विज्ञापन
विज्ञापन

पुलिस के सामने युवक की गोली मारकर हत्या

Agra Bureauआगरा ब्यूरो Updated Tue, 10 Jul 2018 09:56 PM IST
ख़बर सुनें
मैनपुरी/दन्नाहार। दन्नाहार थाना क्षेत्र के गांव केशोपुर में मंगलवार को जानलेवा हमले के आरोपी को पकड़ने गई पुलिस के सामने ही आरोपी ने वादी पक्ष के युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। इस दुस्साहस के बाद पुलिस के भी पसीने छूट गए। आनन-फानन में युवक को जिला अस्पताल लाया गया। यहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने हत्यारोपी को घटनास्थल से ही गिरफ्तार कर लिया। वहीं, मृतक के परिजन और पुलिस के बीच जिला अस्पताल में जमकर नोकझोंक हुई।
विज्ञापन
विज्ञापन
थाना क्षेत्र के गांव केशोपुर निवासी विमलेश और रणवीर सिंह के बीच जमीन को लेकर रंजिश चल रही है। करीब एक माह पूर्व रणवीर ने विमलेश के भाई को गोली मारकर घायल कर दिया था। मामले में आरोपी और उसके साथियों के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कराया गया था। मंगलवार को थाना पुलिस वादी के भाई विमलेश को साथ लेकर आरोपी के वारंट लेकर गिरफ्तारी के लिए गांव पहुंची। पुलिस को सूचना मिली थी कि आरोपी घर पर ही है। पुलिस के साथ पीड़ित के भाई विमलेश को आया देखकर रणवीर ने आपा खो दिया। आरोप है कि उसने पुलिस की मौजूदगी की परवाह किए बगैर विमलेश के गोली मार दी। अचानक हुए इस घटनाक्रम से एकबारगी पुलिस भी सहम गई। पुलिस ने संभलने के साथ ही गोली मारकर भाग रहे रणवीर को गिरफ्तार कर लिया।

वहीं, पुलिस की एक टीम विमलेश को लेकर जिला अस्पताल की ओर दौड़ गई। जिला अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सकों ने विमलेश को मृत घोषित कर दिया। हादसे की जानकारी मिलने के बाद मृतक के परिजन व ग्रामीण जिला अस्पताल में जमा हो गए। आरोप लगाया कि पुलिस एक माह से खुलेआम घूम रहे आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर रही थी। अगर पुलिस कार्रवाई करती तो विमलेश की जान बच सकती थी। वहीं पुलिस की मौजूदगी के बीच वादी के भाई की हत्या से गांव सनसनी फैल गई है। दोनों पक्षों के बीच एक बार फिर से तनाव का माहौल बन गया है। उधर जिला अस्पताल में कोतवाली पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखने के लिए कब्जे में लेने की कोशिश की तो परिजन और पुलिस के बीच नोकझोंक हो गई।

दन्नाहार। गांव केशोपुर में जानलेवा हमले के आरोपी ने पुलिस मौजूदगी में ही वादी के भाई की गोली मारकर हत्या कर दी। पूरे घटनाक्रम के दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी रही। वहीं स्थानीय लोगों की मानें तो एक बार तो पुलिसकर्मी भी सहम गए। गांव केशोपुर में दिनदहाड़े पुलिस के सामने हुई इस घटना से साबित हो रहा है कि जिले में अपराधी बेखौफ हैं। उन्हें न तो पुलिस का भय है न हीं कार्रवाई का खौफ, तभी तो पुलिस के सामने ही वारदात को अंजाम देने से भी बाज नहीं आ रहे हैं। मैनपुरी। गांव केशोपुर में वादी के भाई की गोली मारकर हत्या के बाद पुलिस शव को जब मोर्चरी में रखने लगी तो मृतक परिजन व ग्रामीण बिफर गए। स्ट्रेचर को पकड़ने के साथ ही काफी देर तक शव को मोर्चरी में न रखने को लेकर विवाद करने लगे। मृतक पक्ष के लोग कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थे। काफी देर बाद पुलिस के समझाने पर परिजनों ने शव को मोर्चरी में रखने दिया। शव रखने के बाद पुलिस ने कागजी कार्रवाई शुरू की।

Recommended

UP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।
UP Board 2019

UP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019
ज्योतिष समाधान

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Agra

शादी समारोह में खाना खाने से 150 लोग बीमार, अस्पताल में नहीं बची जगह, एक बेड पर 2-2 मरीज

फिरोजाबाद के गांव जखारा में 150 से अधिक बराती फूड प्वाइजनिंग का शिकार हो गए। इनमें बड़े-बुजुर्ग, युवक व बच्चे शामिल हैं।

22 अप्रैल 2019

विज्ञापन

अलीगढ़ के रोडवेज दफ्तर में छलके जाम, वीडियो वायरल

उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के अलीगढ़ डिपो में कर्मचारियों के शराब पीने का वीडियो हुआ वायरल। देखें वीडियो।

21 अप्रैल 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election