशहर। जिले में बारहवीं की परीक्षा पास करने वाले हजारों स्टूडेंट्स को ग्रेजुएशन में एडमिशन के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ेगी। इंटर पास हुए स्टूडेंट्स सीसीएस यूनिवर्सिटी से संबद्ध बुलंदशहर के 14 कॉलेजों की 4220 सीटों पर प्रवेश के लिए जंग लडेंगे। इन कालेजों की सभी सीटों के साथ प्रोफेसनल कोर्स की 2700 सीटों के लिए भी मारामारी रहेगी।
बीए, बीएससी, बीकॉम की रेगुलर क्लास में सीटें कम होने से एडमिशन के लिए कड़ी फाइट होगी। जिले में सीसीएस यूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेजों की सीटों के साथ यूपीटीयू से मान्यता प्राप्त कॉलेजों की सीट भी जोड़ दी जाए फिर भी बामुश्किल 9000 हजार स्टूडेंट्स को प्रवेश मिल पाएगा। यह संख्या इस बार पास होने वाले 44088 के सापेक्ष काफी कम है। ऐसे में स्टूडेंट्स को प्रोफेसनल कोर्स की ओर रुख करना पड़ेगा।
गौरी शंकर डिग्री कॉलेज की प्राचार्या अंशू बंसल ने बताया कि बीए प्रथम वर्ष के पंजीकरण 14 जून से शुरू हो गए हैं। दो दिन में ही 150 फार्म बिक चुके। महाविद्यालय में सिर्फ 280 सीटें हैं।

प्राइवेट बनेगा विकल्प
बारहवीं कक्षा पास करने के बाद स्टूडेंट्स को स्नातक के लिए मजबूरन प्राइवेट पढ़ाई के लिए मजबूर होना पड़ेगा। शिक्षण सत्र 2010-11 में भी जनपद के करीब 20 हजार छात्रों को प्रवेश नहीं मिल पाया था। इसके चलते सीसीएस यूनिवर्सिटी से प्राइवेट फार्म भरना पड़ा।

कॉलेजों में सीटों की स्थिति (रेगुलर कोर्स)
कॉलेज बीए बीकॉम बीएससीं
डीएवी पीजी 420 200
गौरीशंकर 280
डीपीबीएस 180 120
अग्रसेन 60 60
मुस्लिम गर्ल्स 238
जेएस पीजी 240 120
काका गर्ल्स 200
आरडीपीडी 120
राजकीय जहांगीराबाद 240
एकेपी 380
एनआरईसी 480 120 300
आईपी कालेज 120 180
अमर सिंह कालेज 120 120
राजकीय 240

सीसीएस यूनिवर्सिटी से संबद्ध प्रोफेशनल कॉलेज-19
कोर्स सीट
बीबीए 1300
बीसीए 1300
बीएससी (प्रोफेसनल) 300
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us