विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
घर बैठे इस पितृ पक्ष गया में पूरे विधि-विधान एवं संकल्प के साथ कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति
Astrology Services

घर बैठे इस पितृ पक्ष गया में पूरे विधि-विधान एवं संकल्प के साथ कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

'रात को मेरी पत्नी से चैटिंग करते हैं एसपी साहब', पीड़ित पति ने की डीजीपी से शिकायत

आगरा जिले में तैनात एक एसपी लखनऊ की महिला से फोन पर प्यार भरी बातें करते हैं।

17 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

औरैया

मंगलवार, 17 सितंबर 2019

हिंदी ज्यादातर देशों के महाविद्यालयों में पढ़ाई जाने वाली भाषा, हमारे लिए गौरव

दिबियापुर (औरैया)। हिंदी दिवस पर शनिवार को जिले भर में जगह-जगह विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। एनटीपीसी व सेंट जोसेफ स्कूल में भी हिंदी दिवस पर कई कार्यक्रम हुए। इस दौरान हिंदी में कार्य करने के लिए प्रेरित किया गया। छात्र-छात्राओं ने कवि सम्मेलन एवं रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर खूब वाहवाही लूटी।
एनटीपीसी औरैया के कर्मचारी विकास केंद्र में हिंदी दिवस एवं हिंदी पखवाड़ा समारोह का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि अपर महाप्रबंधक संजय कुमार बाल्यान व विभागाध्यक्षों ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम की शुरूआत की। मुख्य अतिथि संजय कुमार बाल्यान ने सभी को हिंदी में कार्य करने के लिए प्रेरित किया। वक्ताओं ने कहा कि हिंदी भारत की आत्मा है, भाषा एवं राष्ट्र का गौरव बनाए रखना हम सभी का परम कर्तव्य है।
मुख्य वक्ता पूर्व प्राचार्य डॉ. धर्मेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि हिंदी ज्यादातर देशों के महाविद्यालयों में पढ़ाई जाती है। यह हमारे लिए गौरव की बात है। उन्होंने बताया कि हिंदी में विज्ञान और तकनीकी शब्दकोष विकसित किया गया है। विश्व भाषाओं में हिंदी को तीसरा स्थान प्राप्त है।
इधर, एनटीपीसी स्थित सेंट जोसेफ में आयोजित कार्यक्रम में फादर मैनेजर जेम्स पालेकल ने हिंदी दिवस पर कहा कि हिंदी हमारी मातृभाषा है। छात्र छात्राओं ने हिंदी दिवस पर हिंदी भाषा के बारे में बताया। छात्र छात्राओं ने कहा कि हिंदी भाषा का अधिकाधिक प्रयोग करना चाहिए। इस अवसर पर छात्र छात्राओं ने कवि सम्मेलन एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए।
... और पढ़ें

एक भी बच्चा छूटा-सुरक्षा चक्र टूटा

औरैया। पल्स पोलियो अभियान को लेकर शनिवार को जागरूकता रैली निकाली गई। रैली फेरी का शुभारंभ डीएम ने हरी झंडी दिखाकर किया। उन्होंने अधिकारियों को पांच वर्ष तक के बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाने के निर्देश दिए।
रैली नगर पालिका इंटर कॉलेज से शुरू होकर संयुक्त जिला चिकित्सालय में समाप्त हुई। रैली में कई विद्यालयों के छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे। छात्र अपने हाथों में जागरूकता संदेश लिखी हुई तख्तियां लेकर दो बूंद दवा, पोलियो हवा, एक भी बच्चा छूटा, सुरक्षा चक्र टूटा, दो बूंद हर बार पोलियो पर जीत रहे हर बार, दो बूंद पीओ पोलियो मुक्त होकर जियो जैसे नारे लगाते हुए मुख्यमार्गो पर भ्रमण किया। सीएमओ डा.एके राय ने बताया कि 15 सितंबर को बूथ पर पोलियो की दवा पिलाई जाएगी।
जिले में लगभग 2.59 लाख बच्चों पोलियो खुराक पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। 442 टीमें 16 से 20 सितंबर तक स्वास्थ टीम घर-घर जाकर पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। नगरीय और ग्रामींण क्षेत्र में कुल 824 बूथ बनाए गए हैं। 18 मोबाइल टीमें अभियान की निगरानी करेंगी। 158 पर्यवेक्षकों को लगाया गया।
सहार में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर पल्स पोलियो अभियान की ब्लॉक स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक चिकित्सा अधीक्षक डा.राकेश सिंह की अध्यक्षता में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहार में हुई। चिकित्सा अधीक्षक ने पल्स पोलियो अभियान में बूथ वाले सभी विद्यालय समय से खोले जाने, विद्यालयों में एमडीएम बनवाया जाने पर जोर दिया गया। ब्लाक में 95 बूथ बनाए गए हैं। जिनमें बूथ दिवस वाले दिन पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। इस कार्य के लिए 17 पर्यवेक्षक भी लगाए गये हैं 16 सितंबर से डोर टू डोर चलने वाले कार्यक्रम के लिए 50 टीमें बनाई गई हैं। बैठक के बाद पल्स पोलियो अभियान को लेकर एक रैली निकाली गई। रैली में डा. रिजवान, महेशचंद्र, शिवेन्द्र शुक्ला आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

यमुना उफनाई, चेतावनी बिंदु से 27 सेमी दूर बह रही

औरैया/अजीतमल/अयाना। दो दिन तक जलस्तर में ठहराव के बाद शनिवार को यमुना फिर उफना उठी। कोटा बैराज से दो दिन पहले तीन लाख क्यूसिक छोड़ा गया पानी शनिवार को औरैया पहुंचा। इसके चलते शनिवार शाम आठ बजे चेतावनी बिंदु 112 मीटर के निशान से पानी मात्र 27 सेमी दूर रह गया है। उधर, जल स्तर बढ़ने से अजीतमल क्षेत्र के ग्राम गोहानी कला में संपर्क मार्ग पर पानी भर जाने से ग्रामीणों को गांव से बाहर आने के लिए पानी में घुसकर गुजरना पड़ रहा है। पानी बढ़ने से अजीतमल विकास खंड के लगभग 12 से अधिक गांव के ग्रामीण एक बार फिर से चिंता में पड़ गए हैं। हालांकि जिला प्रशासन का कहना है कि पानी पिछले बार जितना ही बढ़ा है। ऐसे में वह लगातार सतर्कता बनाए हुए हैं।
केंद्रीय जल आयोग कर्मचारियों के मुताबिक शनिवार की शाम आठ बजे की गई माप-जोख में पानी ने पैमाने पर 112 मीटर चेतावनी बिंदु के समीप पहुंचते हुए 111.73 मीटर पर पहुंच बना ली है। बताया कि नदी में खतरे का निशान 113 मीटर पर है। उधर प्रति घंटे सात से 11 सेमी बढ़ रहा जल स्तर जल्द ही खतरे के निशान के भी पार होने की संभावना बनती दिख रही है।
अजीतमल तहसील क्षेत्र में यमुना नदी का जल स्तर एक दिन कम होने के बाद दोबारा फिर से बढना शुरू हो गया है। जिससे यमुना नदी के किनारे बसे गांव सिकरोड़ी, गुहानी कला, गुहानी खुर्द, जाजपुर, असेवटा, असेबा, जुहीखा, बडेरा, गूंज ततारपुर, बबाईंन, नगला, भूरेपुर कला आदि के ग्रामीणों के माथे पर फिर से चिंता की लकीरें उभर आई हैं। पानी बढ़ने से गांवों की हजारों हेक्टयर भूमि जलमग्न हो गई है। वहीं गौहानी कलॉ संपर्क मार्ग पर फिर से पानी भर गया है। इसके चलते लोगों का आवागमन बंद हो गया है। राजस्व टीमें लगातार गांव में डेरा डाले हुए हैं।
एसडीएम अजीतमल राशिद अली खान ने बताया की शनिवार की दोपहर तक पानी का स्तर कम हो रहा था। तभी अचानक शाम को बढ़ने लगा। उन्होंने बताया की बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए बनाई गई चौकियों पर तैनात कर्मचारियों को सर्तक रहने व राजस्व टीमों को लगातार नजर रखने के सख्त आदेश दिए गए हैं। अयाना क्षेत्र में यमुना नदी का जलस्तर पुन: बढ़ने से यमुना नदी किनारे बसे गांव बीझलपुर, भरतौल, असेवा, फरिहा, ततारपुर, खेरा डांडे, सिखरना गांव के लोगों की चिंता बढ़ गई है।
... और पढ़ें

बाइक सवार दंपति को लूटने का प्रयास

औरैया। सदर कोतवाली क्षेत्र के दिबियापुर रोड स्थित बिरिया गांव के सामने बाइक सवार चार दबंगों ने पत्नी के साथ बाइक पर जा रहे युवक के तमंचा सटा दिया। लूट की घटना की आशंका होने पर वह चीखने लगा। इस पर दबंगों ने महिला की मारपीट करते हुए उसे चाकू मार दिया और युवक की भी जमकर पिटाई की। चीखने की आवाज सुनकर राहगीर एकत्रित हो गए। उन्हें आते देख दबंग मौके से फरार हो गए। पीड़ित ने कोतवाली में मामले की तहरीर दी है।
इटावा जनपद के ग्राम रामनगर निवासी नरेंद्र सिंह सोमवार को सुबह अपनी पत्नी पूजा देवी तथा पांच माह के बच्चे के साथ बाइक से अपने बहनोई के घर ग्राम गाजीपुर थाना दिबियापुर बच्ची की दवा लेने जा रहा था, तभी पीछे से दो बाइक सवार चार लोग आए और उसे रोकने का प्रयास किया, लेकिन उसने गाड़ी भगा दी। बिरिया गांव के पास बाइक सवार गंभीर सिंह पुत्र सुखराम निवासी रामनगर व भोदल पुत्र मक्खन निवासी कृपालपुर थाना बसरेहर ने उसे रोक लिया।
इसके बाद उसे तमंचा सटा दिया। पीड़ित ने बताया कि आरोपित उसके साथ लूटपाट करने का प्रयास कर रहे थे। विरोध करने पर उन लोगों ने उसकी पत्नी पूजा की मारपीट शुरू कर दी, तभी एक व्यक्ति ने उसकी पत्नी के चाकू मार दिया। मारपीट होते देख आसपास मौजूद लोग आ गए। उन्हें आते देख आरोपित मौके से फरार हो गए। महिला को अस्पताल में भर्ती कराया। पीड़ित ने कोतवाली में मामले की तहरीर दी है। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक शंशाक राजपूत का कहना है कि तहरीर प्राप्त हो गई है। मामले की जांच की जा रही है। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

पुलिस के साथ मारपीट एवं एक आरोपी को छुड़़ा ले जाने में 28 के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

दिबियापुर (औरैया)। रामगढ़ शराब के ठेके के पास रविवार की शाम शराब पीकर हंगामा करने के बाद आरोपियों ने पुलिस के साथ मारपीट की। पुलिस की पकड़ में आए चार में से एक आरोपी को आरोपियों ने छुड़ा लिया। हरचंदपुर चौकी इंचार्ज की तहरीर पर आठ नामजद एवं 20 अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हुई है। तीन आरोपियों को पुलिस ने जेल भेज दिया है। मारपीट की इस घटना में होमगार्ड घायल हुआ है।
हरचंदपुर चौकी इंचार्ज अमित राठौर ने दिबियापुर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उन्हें रविवार शाम सूचना मिली थी कि रामगढ़ शराब के ठेके के पास 20-25 लोग हंगामा कर रहे हैं। मौके पर पहुंचा तो देखा कि नितिन राजपूत निवासी सकटू पुरवा, दिलीप उर्फ दिवारीलाल निवासी हरचंदपुर, भानू सेंगर निवासी रामगढ़, सोनू ठाकुर उर्फ जितेंद्र निवासी रामगढ़, हरीओम राजपूत निवासी ग्राम चांवरपुर अजीतमल, राजवीर निवासी रामगढ़, शिवम उर्फ बाला निवासी झपटियापुर, रंजीत राजपूत निवासी अज्ञात एवं 15-20 अन्य गाली गलौज एवं हंगामा कर रहे थे। उन्हें रोका तो आरोपी हमलावर हो गए और पुलिस पर लाठी-डंडों से हमला किया।
पुलिस ने नितिन राजपूत, दिलीप, भानू सेंगर एवं सोनू को पकड़ लिया। इस पर शेष अन्य आरोपी हंगामा करने लगे और पकड़े गए आरोपियों को छुड़ाने लगे। इस बीच एक आरोपी सोनू ठाकुर को उसके साथी छुड़ा ले गए। प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार शुक्ला के अनुसार मारपीट की इस घटना में होमगार्ड रामनारायण घायल हुआ है। उसका उपचार कराया गया है।
हरचंदपुर चौकी की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। पकड़े गए तीन आरोपियों को जेल भेजा गया है। इधर, रामगढ़ स्थित बियर ठेका विक्रेता नीतू पुत्र मुकेश कुमार निवासी लालगांव रसूलाबाद कानपुर देहात ने नितिन राजपूत, सोनू सेंगर व अन्य आए और जबरन घुसकर दुकान के अंदर से दो पेटी बियर निकालने की रिपोर्ट दर्ज कराई है।
... और पढ़ें

पेंट की दुकान से लाखों का माल पार किया

औरैया। सदर कोतवाली क्षेत्र में हाईवे पर बीती रात जिला पंचायत अध्यक्ष की मील से सटी पेंट की दुकान का शटर उचकाकर चोर 45 हजार रुपये नगद व कई लाख का सामान उठा ले गए। यह वारदात एसपी आवास से महज दो सौ मीटर की दूरी पर हुई। इस घटना को लेकर व्यापारियों में खासा आक्रोश है। घटना की सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस व फारेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच की और सुबूत इकट्ठा किए।
हाईवे पर मोहल्ला सत्तेश्वर तिलक नगर स्थित गुरुदयाल प्रसाद संतोष कुमार एंड संस की पेंट्स की दुकान है। रविवार की रात चोरों ने शटर उचकाकर व ताले तोड़कर दुकान में रखे 45 हजार रुपये नगद समेत करीब साढ़े सात लाख रुपये का माल पार कर दिया।
दुकानदार सौरभ पोरवाल व शरद पोरवाल को वारदात की जानकारी सोमवार की सुबह करीब पौने छह बजे उधर से टहलने निकले एक व्यक्ति ने फोन पर दी। सूचना मिलते ही उक्त भाई मौके पर पहुंचे और कोतवाली पुलिस को घटना की जानकारी दी। सूचना मिलने पर पहुंचे प्रभारी इंस्पेक्टर कोतवाली निरीक्षक शशांक राजपूत ने मौके पर जांच की। साथ ही फारेंसिक टीम को बुलाकर सैंपल भी जमा कराए। घटना के संबंध में शरद पोरवाल ने बताया कि चोर दुकान में रखी नगदी समेत साढ़े सात लाख रुपये का माल ले गए हैं।
शहर में हुई इस चोरी की घटना को लेकर व्यापारियों में खासा आक्रोश है। आक्रोशित व्यापारियों ने क्षेत्र में ध्वस्त सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एसपी से इसकी जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।
पीड़ित दुकानदार शरद पोरवाल ने बताया कि लगभग 20-25 दिन पहले ही उनकी दुकान पर माल लाने वाले डीसीएम की रात में अज्ञात बदमाशों ने बैटरा खोलने का प्रयास किया। भनक लगते ही जागने पर चालक ने जब विरोध किया तो कार सवार चार-पांच बदमाशों ने उसकी जमकर धुनाई की और बैटरा भी पार कर दिया।
... और पढ़ें

मंडलीय वॉलीबाल प्रतियोगिता में कानपुर का रहा दबदबा

अजीतमल (औरैया)। मंडलीय माध्यमिक वॉलीबाल प्रतियोगिता का आयोजन सोमवार को श्रीजनता इंटर कालेज अजीतमल के क्रीड़ा प्रांगण में किया गया। वॉलीबाल प्रतियोगिता में कानपुर का दबदबा रहा। प्रतियोगिता का शुभारंभ सदर विधायक औरैया रमेश दिवाकर ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलित कर किया। उन्होंने कहा कि अगर खिलाड़ियों की कोई समस्या हो तो जनप्रतिनिधियों को बताए उनका निराकरण किया जाएगा।
प्रतियोगिता की शुरूआत सब जूनियर बालिका वर्ग में औरैया व कानपुर नगर के मध्य मैच से हुआ। इसमें कानपुर नगर की टीम 2.0 से विजयी रही। सब जूनियर बालक वर्ग में पहला सेमीफाइनल औरैया व कानपुर में हुआ, जिसमें औरैया 2.0 से विजयी रहा। दूसरा सेमीफाइनल फर्रूखाबाद व कन्नौज के मध्य हुआ, जिसमें कन्नौज 2.0 से विजयी रहा। फाइनल औरैया व कन्नौज के मध्य खेला गया, जिसमें औरैया ने 2.1 सेट से विजय हासिल की।
सीनियर बालिका वर्ग में पहला सेमीफाइनल इटावा व कन्नौज के मध्य हुआ, जिसमें इटावा 2.1 से विजयी रहा। दूसरा सेमीफाइनल औरैया व कानपुर नगर के मध्य हुआ, जिसमें कानपुर नगर 2.1 से विजयी रहा। फाइनल मैच इटावा व कानपुर नगर के मध्य हुआ, जिसमें कानपुर नगर 2.0 से विजयी रहा। सीनियर बालक वर्ग में पहला सेमीफाइनल इटावा व औरैया के मध्य हुआ, जिसमें औरैया 2.0 सेट से विजयी रहा। दूसरा सेमीफाइनल कन्नौज व कानपुर नगर के मध्य हुआ, जिसमें कानपुर नगर 2.0 से विजयी रहा। फाइनल मैच औरैया व कानपुर नगर के मध्य खेला गया, जिसमें कानपुर नगर 2.0 से विजयी रहा। मंडलीय वॉलीबाल प्रतियोगिता में बालक वर्ग में 10 व बालिका वर्ग में 06 कुल 16 टीमों ने प्रतिभाग किया।
कार्यक्रम के समापन अवसर पर जिला विद्यालय निरीक्षक राजू राणा और विद्यालय के प्रधानाचार्य कृष्णमोहन उपाध्याय ने विजेता व उपविजेता टीमों को ट्राफी व सभी विजेता व उपविजेता टीमों के प्रतिभागियों को मेडल पहनाकर सम्मानित किया गया। विद्यालय के प्रधानाचार्य कृष्ण मोहन उपाध्याय व जिला क्रीड़ा सचिव आयोजन मंत्री होशियार सिंह ने उपस्थित अतिथियों का माल्यार्पण एव बैज अलंकरण व स्मृति चिन्ह भेंट करके स्वागत व सम्मान किया। प्रतियोगिताओं में मुख्य निर्णायक सोनेलाल मिश्रा राष्ट्रीय खिलाड़ी, अवनीश सिंह भदौरिया, शशि भूषण सिंह सेंगर, विवेक दुबे, पवन कुमार नायक, सुरेन्द्र प्रकाश पाठक, मनीष मिश्रा, श्रीकृष्ण, विजय बहादुर सिंह चौहान, रघुराज सिंह यादव, रजपाल सिंह, मोहित यादव, भानू दुबे, भूपदीप सिंह आदि शामिल रहे।
... और पढ़ें

सूने पड़े घर से जेवरात ले गया युवक

सहायल (औरैया)। गांव पहाड़पुर में सूने मकान से एक युवक ने 40 हजार रुपये कीमत के जेवर पार कर दिए। घटना के समय गृहस्वामी परिवार के साथ खेत पर धान की फसल में पानी लगाने गया था। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है।
सहायल थाना क्षेत्र के गांव पहाड़पुर निवासी श्याम बिहारी पुत्र शिवरत्न ने सोमवार को पुलिस को तहरीर दी है कि वह पत्नी व बच्चों के साथ शुक्रवार को खेत पर धान की फसल में पानी लगाने गया था। तभी गांव के नरेंद्र पुत्र श्री प्रकाश ने घर सूना पाकर अलमारी में रखा एक मंगलसूत्र, दो जोड़ी तोड़िया व कई जोड़ी बिछिया पार कर दिया। युवक जेवर आदि लेकर घर से निकल रहा था, तभी भाई की पत्नी ने देख लिया और उन्हें सूचना दी। परिजनों ने घर पहुंचकर देखा तो अलमारी में रखे जेवर गायब थे।
आरोपी युवक से पूछा तो वह लड़ने पर आमादा हो गया। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर लिया है। थाना प्रभारी निरीक्षक सोमेंद्र सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर मामले की जांच की जा रही है। युवक को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।
... और पढ़ें

पूर्वांचल बैंक में चोरों ने लगाई सेंध

ककोर (औरैया)। दिबियापुर थाना क्षेत्र के ककोर बुजुर्ग गांव में मुख्य बाजार में स्थित पूर्वांचल बैंक की शाखा में बीती रात चोरों ने दीवार में सेंध लगाकर चोरी करने का प्रयास किया। दो दिन की छुट्टी के बाद तीसरे दिन सोमवार को बैंक खुला, तब बैंक स्टॉफ को वारदात की जानकारी हुई। सूचना मिलते ही एसपी सुनीति फोर्स के साथ मौके पर पहुंची और जानकारी ली। बैंक की सेफ में लगे लॉक का हैंडिल टूटा मिला है। हालांकि कितना रुपया चोरी गया, अभी इसकी अधिकारिक रूप से पुष्टि नहीं हो पाई है। बैंक प्रबंधक सुंदर लाल विद्यार्थी ने दिबियापुर थाने में चोरी की तहरीर दी है।
ककोर बुजुर्ग गांव में पूर्वांचल बैंक की शाखा ककोर बुजुर्ग निवासी राकेश कुमार त्रिपाठी के मकान में है। शनिवार और रविवार को बैंक बंद था। सोमवार को सुबह बैंक का चपरासी रंजीत कुमार अपनी पत्नी के साथ बैंक की सफाई करने पहुंचा तो पीछे की ओर दीवार में पर सेंध लगी देखा। उसने तत्काल बैंक के प्रबंधक सुंदर लाल विद्यार्थी को इसकी जानकारी दी। सूचना मिलते ही बैंक स्टॉफ व दिबियापुर थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई। एसपी सुनीति, अपर पुलिस अधीक्षक कमलेश दीक्षित और सीओ सिटी श्योदान सिंह भी मौके पर पहुंचे। एसपी सुनीति ने बैंक में लगी सेंध को देखा और पीछे की ओर स्थित तालाब का मुआयना किया। साथ ही घटना का जल्द खुलासा करने का आदेश दिया।
बैंक प्रबंधक सुंदर लाल विद्यार्थी का कहना है कि बैंक की सेफ में लगे लॉक का घुमाने वाला हैंडिल टूटा हुआ है। लॉक सही सलामत है, गोदरेज कंपनी से बैंक का अनुबंध है, गोदरेज कंपनी ही बैंक को लॉक देती है। गोदरेज कंपनी को सूचना भेजी गई है। सेफ खुलने पर ही पता चल सकेगा कि कितनी रकम चोरी हुई है। दिबियापुर थाने में तहरीर दे दी है। उधर, शाम तकरीबन चार बजे कानपुर से गोदरेज कंपनी के कर्मचारी राम सनेही ने बैंक पहुंचकर सेफ का लॉक खोलने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं खुला। राम सनेही ने बताया कि गैस कटर से काटने पर ही सेफ खुल सकेगी।
बैंक में 14 से 15 फिट की ऊंचाई पर सेंध लगाई गई है। चोरों ने जिस तरह से बैंक की दीवार में सेंध लगाई है, उससे ऐसा प्रतीत हो रहा है कि यह काम एक रात का नहीं है। बैंक के पीछे तालाब है, वहां कोई आता जाता भी नहीं है। इसलिए चोरों ने सेंध लगाने के लिए वहीं स्थान चुना। अनुमान लगाया जा रहा है कि सेंध लगाने के लिए लगातार दो रात काम किया गया। चपरासी ने दीवार में सेंध देखी तो सेंध में कपड़ा बंधा मिला है।
बैंक प्रबंधन की एक और चूक सामने आई है। पुलिस अफसरों ने बैंक के सीसीटीवी कैमरे में फुटेज देखना चाहा तो वह बंद मिला। बैंक के प्रबंधक ने बताया कि शाम पांच बजे के बाद बैंक बंद होते ही सीसीटीवी कैमरे भी बंद हो जाते हैं। इसी दौरान एएसपी कमलेश दीक्षित पूर्वांचल बैंक के बगल में ही स्थित सेंट्रल बैंक शाखा की सुरक्षा व्यवस्था परखी। वहां मौजूद बैंक प्रबंधक रविकांत से सायरन बजाने को कहा तो सायरन के तार टूटे पाए गए।
... और पढ़ें

पॉलिथीन के विरोध में निकाली जन-जागरूकता रैली, बांटे कपड़े के बैग

औरैया। समाजसेवी संस्था एक विचित्र सेवा समिति के तत्वावधान में रविवार को शहीद पार्क से पॉलिथीन के विरोध में जन जागरूकता रैली निकाली गई है। रैली में समाजसेवियों ने लोगों को पॉलिथीन के प्रयोग से होने वाले नुकसान के बारे में जानकारी दी। साथ ही 500 कपड़े के बैग वितरित कर लोगों से उनका प्रयोग करने की अपील की। रैली में शामिल लोग पॉलिथीन हटाओ पर्यावरण बचाओ का नारा लगात हुए चल रहे थे।
जन जागरूकता रैली को सदर विधायक रमेश चंद्र दिवाकर ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने कहा कि पॉलिथीन का बढ़ता उपयोग वर्तमान व भविष्य दोनों के लिए खतरनाक होता जा रहा है, लोगों को इसके उपयोग से बचने की जरूरत है। सुभाष चौराहे पर सभा के दौरान समिति के संस्थापक आनंदनाथ गुप्ता ने कहा कि समूचा जनमानस पॉलिथीन और प्लास्टिक के उपयोग में जकड़ा हुआ है, पॉलिथीन बैग में सामान लेकर लोग घरों को जाते है। इससे पॉलिथीन से निकलने वाला केमिकल उनके शरीर में पहुंचकर असाध्य, गंभीर व लाइलाज बीमारियों को जन्म देता है। वहीं, मवेशियों की पॉलिथीन निगलने से मौत हो रही है।
रैली शहीद पार्क से प्रारंभ होकर सुभाष चौक, इटावा रोड, संजय गेट, गुरुहाई मुहाल, संकट मोचन मार्ग, गुमटी लेडीज मार्केट, हलवाई खाना, होमगंज, सदर बाजार, तहसील चौराहा व दिबियापुर रोड होते हुए शहीद पार्क पहुंचकर समाप्त हुई। रैली के दौरान जितेंद्र सिंह तोमर ने पॉलिथीन के विकल्प के रूप में 500 कपड़े के थैले संगठन को उपलब्ध कराए, जिन्हें संस्था के सदस्यों ने ठेली वालों व अन्य लोगों को वितरित किया। रैली में संयोजक सुनीता गहोई व अभिषेक गोयल के अलावा डॉ. एसएस परिहार, गोपाल गुप्ता, विशाल दुबे, अमित यादव, अनूप विश्नोई, डॉ. उपेंद्रनाथ मिश्रा, ब्रह्म कुमार पांडेय, मीरा गुप्ता, छैया त्रिपाठी, रानू पोरवाल, मनोज आढ़ती, डॉ. सक्षम सेंगर, पंकज मिश्रा, कपिल गुप्ता, अर्पित गुप्ता, केएन गुप्ता, वैभव शुक्ला, महेंद्र गुप्ता, अनुराग गुप्ता व ज्ञान सक्सेना आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

औरैया: चोरों ने बैंक में दीवार काट कर उड़ाया माल, बैंक को नहीं पता कितनी रकम ले गए चोर

यूपी के औरैया जिले में रविवार की रात चोरों ने बैंक को अपना निशाना बनाया। औरैया में पूर्वांचल बैंक की ककोर शाखा में चोरों ने पहले दीवार काटी और फिर उसी के रास्ते बैंक के अंदर दाखिल हुए। चोर कितनी रकम लेकर गए है। अभीतक बैंक के अधिकारियों ने इसकी पुष्टि नहीं की है। 

 सुबह जब बैंक खोला गया तो घटना की जानकारी हुई।  आनन फानन में पुलिस को घटना की सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस और फॉरेसिक टीम ने जांच शुरु कर दी है। औरैया एसपी सुनीति ने भी मौके पर पहुंच कर घटना की जांच की।

जिस जगह से चोर बैंक में दाखिल हुए उस जगह का भी निरीक्षण किया गया। बताया जा रहा है कि बैंक में मौजूद रकम की गिनती होने के बाद ही पता चल सकेगा कि चोर कितना रूपया लेकर गए हैं।
... और पढ़ें

किसान का शव नाले में पड़ा मिला

अछल्दा (औरैया)। खेत की रखवाली करने गए किसान का शव रविवार की सुबह खेत के पास स्थित नाले में पड़ा मिला। ग्रामीणों से सूचना मिलने पर अछल्दा थाने की पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मौत की वजह का पता नहीं लग सका है।
अछल्दा थाना क्षेत्र के गांव नंदपुर निवासी दिनेश सिंह (35) पुत्र अतर सिंह खेती किसानी करता है। उसके पिता अतर सिंह की 25 बीघा खेती है। इस पर इस बार धान की फसल की बुआई की थी। वह रोजाना खेत पर जाकर अन्ना मवेशियों से रखवाली करता था। शनिवार की शाम तकरीबन छह बजे वह खेत की रखवाली करने के लिए घर से निकला था। देर रात तक घर नहीं लौटा तो परिजनों को चिंता हुई। इसके बाद परिजनों ने आसपास के लोगों से जानकारी की, लेकिन कुछ पता नहीं चला।
रविवार को सुबह गांव के कुछ लोग उसके खेत के पास गए तो देखा खेत के पास नाले में उसका शव पड़ा हुआ था। ग्रामीणों ने इसकी सूचना अछल्दा थाने की पुलिस को दी। सूचना मिलने पर एसओ अछल्दा दिनेश कुमार बिंद फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। जांच के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। इस संबंध में एसओ ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारण का पता चलेगा। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। परिजनों ने भी किसी पर भी आशंका नहीं जताई है।
गांव नंदपुर निवासी अतर सिंह के चार पुत्र थे। बड़ा पुत्र रामवीर बाहर प्राइवेट नौकरी करता था, वहीं पर उसकी आठ साल पहले हत्या कर दी गई थी। दूसरे पुत्र श्याम उर्फ पप्पू ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। अब शनिवार को दिनेश की भी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। चौथे पुत्र कल्लू की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। इससे अब परिवार की आर्थिक संकट आ गया है। पिता भी वृद्ध अवस्था में हैं, जिनकी हालत काम करने लायक नहीं है।
... और पढ़ें

खतरे का निशान पार गई यमुना, खेत हुए जलमग्न

औरैया/अजीतमल/अयाना। कोटा बैराज से पानी छोड़े जाने के बाद उफनाई यमुना रविवार को खतरे का निशान 113 मीटर को पार कर गई है। रविवार को तड़के यमुना का जलस्तर बढ़ना शुरू हुआ। शाम पांच बजे 113.68 मीटर पर जलस्तर पहुंच गया। केंद्रीय जल आयोग के कर्मचारियों के मुताबिक यमुना में लगातार बढ़ रहा जलस्तर 115 मीटर का भी आंकड़ा पार कर सकता है।
उधर, जलस्तर तेजी से बढ़ने को लेकर जिला प्रशासन सतर्क है। एसडीएम सदर ने बाढ़ प्रभावित गांवों का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया। वहीं, रविवार को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने पहुंचे सदर विधायक को बाढ़ राहत चौकियों पर तैनात कर्मचारी नदारद मिले। वहीं, जानकारी मिली है कि गांव अस्ता का संपर्क मार्ग डूब गया है। इससे लोगों को आवाजाही में दिक्कत हो रही है। गांव सिकरोड़ी में यमुना का पानी मुख्य मार्ग पर आ गया है। इसके चलते गढ़ा कसदा (इटावा) जिले का अजीतमल से संपर्क कट गया है।
कोटा बैराज से सात लाख क्यूसिक पानी और छोड़े जाने की जानकारी मिली है। इसके बाद से यमुना का जलस्तर तेजी से बढ़ना शुरू हुआ है। शनिवार से यमुना का जलस्तर बढ़ना शुरू हुआ और दूसरे दिन रविवार को भी जारी रही। प्रति घंटे सात से 11 सेमी जलस्तर बढ़ने के चलते रविवार को तड़के नदी में बने पैमाने पर 113 मीटर खतरे का निशान पार कर लिया। केंद्रीय जल आयोग कर्मचारियों के अनुसार जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। कोटा बैराज के सभी गेट खोल दिए जाने के चलते पानी बहुत ही तेजी से बढ़ने की उम्मीद है।
बताया कि 115 मीटर का आंकड़ा पार होने की संभावना दिख रहीं हैं। अभी हाल ही में 19 अगस्त को यमुना नदी में पानी ने खतरे के निशान 113 मीटर को पार कर 113.89 मीटर तक पहुंच गई थी। उन्होंने बताया कि अब तक औरैया जिले में आई बाढ़ में 25 अगस्त 1996 को सबसे ज्यादा 118.19 मीटर तक पहुंचा था जल स्तर। केंद्रीय जल आयोग कर्मचारियों के अनुसार रविवार की शाम पांच बजे यमुना नदी में जल स्तर ने पैमाने पर 113.68 मीटर के निशान को भी पार कर लिया है।
उधर, एसडीएम सदर अनुपम शुक्ला ने तहसीलदार सदर राजकुमार के साथ यमुना नदी किनारे बसे ग्राम अस्ता का दौरा किया। बताया कि पानी बढ़ने के चलते ग्राम का संपर्क मार्ग डूब गया है। इससे लोगों को आवाजाही में दिक्कत हो रही है। ऐसे में एक नाव की व्यवस्था कर दी गई है। साथ ही जरूरी दवाओं का भी इंतजाम करा दिया गया है। राशन के लिए भी कोटेदार को आवश्यक निर्देश जारी कर दिए गए हैं।
अयाना प्रतिनिधि के मुताबिक यमुना नदी का जलस्तर बढ़ने से बीझलपुर, सिखरना, सढनापुर, भरतौल, असेवा, जुहीखा, खेरा डांडे के ग्रामीण खौफजदा हैं। खास बात यह है कि इन बाढ़ प्रभावित गांवों में अभी तक कोई भी अधिकारी नहीं पहुंचा है। बाढ़ के चलते इन यहां के किसानों की सैकड़ों हेक्टेअर जमीन जलमग्न हो गई है। वहीं, अजीतमल प्रतिनिधि के मुताबिक गांव सिकरोड़ी में यमुना नदी का पानी मुख्य मार्ग पर आ गया है। इसके चलते गढ़ा कसदा (इटावा) जिले का अजीतमल से संपर्क टूट गया है। रविवार को तहसीलदार संध्या शर्मा ने बाढ़ क्षेत्र का दौरा किया। प्रभावित परिवारों को घर खाली करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा की कोई भी व्यक्ति अपने घर में नहीं रुकेगा और राशन पानी लेकर पास के ही स्कूल और मंदिर में बनाए गए राहत शिविरों में ठहरेगा। अजीतमल में किसानों की सैकड़ों हेक्टेयर जमीन पर खड़ी बाजरा आदि की फसल पूरी तरह से जलमग्न हो गई है। हालत यह है की लोग अपने घर से बाहर नहीं निकल सकते है। यमुना का पानी जाजपुर गांव तक पहुंच रहा है। गांव में जाने के लिए कोई भी रास्ता नहीं बचा है।
वहीं, सदर विधायक रमेश दिवाकर ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने बाढ़ राहत के लिए बनाई गईं चौकियों का भी निरीक्षण किया। वहां पर उन्हें कोई भी कर्मचारी मौजूद नहीं मिला। बाढ़ चौकियों के स्थान पर ताला लटका मिला। इस पर सदर विधायक ने डीएम अभिषेक सिंह से शिकायत कर बाढ़ राहत में लगे कर्मचारियों की जांच कर कार्रवाई करने की बात कही।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree