आपका शहर Close

विधानसभा चुनाव 2017: फाइनल नतीजे

मासूम के जन्म से पहले मर गई संवेदना

अमर उजाला ब्यूरो, इलाहाबाद

Updated Tue, 20 Jun 2017 02:17 AM IST
Sensual death before birth

इलाहाबादPC: अमर उजाला ब्यूरो, इलाहाबाद

सूबे में स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर होने का दावा करने वाले जमीनी हकीकत से बेखबर हैं। घर में किलकारी सुनने की आस लगाए आदिवासी किसान सिर्फ इसलिए टूट गया कि उसकी प्रसव पीड़िता पत्नी को गांव में समय से इलाज नहीं मिला। मासूम के जन्म से पहले ही संवेदना का मर जाना गरीब के परिवार पर भारी पड़ गया। मृत शिशु को जन्म देकर मां गंभीर हालत में आईसीयू में भर्ती है। बेबस पिता कलेजे के टुकड़े का शव गोद में लेकर एंबुलेंस के लिए भटका, मिन्नते कीं, कोई नहीं पसीजा। फिर बेबस पिता चिलचिलाती गर्मी में नवजात का शव लेकर एसआरएन अस्पताल से आठ किलोमीटर की दूरी तय कर संगम घाट पहुंचा और अंतिम क्रिया कर फूट-फूटकर रोया। उसके गले से बस यही बोल फूटे कि गांव में इलाज मिल जाता तो बच्ची बच जाती।
जिला मुख्यालय से करीब 80 किलोमीटर दूर खीरी इलाके के कल्याणपुर में रहने वाले आदिवासी किसान सूबे लाल की गर्भवती पत्नी रन्नो को रविवार को अचानक प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। वह पत्नी को खीरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले गया। वहां दिन में ही डॉक्टर नहीं थे, वार्ड ब्वाय ने भर्ती करने से मना कर दिया। फिर वह पत्नी को यहां से 30 किलोमीटर दूर कोरांव स्वास्थ्य केंद्र ले गया। यहां भी डॉक्टर नहीं मिले। पास स्थित एक निजी अस्पताल में भी उसकी पत्नी को उपचार नहीं मिला। पत्नी की पीड़ा से परेशान सूबेलाल ने आननफानन में टेंपो वाले को मनाया और भाड़ा तय कर शहर आया। शहर में बेली अस्पताल में उसे भर्ती करने से मना कर दिया गया।

बेली से निराश होकर वह जिला महिला चिकित्सालय डफरिन पहुंचा। यहां भी मामला गंभीर देख उसे टरका दिया। डॉक्टरों की सलाह मानकर घंटों भटका सूबेलाल रात में करीब एक बजे पत्नी को लेकर एसआरएन अस्पताल पहुंचा। तब तक रन्नों की हालत गंभीर हो चुकी थी। डॉक्टरों ने रन्नो को भर्ती किया और

उपचार शुरू किया। इस बीच परीक्षण में पता चल गया कि रन्नो की कोख में पल रहा बच्चा नहीं रहा। सोमवार सुबह रन्नों का ऑपरेशन किया गया। उसने मृत बच्ची को जन्म दिया। गंभीर हालत में उसे आईसीयू में भर्ती कराया गया लेकिन उसे नहीं मालूम होने दिया गया कि उसकी कोख उजड़ चुकी है। पिता के हाथों में मृत शिशु आया तो वह रो पड़ा। उसे संगम घाट तक जाने के लिए एंबुलेंस नहीं मिली। बताया गया कि सरकारी एंबुलेंस मरीज लाने के लिए है, पहुंचाने के लिए नहीं। साफ है कि सूबे लाल की जेब खाली थी इसलिए सुनवाई नहीं हुई।

रोते बिलखते आदिवासी सूबे लाल व्यवस्था को कोसते हुए पैदल ही नवजात की अंतिम क्रिया करने निकल पड़ा। तेज धूप और चिलचिलाती गर्मी में उसने गोद में नवजात का शव लेकर आठ किलोमीटर की दूरी तय की। संगम के निकट गंगा घाट पर बेटी का परंपरा के मुताबिक प्रवाहित कर अंतिम संस्कार किया।

मामला गंभीर है, स्वास्थ्य केंद्रों पर प्रसव पीड़िता का उपचार नहीं किया गया। स्वास्थ्य केंद्र या अस्पताल से ही एंबुलेंस बुलाकर प्रसव पीड़िता को भेजना चाहिए था। पूरे मामले की जांच कराई जाएगी। जिसकी लापरवाही मिली, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी- डॉ. आलोक वर्मा , सीएमओ
 
Comments

स्पॉटलाइट

SEX स्कैंडल में पकड़ीं एक्ट्रेस ने खोला बॉलीवुड का काला सच, 50 हजार में जिस्म परोसने को मजबूर हीरोइनें

  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

सर्दियों में ऑफिस में लगना है स्टाइलिश, तो करीना कपूर से ऐसे लें स्टाइल टिप्स

  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

सेक्स रैकेट में पकड़ी गई एक्ट्रेस का नाम आ गया सामने, एक कस्टमर से लिए जाते थे 50 हजार रुपए

  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: शादीशुदा होते हुए भी गौरी को दिल दे बैठे थे, सुलझे हितेन की उलझी हुई है लव स्टोरी

  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: बाहर आकर हितेन ने खोली शिल्पा, हिना की पोल, अर्शी की 'मोहब्बत' पर दिया खूबसूरत जवाब

  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

Most Read

6 वर्षीय बच्चे के साथ दो किशोर ने किया सामूहिक कुकर्म 

six years old boy sodomized by two minors
  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

पड़ा छापा तो पता चला की गेस्ट हाउस में चल रहा था देह व्यापार का धंधा

sex racket caught in guest house
  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

लड़की की गोद भराई से पहले उड़ गए घरवालों के होश

rajasthan jaipur- Thieves steal jewelry Before Wedding Ceremonies
  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

बेटी ने सुनाई नशे में धुत बाप की 'हैवान‌ियत की कहानी'

drunk father beating mom every day
  • शनिवार, 16 दिसंबर 2017
  • +

जब 'दूल्हा बना दरोगा', दोस्तों ने इस कदर मचाया उत्पात कि थाने पहुंची बात

firing in marriage ceremony of police inspector
  • शनिवार, 16 दिसंबर 2017
  • +

छात्र को अगवाकर ट्रेनी दरोगा ने मांगी 2.80 लाख की फिरौती

छात्र को अगवा कर ट्रेनी दरोगा ने मांगी 2.80 लाख
  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!