बरेलीः देवरनिया में किशोरी की रस्सी से गला घोटकर हत्या, गांव के बाहर फेंका शव

Bareily Bureau बरेली ब्यूरो
Updated Tue, 21 Sep 2021 01:20 AM IST
रोते बिलखते घरवाले।
रोते बिलखते घरवाले। - फोटो : अमर उजाला ब्यूरो, बरेली
विज्ञापन
ख़बर सुनें

पैनल ने किया पोस्टमार्टम, दुष्कर्म की आशंका की पुष्टि को स्लाइड भी बनाई
विज्ञापन

फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वाड ने की जांच, घरवालों का रंजिश से इनकार

देवरनिया। गांव गुलड़िया मोहम्मद हुसैन में रहने वाली 16 वर्षीय देवलता की रविवार रात गला घोटकर हत्या करके शव गांव के बाहर फेंक दिया गया। सोमवार सुबह उसका शव जंगल जाने वाले रास्ते पर मिला तो पूरा गांव घटनास्थल पर इकट्ठा हो गया। पोस्टमार्टम में गला घोटकर हत्या किए जाने की पुष्टि हुई है। दुष्कर्म की जांच के लिए स्लाइड भी बनाई गई है। परिवार के लोगों ने हत्या के कारण से अनभिज्ञता जताई है।
देवरनिया के गांव गुलड़िया मोहम्मद हुसैन में रहने वाले वाहन चालक पप्पू सिंह के मुताबिक 16 वर्षीय बेटी देवलता के अलावा उनके दो बेटे ओमवीर और अनिल हैं। दोनों बेटे ड्राइवर हैं और गाड़ी लेकर बाहर गए हुए हैं। रविवार को घर में वह और देवलता ही थे। रात में वह अच्छी-खासी सोई थी। सोमवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे कूड़ा डालने जा रही महिलाओं ने उसका शव उनके घर से करीब सौ मीटर की दूरी पर जंगल जाने वाले रास्ते पर गंगा सिंह की गोशाला के पास पड़ा देखा। उसका दुपट्टा और चप्पलें शव के पास ही पड़ी थीं। वह गांव वालों के साथ देवलता का शव उठाकर घर ले गए। पप्पू सिंह ने बताया कि देवलता ने आठवीं तक पढ़ने के बाद पढ़ाई बंद कर दी थी।

सवाल : दुष्कर्म के विरोध पर नहीं की हत्या

सीओ बहेड़ी अजय कुमार गौतम और इंस्पेक्टर राकेश कुमार सिंह मौके पर पहुंचने के बाद जांच की तो देवलता के गले पर फंदा कसने का निशान और ठोड़ी के पास चोट का निशान मिला। सीओ ने फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वाड को बुला लिया। फोरेंसिक टीम ने देवलता के शव पर भूसे के तिनके देखकर गंगा सिंह की गोशाला के पास भूसे के कमरे में जांच की तो देवलता के दुपट्टे का एक छोटा टुकड़ा वहां पड़ा मिला। इससे यह आशंका महसूस की गई कि दुष्कर्म के विरोध पर तो देवलता की हत्या नहीं की गई। हालांकि डॉग स्क्वाड की जांच में कोई नतीजा नहीं निकला। पप्पू सिंह ने हत्या का आरोप तो लगाया लेकिन किसी पर शक नहीं जताया। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया।

पुलिस ने पहले कहा आत्महत्या, अब हत्या की जांच

देवलता के शव का तीन डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराया गया और उसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई। दुष्कर्म का साफ तौर पर तो कोई प्रमाण नहीं मिला लेकिन फिर भी स्लाइड बनाई गई है। पुलिस ने देवलता के पिता से घटना को लेकर पूछताछ की लेकिन उन्होंने किसी पर शक नहीं जताया। शुरुआत में पुलिस इसे आत्महत्या बता रही थी लेकिन पोस्टमार्टम के बाद हत्या की दिशा में जांच शुरू कर दी है।

कई बिंदुओं पर जांच कर रही पुलिस

देवलता की हत्या के खुलासे को लेकर पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है। पुलिस के सामने सवाल है कि उसके पिता ने किसी से भी रंजिश होने से इनकार किया है तो फिर किसने उसकी हत्या की। अब तक देवलता की हत्या की वजह सामने नहीं आई है। गांव में प्रेम प्रसंग की चर्चा को देखते हुए पुलिस उस दिशा में भी जांच कर रही है। कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00