कम बारिश व तेज धूप में मुरछाई फूलों की फसल

Kanpur Bureau Updated Fri, 13 Oct 2017 11:47 PM IST
मुहम्मदाबाद। कम बारिश होने व तेज धूप पड़ने से फूलों की खेती पर काफी असर पड़ा है। जिससे इन फूलों की खेती करने वाले किसानों को बड़ा नुकसान उठाना पड़ा। फसल खराब होने से किसान बेचैन हैं। सहालग में पैसा कमाने की उम्मीद संजोए किसानों को बड़ा झटका लगा है।

जनपद में फूलों की खेती करने वाले किसानों को बारिश न होने व तेज धूप पड़ने से काफी नुकसान उठाना पड़ा है। फूलों की फसल पानी के अभाव व तेजधूप से पूरी तरह से बर्बाद हो गई है। किसानों ने फूलों से आय अच्छी होने की उम्मीद से फसल लगाई थी। कम बारिश व तेज धूप से फसल सूख गई। पेड़ भी मुरझा गए हैं। जिस तरह से पैदावार होनी चाहिए थी नहीं हुई, जिससे किसान खासे परेशान हैं।

कुठौंदा के किसान ऊदल, अखिलेश, मनोज, उदय, रामकुमार, मुहम्मदाबाद के पप्पू माली, खरका के मान सिंह ने बताया कि बारिश होने पर ाने से गुलाब का फूल काफी बड़ा व अच्छा होता था, लेकिन इस बार कम बारिश होने व तेज धूप पड़ने से फूल छोटा हुआ है। महक भी कम है तो पैदावार भी बहुत कम हुई है।

अच्छी बारिश होने की आस लगाए किसानों ने सोचा था कि सहालग में आमदनी ठीक हो जाएगी। मगर पेड़ सूखने व पैदावार कम होने से इनके अरमानों पर पानी फिर गया है। इससे फूलों की खेती करने वालों को बड़ा झटका लगा है। वहीं किसानों ने बताया कि अब वह सर्दी के मौसम में गेंदा के फूलों की खेती करेंगे, अगर सही रहा तो इस नुकसान की भरपाई हो जाएगी।

बिना सहालग के बढ़ गए फूलों के दाम
इस समय सहालग भी नहीं चल रही है फिर भी दामों में काफी बढ़ोत्तरी हो गई है। इस समय गुलाब 100 से लेकर 150 रुपये किलो तक बिक रहा है। वहीं गेंदा 70 रुपये से लेकर 80 रुपये किलो तक बिक रहा है। फूल विक्रेताओं ने बताया कि फूलों के दाम सहालग में और बढ़ जाते हैं।

बारिश न होने से फूलों की खेती पर पड़ा असर
गांव मुहम्मदाबाद के चंदन माली करीब डेढ़ बीघा में गुलाब और गेंदा की फसल लगाए हैं। कम बारिश होने से फूलों की खेती में इस बार कुछ भी पैदावार नहीं हुई है। चंदन का कहना है कि पानी के लिए कोई वैकल्पिक साधन न होने से इस बार पौधों में बहुत कम फूल निकले हैं। फूल कृषक चंदन का कहना है कि अबकी बार तो गेंदे के पौधे ही पानी की कमी से सूख गए हैं। जिससे इस बार उनकी लगाई गई 15 हजार की लागत भी नहीं निकली।

सहालग में पैसा कमाने की उम्मीद संजोए किसानों को लगा झटका
अमर उजाला ब्यूरो

Spotlight

Most Read

National

सियासी दल सहमत तो निर्वाचन आयोग ‘एक देश एक चुनाव’ के लिए तैयार

मध्य प्रदेश काडर के आईएएस अधिकारी और झांसी जिले के मूल निवासी ओपी रावत ने मंगलवार को मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यभार संभाल लिया।

24 जनवरी 2018

Rohtak

बिजली बिल

24 जनवरी 2018

Rohtak

नेताजी

24 जनवरी 2018

Related Videos

बगैर जांच के नौकर रखने वाले सावधान, औरैया में लूट की फिराक में धरे गए पांच बदमाश

दुकानों या घरों में नौकर रखने वाले जरा सावधान हो जाएं। बिना जांच पड़ताल के रखे गए नौकर आपकी जान के दुश्मन बनकर आपकी संपत्ति भी लूट सकते हैं। औरैया पुलिस ने एक ऐसे ही मामले का खुलासा कर एक व्यापारी के नौकर के चेहरे का नकाब उतार फेंका है।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper